सनम पर शायरी | Sanam Shayari

Sanam Shayari

Sanam Shayari Status Quotes in Hindi – सनम की चाहत हर युवा में होती हैं. सनम की चाहत में आशिक हर हद से गुजर जाते हैं. किसी को जिंदगी भर की खुशियाँ मिलती है तो किसी को जिदंगी भर का गम मिलता है.

इस पोस्ट में बेहतरीन रोमांटिक सनम शायरी, सनम सैड शायरी, बेदर्दी सनम शायरी, सनम की याद शायरी, सनम जी पर शायरी, Romantic Shayari on Sanam, Sanam Shayari 2 Line, Bedardi Sanam Shayari, Sanam Ki Yaad Shayari, Sanam Je Par Shayari, Sanam Sad Shayari, Suno Sanam Shayari आदि इस पोस्ट में जरूर पढ़े.

सनम पर शायरी | Sanam Shayari

नादानियाँ तो देखिये मेरे दिल की,
आज उस बेवफ़ा की ख़ुशी के लिए दुआ की.


दो बातें हो सकती है सनम तेरे इन्कार की,
दुनिया का डर है या कद्र नहीं मेरे प्यार की.
Sanam Shayari


बहुत खूबसूरत इस दुनिया के नजारे हो गये,
जिस पल से ऐ सनम हम तुम्हारे हो गये.


बिना आहत के इन आँखों से दिल में उतरते हो,
वाह!!! सनम क्या लाजवाब इश्क़ करते हो.
Sanam Shayari


काबिलें तारीफ़ है मेरी सनम की अदायें,
ना…ना कहना और फिर शरमा कर बाहों में आना.


Romantic Shayari on Sanam

सनम तेरे इश्क़ की चाहत दिल में लिए फिरते हैं,
जब सामने आती हो तो कहने से क्यों डरते हैं.


दिल ये मेरा तुमसे प्यार करना चाहता है,
अपनी मोहब्बत का इजहार करना चाहता है.
देखा है जब से तुम्हें ऐ मेरे सनम
ये दिल सिर्फ़ तुम्हारा ही दीदार करना चाहता है.
Sanam Shayari


ऐ सनम जिसने तुझे चाँद सी सूरत दी है,
उस मालिक ने ही मुझे भी मोहब्बत दी है.


बाहों में तुझे भर लू ऐ सनम,
खेलू मैं तेरे जज्बातों से
आज नींद ना आये मेरे सनम को
कह दूँगी मैं रातों से.
Sanam Shayari


तेरी आरजू मेरा ख्वाब है ऐ सनम,
जिसका रास्ता बहुत खराब है,
मेरे जख्म का अंदाजा तू न लगा
दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है.


सनम शायरी

तुम्हारी कसम मेरे सनम अब हिम्मत नहीं हारेंगे,
मर जायेंगे मगर तेरे सिवा किसी और को नहीं चाहेंगे.


महफ़िल भी सजी है सनम भी है,
हम कंफ्यूज है इश्क करे या शायरी.
सनम शायरी


दिल में सनम की सूरत
आँखों में आशिकी दे,
मेरे खुदा मुझे तू
एक और जिदंगी दे…


Sanam Ki Yaad Shayari

जा जाके मेरे सनम को बता
उनकी यादों में कैसे जी रहा हूँ,
जबसे गई है मुझे छोड़कर
ख़ुशी में पार्टी पे पार्टी दे रहा हूँ.
सनम शायरी


एक वो बाहों में आके मेरे तेरा मचलना,
वो बलखाके तेरा गिरना और सम्भलना,
फिर याद आई है मुझको तेरी सनम
वो पल पल में तेरा तेवर बदलना.


वफ़ा के नाम से मेरे सनम अनजान थे,
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे,
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला
हम खुद बेवफ़ा के नाम से बदनाम थे.
सनम शायरी


जिनसे थे मेरे नैन मिले,
बन गये थे जिन्दगी के सिलसिले,
इतना प्यार करने के बाद भी
सनम मेरे बेवफा निकले.


Sanam Sad Shayari

सनम के बिना जीना अधूरी सी लगती हैं,
ये जिन्दगी, जिन्दगी नही मजबूरी सी लगती हैं.


नजरों को अपनी तू मेरी नजरों में डाल दे,
हो जाऊं लाजवाब कुछ ऐसा सवाल दे
मुद्दत से मेरे दिल में जो चुभता रहा सनम
अपने तसव्वुरात का कांटा निकाल दे.
Sanam Shayari


दर्द थे जो मेरे वो तेरे दर्द बन गये,
मुझे माफ़ कर दे सनम
हम तेरे बहते आँसुओं की वजह बन गये.
सनम शायरी


नादानी की हद तो देखों मेरे सनम की,
मुझे खो कर, मेरे जैसा ढूंढ रही हैं.


वादा है तुझसे ऐ मेरे सनम,
प्यार रहेगा तुझसे जिदंगी से ज्यादा सनम
Romantic Shayari on Sanam


Sanam Ji Par Shayari

मत रख हमसे वफा की उम्मीद
ऐ सनम हमने हरदम बेवफ़ाई पाई है,
मत ढूंढ हमारे जिस्म पर जख्म के निशाँ
हमने हर चोट दिल पे खाई हैं.


ख्याल रखा करो अपना क्योंकि मेरे पास,
सनम तुम सा कोई और नहीं है.


अब तो आ ही गया चाँद,
सनम तुम भी आ जाओ,
बनकर धड़कन दिल में मेरे
ऐ मेरे चाँद तुम समा जाओ.
सनम शायरी


कभी पत्थर के ख़ुदा,
कभी पत्थर के इंसान
तो कभी पत्थर के सनम मिले
जिन्दगी के अनजान मंजिल
के हर मोड़ पर नाम
बदल-बदल के गम मिले.


मेरे स्टेटस को इतने सिद्दत से न पढो ऐ सनम,
अगर दिल में उतर गये तो याद बहुत आयेंगे.


Sanam Shayari 2 Line

माना ऐ सनम प्यार का इजहार करने नहीं आता,
पर जज्बात न समझ सको… तुम इतने नादान नहीं.


दिल से तुझे अपने लगा लूँ,
आ सनम तुझे अपना बना लूँ,
कहीं मुझे हो ना जाए देरी
आ तुझे तुझसे ही चुरा लूँ.
Sanam Shayari


जो दिल तोड़े उसे क्या फर्क पड़ता है,
जिसका दिल टूटे उसे तड़पना पड़ता है.


ऐ सनम कभी किसी के जज्बातों का मजाक न बनाना,
ना जाने कौन सा दर्द लेकर कोई जी रहा होगा.


Suno Sanam Shayari

ऐ सनम जब तुम्हें मेरी कदर होगी,
तब बहुत देरी हो चुकी होगी.
Romantic Shayari on Sanam


कोई नहीं था और न होगा,
तेरे जितना मेरे दिल के करीब.
सनम शायरी


कुछ तो तरस करो ऐ सनम,
इतना तड़पना तो मेर किस्मत में न था.
Sanam Shayari


मुझमे कमियाँ लाख निकाल तू,
पर मेरी बनकर इन्हें सम्भाल तू.
सनम शायरी


सच्ची मोहब्बत को सनम नहीं मिलते है,
दगाबाज के साथ मैंने सनम देखा है.


Bedardi Sanam Shayari

तेरी आरजू में सनम हम दीवाने हो गये,
तुझे अपना बनाते बनाते बेगाने हो गये.


ख़ुशबू आ रही है कहीं मेरे सनम के मोहब्बत की,
लगता है उन्होंने मेर हक की मोहब्बत कहीं और बिखेर दी.


आज बहुत मेहरबान हो सनम क्या चाहते हो,
हमे पाना चाहते हो या किसी को जलाना चाहते हो.


ख़ुशबू तेरे प्यार की महकाएं मुझे,
तेरी हर बात समन बहकाएं मुझे.


दिल की नाजुक धड़कनों को मेरे सनम
तुमने धड़कना सिखा दिया,
जब से मिला है तेरा प्यार दिल को
गम में भी मुस्कुराना सिखा दिया.


इसे भी पढ़े –

आशा करता हूँ इस पोस्ट में दिए बेहतरीन सनम शायरी ( Sanam Shayari ) आपको जरूर पसंद आयें होंगे. आप अपने शायरी को मेरे वेबसाइट पर पब्लिश कर सकते हैं. अपनी शायरी को हमारे ईमेल आई.डी. पर जरूर भेजे.