RIP Shayari Status Quotes Message in Hindi

RIP Shayari Status Quotes Message SMS Thoughts Image in HindiRIP का फुल फॉर्म Rest in Peace ( आत्मा को शांति मिले ) होता है. इस आर्टिकल में रिप शायरी स्टेटस कोट्स मेसेज एसएमएस मेसेज इमेज आदि दिए हुए है.

RIP Shayari in Hindi

अटल है इक दिन हर कोई
दुनियाँ को छोड़कर जाएगा
यह मानव शरीर भी नश्वर,
पर यूँ असमय किसी का जाना
अन्याय सा लगता है ईश्वर ।।
वेदप्रकाश वेदांत


शब्द नहीं कुछ कहने को
कहाँ गए तुम रहने को
भारी पीड़ा दिल में लेकर
अब दुख ही है बस सहने को ।।
वेदप्रकाश वेदांत


RIP Status in Hindi

सुख और दुःख शब्दों से नहीं व्यक्त होते है,
यह दोनों भाव और भावना से व्यक्त होते है.


जीवन की इस यात्रा में मृत्यु आखिरी मंजिल है,
फिर क्यों शोक, दुःख, आँसू से भरा मेरा दिल है.


जिनके जाने से सारे दुनिया रोती है,
ऐसे लोगो में कर्म की महानता होती है.


RIP Quotes in Hindi

बुझ गया इस सदी का दीपक
किस दुनिया से उसने यारी कर ली
अपनों को रंजोगम देकर
अपनी दुनियाँ न्यारी कर ली
कोई तो वजह बता दो क्यूँ
आज हो खोये खोये तुम
आँखमूदकर इत्मिनान से
हो गहरी नींद में सोए तुम ।।
वेदप्रकाश वेदांत


जिम्मेदारी का बोझा
हर प्राणी को ढ़ोना पड़ता है
ऊपर बैठा मालिक जिसे बुलाये
हाज़िर होना पड़ता है ।।
वेदप्रकाश वेदांत


RIP Message in Hindi

आँखों में बरसात हो रही
दिल में बड़ी तन्हाई है
जबसे तेरे असमय जाने की
मेरे यार ख़बर मैंने पाई है ।
अंतिम बार मिला था हँसके
पर आज बोल क्यूँ मौन है
कहाँ गया तू किससे मिलने
बोल ऊपर तेरा कौन है !!
वेदप्रकाश वेदांत


इतनी गहरी नींद में
भला सुलाता कौन है यार
रो रोकर हमारा बुरा हाल है
भला इतना रुलाता कौन है यार।
अपने चाहने वालों से कुछ
तो उठकर बोल दे यार
जाने कबसे सोया है
अब तो आँखें खोल दे यार ।।
वेद प्रकाश वेदांत


RIP SMS in Hindi

याद बहुत आओगे
ओ जाने वाले सुन लो
क्या मेरे बिन रह पाओगे
ओ जाने वाले सुन लो
दग़ा देने की उम्मीद हम
ज़माने से लगाये थे
पर तुम ही दग़ा दे गए
ओ जाने वाले सुन लो ।।
वेदप्रकाश वेदांत


धरती से इक गया है तारा
उसे प्रकाशित करते रहना
स्वर्ग बख़्सना उस तारे को
प्रभु पीड़ा उसकी हरते रहना ।।
वेदप्रकाश वेदांत


रिप शायरी

कर्म में बाजी मार गए तुम
पर किस्मत से हार गए तुम
पतवार लिए उतरे सागर में
ना जाने किस पार गए तुम !!
वेद प्रकाश वेदान्त


दुनियाँ को छोड़कर जाने वाले
सच्ची श्रद्धांजलि लेते जाओ
यहाँ तो दुख के बादल हैं छाये
सुख अपने साथ तुम लेते जाओ
ईश्वर के पथ के राही हो अब तुम
हम सबको आशिष देते जाओ
दुनियाँ को छोड़कर जाने वाले
सच्ची श्रद्धांजलि लेते जाओ ।।
वेदप्रकाश वेदांत


RIP Thoughts in Hindi

शाम ढले जब रैन चढ़े
सबको घर आना पड़ता है
जिसके नाम की स्वर्ग से
चिट्ठी आयी उसको
असमय जाना पड़ता है ।।
वेदप्रकाश वेदांत


इसे भी पढ़े –

Latest Articles