गाँधी जयंती पर शायरी | Gandhi Jayanti Shayari

Gandhi Jayanti Shayari in Hindi

Gandhi Jayanti Shayari Status Quotes Poem Poetry in Hindi – प्रतिवर्ष 2 अक्टूबर को “गाँधी जयंती” मनाई जाती है. इस आर्टिकल में बेहतरीन गाँधी जयंती शायरी ( Gandhi Jayanti Shayari ) दिए हुए हैं. इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े. इन्हें अपना Facebook और Whatsapp स्टेटस बनाएं. गांधी जयंती के शुभ अवसर पर इसे अपने दोस्तों, परिवार वालों और रिश्तेदारों के साथ जरूर शेयर करें.

कोई युद्ध बिना हथियार या बिना खून बहायें नहीं जीता जा सकता है, किन्तु गांधी जी ने भारत के स्वतंत्रता की लड़ाई सत्य और अहिंसा के बल पर लड़ी. गांधी जी के विरोध करने का तरीका बड़ा ही अनोखा होता था जिसके कारण अंग्रेजी हुकूमत भी उनके आगे नतमस्तक हो जाती थी.

महात्मा गाँधी एक ऐसे विचार है जो कभी मरते नहीं है. गाँधी लाखों करोड़ों लोगो के दिलों में आज भी जिन्दा है और भविष्य में भी जिन्दा रहेंगे. सत्य और अहिंसा ऐसा अस्त्र है जिससे पूरे समाज का भला होता है.

गाँधी जयंती शायरी, महात्मा गांधी पर शेरो शायरी, महात्मा गाँधी की शायरी, महात्मा गांधी पर शायरियां, गाँधी पर शेर, गाँधी जयंती स्टेटस, गाँधी जयंती स्टेटस हिंदी, महात्मा गांधी शायरी हिंदी, महात्मा गांधी की शायरी, महात्मा गांधी शेर शायरी, महात्मा गाँधी शायरी इन हिंदी, महात्मा गांधी पर सुविचार, गाँधी जयंती शायरी 2019 आदि इस पोस्ट में दिए हुए हैं.

गाँधी जयंती पर शायरी | Gandhi Jayanti Shayari

जब महात्मा गांधी का जन्म दिवस आता हैं,
हृदय शत-शत नमन करने को झुक जाता हैं.


सत्य अहिंसा का पाठ पढ़ाया है,
बापू ने पूरे विश्व में भारत का मान बढ़ाया है.


सत्य का तेल अंहिसा की बाती,
अमर ज्योति जलती रहे,
तेरे पदचिन्हों पर बापू,
दुनिया सारी चलती रहे.
Gandhi Jayanti Shayari


सच्चाई का शस्त्र लेकर,
और अहिंसा का अश्त्र लेकर,
तूने देश अपना बचाया ,
गोरों को था दूर भगाया,
दुश्मन से प्यार किया,
मानव पर उपकार किया,
गाँधी करते तुझे नमन,
तुझे चढ़ाते प्रेम-सुमन।
Happy Gandhi Jayanti


जितने लोग गांधी के खिलाफ़ बोल रहे है,
सब उनकी तस्वीर जेब में लिए घूम रहे है.
हैप्पी गाँधी जयंती


धोती वाले बापू की
ये ऐसी एक लड़ाई थी,
न गोले बरसाये उन्होंने
न बन्दूक चलाई थी
सत्य-अहिंसा के बल पर ही
दुश्मन को धूल चटाई थी.
हैप्पी गाँधी जयंती


कहाँ गयी वो तेरी अहिंसा,
कहाँ गया वो प्यार,
गांधी तेरे देश में
ये कैसा अत्याचार.
Happy Gandhi Jayanti


Gandhi Jayanti Shayari 2019

गाँधी जयंती शायरी | Gandhi Jayanti Shayari | महात्मा गाँधी की शायरी | Gandhi Jayanti Shayari 2019

महानायक वो आजादी का
अटल अहिंसावादी था,
गोरों को भारत से मार भगाया
जिसके तन पर वस्त्र खादी था.


सत्य और अहिंसा के ताकत को जिसने समझाया,
इसका प्रयोग कर पूरी दुनिया को दिखाया.
हैप्पी गाँधी जयंती


राष्ट्रपिता है गांधी जी,
महात्मा है गांधी जी,
साबरमती के संत भी कहलाते है गांधी जी,
बिना शस्त्र उठाये देश को आजादी दी
अहिंसा की राह पर सदा चले गांधी जी.


दे दी हमे आज़ादी
बिना खडग बिना ढाल
साबरमती के संत
तूने कर दिया कमाल
Happy Gandhi Jayanti


अहिंसा का पुजारी,
सत्य की राह दिखने वाला,
ईमान का पाठ पढ़ा गया हमें,
वो बापू लाठी वाला.
Gandhi Jayanti Shayari


गाँधी जयंती पर शायरी 2019

G = Great
A = Amazing
N = Nationalist
D = Daring
H = Honest
I = Indain
Happy Gandhi Jayanti


गांधी जी के सपनों को फिर से सजाना हैं,
लहू का एक-एक कतरा देकर इस देश को बचाना हैं,
बहुत गाये आजादी के गीत हमने
अब हमें भी दिल से देशभक्ति का फ़र्ज निभाना हैं.
गाँधी जयंती की ढेर सारी शुभकामनाएं


अहिंसा का वो पुजारी,
जिसने हिम्मत नहीं हारी,
कुर्बान कर दी अपनी जान को
जिसका जन जन है आभारी.
Happy Gandhi Jayanti


दुबला-पतला साधारण सा वेश था,
वो कभी नहीं करते थे अभिमान
खादी की एक धोती पहनते थे
जो बढ़ाती थी बापू की शान.
Happy Gandhi Jayanti


गांधी जयंती पर पूरी दुनिया से यहीं कहना है,
जिन्दगी का हर जंग सत्य और अहिंसा से जीतना है.
हैप्पी गाँधी जयंती


Gandhi Shayari in Hindi

रघुपति राघव राजाराम
पतित पावन सीताराम
ईश्वर अल्लाह तेरे नाम
सबको सन्मति दे भगवान
Gandhi Jayanti Shayari in Hindi


देश के लिए जिसने ऐशो आराम को ठुकराया था
त्याग विदेशी वस्त्र उसने खुद ही खादी बनाया था
पहन के काठ के चप्पल जिसने आजादी का गीत गाया था
देश का था वो अनमोल दीपक जो महात्मा कहलाया था
हैप्पी गांधी जयंती


2 October Gandhi Jayanti Shayari | Gandhi Jayanti Shayari | गाँधी जयंती शायरी

जब जन जन बोला सत्य अहिंसा की बोली,
तब गली-गली जली विदेशी कपड़ो की होली.
हैप्पी गाँधी जयंती


गांधी एक विचार है,
विचार कभी मर नहीं करते हैं,
गांधी हमारे दिलों-दिमाग में
हमेशा जिन्दा रहेंगे.
Happy Gandhi Jayanti


देखो कहीं बरबाद ना होए ये बगीचा
इसको हृदय के खून से बापू ने है सींचा
हम लाए हैं तूफ़ान से कश्ती निकाल के
इस देश को रखना मेरे बच्चों सम्भाल के
हैप्पी गांधी जयंती


गाँधी जी की शायरी

जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का
पग-पग लगता डेरा
वो भारत देश है मेरा
Gandhi Jayanti Shayari in Hindi


कर्म ही मेरी पूजा हैं,
खादी मेरी शान है,
सच्चा मेरा करम है
और हिन्दुस्तान मेरी जान हैं.
गाँधी जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं


सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलकर देखों,
तुम्हारी जिन्दगी में आएगी बहार ही बहार,
गांधी जयंती पर दिल खोलकर करों जय जय कार.


ओ परम तपस्वी परम वीर,
ओ सुकृति शिरोमणि, ओ सुधीर,
कुर्बान हुए तुम, सुलभ हुआ सारी दुनिया को ज्ञान,
बापू तुम हो महान, जन्मदिवस पे हम आपको करें शत-शत प्रणाम.


अंग्रेजों के सामने झुके नहीं,
ख़ुद से उनको ये आस था,
शरीर में ताकत नहीं थी,
पर मन में आजादी का विश्वास था.
Happy Gandhi Jayanti


बापू पर शायरी

गांधी जी के ख़्वाबों को सच कर दिखाना है
देकर लहू का कतरा इस देश को बचाना है
बहुत भाषण दिया और आजादी के गाने गायें
परअब हमें भी देशभक्ति का फ़र्ज़ निभाना है
हैप्पी गाँधी जयंती


भारत के गौरव, भारत की शान
गांधी जी थे व्यक्ति महान
दुश्मन भी जिसका करते थे मान
भारत का जन जन जिसका करता है सम्मान
ऐसे महात्मा गांधी के चरणों में मेरा शत शत प्रणाम.
हैप्पी गाँधी जयंती


जिन्दगी में तुम अपने हमेशा ये याद रखना,
सत्य और अहिंसा के जज्बात रखना.
हैप्पी गाँधी जयंती


गाँधी जयंती पर कविता

दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
आँधी में भी जलती रही गाँधी तेरी मशाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल

धरती पे लड़ी तूने अजब ढंग की लड़ाई
दागी न कहीं तोप न बंदूक चलाई
दुश्मन के किले पर भी न की तूने चढ़ाई
वाह रे फ़कीर खूब करामात दिखाई
चुटकी में दुश्मनों को दिया देश से निकाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल

शतरंज बिछा कर यहाँ बैठा था ज़माना
लगता था मुश्किल है फ़िरंगी को हराना
टक्कर थी बड़े ज़ोर की दुश्मन भी था ताना
पर तू भी था बापू बड़ा उस्ताद पुराना
मारा वो कस के दांव के उलटी सभी की चाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल

जब जब तेरा बिगुल बजा जवान चल पड़े
मज़दूर चल पड़े थे और किसान चल पड़े
हिंदू और मुसलमान, सिख पठान चल पड़े
कदमों में तेरी कोटि कोटि प्राण चल पड़े
फूलों की सेज छोड़ के दौड़े जवाहरलाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल

मन में थी अहिंसा की लगन तन पे लंगोटी
लाखों में घूमता था लिये सत्य की सोंटी
वैसे तो देखने में थी हस्ती तेरी छोटी
लेकिन तुझे झुकती थी हिमालय की भी चोटी
दुनिया में भी बापू तू था इन्सान बेमिसाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल

जग में जिया है कोई तो बापू तू ही जिया
तूने वतन की राह में सब कुछ लुटा दिया
माँगा न कोई तख्त न कोई ताज भी लिया
अमृत दिया तो ठीक मगर खुद ज़हर पिया
जिस दिन तेरी चिता जली, रोया था महाकाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल
दे दी हमें आज़ादी बिना खड्ग बिना ढाल
साबरमती के सन्त तूने कर दिया कमाल


गाँधी की राह पर चलने वाला,
सत्य-अहिंसा की बात कहने वाला,
एक नए युग को जीता है
गाँधी के आदर्शों को मानने वाला.
Happy Gandhi Jayanti


जो सत्य अहिंसा की ताकत को पहचानता है,
वो महात्मा गाँधी के बताएं मार्ग पर चलता है.
हैप्पी गाँधी जयंती


Gandhi jayanti 2019 shayari collection in hindi language, Happy Gandhi jayanti shayari , Best shayari on gandhi jayanti in hindi, Gandhi ji par shayari, bapu ke samman me shayari, Gandhi jayanti par shayari, Gandhi ji par shayari, Mahatma gandhi ji 2 october shayari in hindi, Gandhi ji ki shayari, 2 october shayari, Gandhi Jayanti Status, gandhi jayanti 2019 status in hindi.

इस पोस्ट में गांधी जयंती 2019 पर बेहतरीन शायरी दिए हुए हैं. आशा करता हूँ कि आपको ये शायरी पसंद आयें होंगे. आप अपने विचारों को ईमेल के माध्यम से हमारे साथ साझा कर सकते हैं. इस वेबसाइट को बेहतर बनाने के लिए अपने सुझाव जरूर भेजे.

इसे भी पढ़े –