Bal Diwas Shayari | बाल दिवस शायरी

Bal Diwas Shayari

Bal Diwas Shayari in Hindi ( Childrens Day Shayari in Hindi ) – भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिन को बाल दिवस ( Childrens Day ) के रूप में मनाया जाता हैं. यह प्रतिवर्ष 14 नवम्बर को मनाया जाता हैं. इस पोस्ट में बाल दिवस ( Bal Diwas ) पर बेहतरीन शायरी दिए हुए हैं. इन्हें जरूर पढ़े.

बेस्ट बाल दिवस शायरी | Best Bal Diwas Shayari

जब थे दिन बचपन के
वो थे बहुत सुहाने पल
उदासी से न था नाता
गुस्सा तो कभी न था आता
Happy Childrens Day

Bal Diwas Image


रोने की वजह ना थी
ना हसने का बहाना था
क्यों हो गए हम इतने बड़े
इससे अच्छा तो वो बचपन का जमाना था
Happy Bal Diwas


बच्चे फूलों के जैसे महकते है,
पंछी के जैसे चहकते है,
सूरज की भांति चमकते है,
तितली के जैसे मचलते हैं.
Bal Diwas Ki Subhkamnayen


खबर ना होती कुछ सुबह की
ना कोई शाम का ठिकाना था
थक हार के आना स्कूल से
पर खेलने तो जरूर जाना था
हैप्पी बाल दिवस


मैडम आज न डांटना हमको,
आज हम खेलेंगे-गायेंगे
साल भर हमने किया इंतज़ार
आज हम बाल दिवस मनाएंगे.


सबके मन को भाते चाचा नेहरु
बच्चों को हंसाते चाचा नेहरु
दिल में भरा अनोखा प्यार
करते वो बच्चों को प्यार बेशुमार
Happy Bal Diwas

Happy Bal Diwas


माँ की कहानी थी परियों का फ़साना था,
बचपन का वो हर मौसम सुहाना था.
हैप्पी बाल दिवस


चाचा का है जन्मदिन,
सभी बच्चे आयेंगे,
चाचा जी को फूल गुलाब से,
हम बच्चे सब महकाएँगे.
बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।!


बचपन के दिन भुला ना देना,
आज हंसे कल रुला ना देना,
इचक दाना -पिचक दाना, दाने उपर दाना,
कितना प्यारा था बचपन मस्ताना.


बचपन है ऐसा खजाना
आता है न जो दोबारा
मुश्किल है इसको भुलाना
वो खेलना, कूदना और खाना,
मोज मस्ती में बलखाना!
बाल दिवस की शुभकामनाएं!!!


इसे भी पढ़े –