Poem on Gram Pradhan Chunav in Hindi | ग्राम प्रधान चुनाव पर कविता

Poem on Gram Pradhan Chunav in Hindi – इस आर्टिकल में ग्राम प्रधान चुनाव पर कविता दी गई है. आशा करता हूँ कि आपको पसंद आयेगी.

जहाँ राजनीति है, वहाँ भ्रष्टाचार है. ग्राम प्रधान चुनाव अब एक बड़ा चुनाव बन चुका है. हर मजबूत उम्मीदवार लगभग 10-15 लाख रूपये तक खर्च करते है. चुनाव जीतने के बाद भ्रष्टाचार करके खूब पैसा कमाते है. चुनाव में जितने उम्मीदवार खड़े होते है. सब जनता और गरीबों से बड़े-बड़े वादे करते है. लेकिन बाद में सब मुकर जाते है. गाँव की तरक्की हो या न हो लेकिन पांच साल ग्राम प्रधान अपनी तरक्की खूब करते है.

सरकार को और चुनाव आयोग को इन मुद्दों पर ध्यान देना चाहिए. उन्हें कुछ नियम और क़ानून ऐसे बनाने चाहिए ताकि भ्रष्टाचार कम से कम हो सके. सरकार द्वारा दिए जाने वाला लाभ गरीबों तक पहुँच सके.

Poem on Gram Pradhan Chunav in Hindi

ग्राम प्रधान चुनाव से पहले
दीन-हीन बनकर जनता के सामने आते है,
खुद को बड़ा ईमानदार बताते है,
जरूरत पड़ने पर पैसा भी लुटाते है,
एक-एक वोट के लिए बड़ा कष्ट उठाते है,
सीधे-सादे लोगो को अपने वादों की जाल में फंसाते है,
चुनाव होने तक हाथ जोड़े नजर आते है,
फिर बड़ी मुद्दत बाद वो घड़ी आती है,
नेता जी ग्राम प्रधान चुन लिए जाते है.

- Advertisement -

उसके बाद बड़ी जोर-शोर से जश्न मनाया जाता है,
फिर पैसा कमाने के लिए दिमाग लगाया जाता है,
गरीबों के आवास पैसा खाकर अपना घर बनवाया जाता है,
शौचालय बनाने का पैसा खाकर बड़ी-बड़ी गाड़ी मगाया जाता है.

गाँव का विकास हो या न हो
मगर प्रधान जी खूब तरक्की करते है,
अपनी सारी ख्वाहिश
पांच साल में ही पूरे करते है.

प्रधान जी कुछ दिन गाँव वालों के आगे हाथ जोड़े,
अब गाँव वाले प्रधान जी के आगे हाथ जोड़ते है,
गरीबों का पैसा खाकर उन्हें ईश्वर के भरोसे छोड़ते है,
गरीबों के आस, उम्मीद और विश्वास को तोड़ते है.

फिर ग्राम प्रधान का चुनाव आने वाला है,
वर्तमान प्रधान के हृदय गति को बढ़ाने वाला है,
पांच साल इन्होंने सिर्फ लूटा है,
जनता का विश्वास खूब टूटा है,
पैसे का लालच दिखाने लगे है,
दुनिया पैसे से चलती है बताने लगे है,
चुनाव से पहले सब ईमानदार दिखते है,
चुनाव जीतने के बाद धीरे-धीरे बिकते है.

प्रधान चुनाव में शिक्षित युवा उम्मीदवार बनकर आयें,
खुद को ईमानदारी की राह पर चलकर दिखायें,
गरीब और अनपढ़ों के लिए मिसाल बन जायें,
देश की तरक्की में अपना योगदान बढ़ायें.


इसे भी पढ़े –

Latest Articles