महत्मा गांधी बेस्ट कोट्स | Mahatma Gandhi Best Quotes

Mahatma Gandhi Quotes

मोहनदास करमचन्द गांधी भारत एवं भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के एक प्रमुख राजनैतिक एवं आध्यात्मिक नेता थे. इनके जीवन का मुख्य सिद्वांत अहिंसा था. भारत को आजाद करने में गांधी जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा और लोग इन्हें प्यार से महात्मा गांधी कहते थे. प्रति वर्ष 2 अक्टूबर को गांधी जी का जन्म दिन भारत में “गांधी जयंती” के रूप में और पूरे विश्व में “अन्तर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस” के नाम से मनाया जाता है

गांधी जी का संक्षिप्त जीवन परिचय

नाम – मोहन दास गांधी (पूरा नाम – मोहनदास करमचंद गांधी)
जन्म – 02 अक्टूबर 1869
जन्म स्थान – पोरबंदर, काठियावाड़, गुजरात, भारत
मृत्यु – 30 जनवरी 1984 (75 वर्ष की आयु में)
राष्ट्रीयता – भारतीय
अन्य नाम – महात्मा गान्धी, बापु, गांधीजी
शिक्षा – युनिवर्सिटी कॉलिज, लंदन
प्रसिद्धि कारण – भारतीय स्वतंत्रता संग्राम
राजनैतिक पार्टी – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
धर्म -हिन्दू
जीवनसाथी – कस्तूरबा गांधी
बच्चे – हीरालाल गांधी, मणिलाल गाँधी, रामदास गांधी और देवदास गांधी
पिता – करमचंद गाँधी
माता – पुतलीबाई

महत्मा गांधी कोट्स इन हिंदी | Mahatma Gandhi Quotes in Hindi

  1. आप आज क्या करते हैं इस पर भविष्य निर्भर करता हैं.
  2. सच्चे, नम्र और निडर बनो.
  3. दूसरो के बुरे विचारो को मैं अपने मन के अंदर नही आने देता हूँ.
  4. आपकी अनुमति के बिना आपको कोई दुःख नही पहुँचा सकता हैं.
  5. कमज़ोर कभी माफ नहीं कर सकते. क्षमा ताकतवर की विशेषता है.
  6. व्यक्ति को ऐसे सीखना चाहिए जैसे वह कभी मरेगा नही. जिन्दगी को जी भरकर जीना चाहिए.
  7. खुद को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप खुद को दूसरों की सेवा में लगा दे.
  8. जो बदलाव आप दुनिया में देखना चाहते हैं वह बदलाव पहले ख़ुद में करे.
  9. जब मैं सूर्यास्त के चमत्कारों या चाँद की सुंदरता की प्रशंसा करता हूं, तो ऐसा लगता हैं आत्मा के निर्माता की पूजा कर रहा हूँ.
  10. आपको मानवता में विश्वास नहीं खोना चाहिए, मानवता एक सागर है; अगर महासागर के कुछ बूंदें गंदे हैं, तो महासागर गंदा नहीं होता है.
  11. पहले वे आपको अनदेखा करते हैं, फिर वे आप पर हँसते हैं, फिर वे आपसे लड़ते हैं, फिर आप जीतते हैं.
  12. असली धन स्वास्थ्य है, सोने और चांदी के टुकड़े नहीं.
  13. खुशी तब होती है जब आप क्या सोचते हैं, आप क्या कहते हैं, और आप क्या करते हैं , इसमें समानता होती हैं.
  14. क्रोध अहिंसा का दुश्मन है और अहंकार एक राक्षस है जो इसे निगलता है.
  15. शक्ति शारीरिक क्षमता से नही इच्छा शक्ति से आता हैं.
  16. अहिंसावादी होने के लिए दोहरे विश्वास की जरूरत होती हैं, पहला विश्वास भगवान् पर और दूसरा विश्वास मनुष्य पर.
  17. काम की मात्रा नही, काम की गुणवत्ता है जो भगवान् को खुश कर देगा.
  18. मेरा जीवन मेरा सन्देश हैं.
  19. इस दुनिया में एकमात्र तानाशाह में स्वीकार करता हूँ जोकि अभी भी मेरे भीतर हैं.
  20. सत्य स्वभाव से स्पष्ट हैं जैसे ही आप अपने चारो ओर के अज्ञानता से निकलते हैं, यह स्पष्ट दिखने लगता हैं.