महफ़िल शायरी स्टेटस | Mehfil Shayari Status in Hindi

Mehfil Shayari

Mehfil Shayari Status in Hindi for Whatsapp and Facebook – अब महफ़िल में जाने का शौक नहीं, इश्क़ से बुरा कोई रोग नहीं… इस आर्टिकल में बेहतरीन महफ़िल शायरी ( Mehfil Shayari ) दिए हुए हैं. इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े.

महफ़िल में अक्सर लोग धन-दौलत और शान-ए-शौकत पर ही ख़ासा ध्यान देते हैं. मगर महफ़िल में हर दिल में अलग-अलग जज्बात पल रहे होते हैं. और वो उसी तरह महफ़िल को महसूस कर रह होते हैं. महफ़िल में काम करने वाले लोग सोचते हैं कि काश महफ़िल में आये लोगों की तरह अमीर होते. इश्क़ करने वालों की नजरें हसीनाओं को ढूंढती है.

वहीं कुछ लोगों दूसरों की कमियाँ देखते है और उस पर हँसते हैं. जिसका दिल टूटा होता हैं उसके लिए पूरा महफ़िल तन्हा-तन्हा लगता हैं. जिसकी महफ़िल हो वो बेचारा घबराया-घबराया रहता हैं. क्या वो भी शाम होती है जिस पर लोग करोड़ो भी खर्च करते हैं. आइयें ऐसे भी महफ़िल पर कुछ शायरी पढ़े.

इस पोस्ट में बेहतरीन महफ़िल शायरी , महफ़िल स्टेटस , Mehfil Shayari, Shayari Ki Mehfil Hindi, Mehfil Shayari in Hindi, Yaaro Ki Mehfil Shayari Hindi, Mehfil Status, Mehfil Shayari in Hindi font, Mehfil Status in Hindi, Mehfil Par Shayari, Mehfil 2 Line Shayari आदि इस पोस्ट में दिए हुए हैं. इसे जरूर पढ़े.

महफ़िल शायरी

मोहब्बत की महफिलों में खुदगर्जी नहीं चलती,
कमबख्त मेरे ही दिल पे मेरी मर्जी नहीं चलती.


महफ़िल में वो इस कदर संवर कर आते हैं,
सदियों के लगे जख्म दिल पर भर जाते हैं.


इश्क़ में इस कदर डूबे की दुनिया से शिकवा होना था,
उनकी महफ़िल में एक बार अदब से रुसवा होना था.


इश्क़ का दर्द पलता हो जिस दिल में,
चर्चा उसकी होती है हर महफ़िल में.


एक महफ़िल में कई महफ़िलें होती हैं शरीक
जिस को भी पास से देखोगे अकेला होगा
निदा फ़ाज़ली


तेरी महफ़िल में चले आये है किसी अजनबी की तरह,
तू भी देख रही है मुझको किसी मुजरिम की तरह.


Mehfil Shayari

Mehfil Shayari | Mehfil Status | Mehfil Shayari in Hindi | महफ़िल शायरी

कोई चुप, कोई हैरान, कोई बेबस तो कोई लाचार है,
ये जिंदगी तेरी महफ़िल में कितना अत्याचार है.


मोहब्बत करने वाले कम न होंगे,
तेरी महफ़िल में लेकिन हम न होंगे.
Hafeez Hoshiarpuri


इश्क़ की महफ़िल में दर्द को भी मुस्कुराना पड़ता है,
महबूब बुलाये तो होठों पर हँसी लेकर आना पड़ता है.


Mehfil Status

गरीबों की महफ़िल में कभी चलकर देख लेना,
सिर्फ मोहब्बत ही मोहब्बत लुटाई जाती है.


सुनकर ये बात मेरे दिल को थोड़ी सी खली,
दुश्मन के महफ़िल में भी मेरी ही बात चली.


अजीब अँधेरा है इश्क़ की महफ़िल में,
चलो दिल जला कर रौशनी कर ले.


Mehfil Shayari in Hindi

तुम करोगे याद इक दिन इस प्यार के जमाने को,
चले जायेंगे जब हम कभी ना वापस आने को,
करेगा महफ़िल में जब जिक्र हमारा कोई,
तब आप भी तन्हाई ढूंढोगे आँसू बहाने को.


जब से तुमने मेरे दिल को ठुकराया है,
भरी महफ़िल में भी खुद को तन्हा पाया है.


महफ़िल में आँख मिलाने से कतराते हैं.
मगर अकेले में हमारी तस्वीर निहारते हैं.


तुम्हारी बज़्म से निकले तो हम ने ये सोचा
ज़मीं से चाँद तलक कितना फ़ासला होगा
कफ़ील आज़र अमरोहवी


न तो मैं शोर करता हूँ, ये फिर भी जान लेती है,
भरी महफ़िल में तन्हाई मुझे पहचान लेती है.


Mehfil Status in Hindi

Mehfil Shayari | Mehfil Status | Mehfil Shayari in Hindi | महफ़िल शायरी

सम्भलकर जाना हसीनों की महफ़िल में,
लौटते वक्त दिल नहीं पाओगे अपने सीने में.


तमन्नाओ की महफ़िल तो हर कोई सजाता है,
पूरी उसकी होती है जो किस्मत लेकर आता है.


तेरी महफ़िल सजाने की कसम खाके बैठे है,
इसलिए दर्द और आँसुओं को छुपा के बैठे है.


मोहब्बत की महफ़िल में आज मेरा जिक्र है,
अभी तक याद हूँ उसको खुदा का शुक्र है.


दिल के दर्द ने शायर बना दिया तब जाना कि,
गमों की महफ़िल भी कितनी हसीन होती है.


Mehfil Shayari Hindi

महफ़िल में कुछ तो सुनाना पड़ता है,
गम छुपा कर मुस्कुराना पड़ता है,
कभी हम भी उसके अजीज थे,
अब हमें उन्हें ये याद दिलाना पड़ता है.


मेरे दिल का दर्द किसने देखा है,
मुझे बस खुदा ने तड़पते देखा है,
हम तन्हाई में बैठे रोते है,
लोगों ने हमें महफ़िल में हँसते देखा है.


देखी है कई महफ़िलें
ये फिजा कुछ और है,
देखे है जलवे बहुत
ये अदा कुछ और है,
पिये तो बहुत जाम हैं हमने
पर आपका नशा कुछ और है.


महफ़िल में बार-बार उन्ही पर नजर गयी,
हमने बचाई लाख मगर, फिर भी उधर गयी,
उनकी निगाह में कोई जादू जरूर है,
ये जिस पर पड़ी उसी के जिगर में उतर गयी.


Mehfil 2 Line Shayari

सुना है तेरी महफ़िल में सुकून-ए-दिल भी मिलता है
मगर हम जब तिरी महफ़िल से आए बे-क़रार आए .


छुपाये दिल में गमों का जहान बैठे है,
तुम्हारी बज़्म में हम बेजबान बैठे हैं.


अकेलापन कभी हमको अकेला कर नहीं सकता,
अकेलेपन को हम महबूब की महफ़िल समझते हैं.


महफ़िल और भी रंगीन हो जाती हैं,
जब इसमें आप शामिल हो जाती है.


लफ्ज़ों की दहलीज पर घायल जुबान है,
कोई तन्हाई से तो कोई महफ़िल से परेशान है.


Mehfil Shayari in Hindi Font

महफ़िल थी दुआओं की,
हमने भी एक दुआ की,
तुम खुश रहो सदा,
मेरे साथ भी मेरे बाद भी.


Mehfil Shayari | Mehfil Status | Mehfil Shayari in Hindi | महफ़िल शायरी

आपकी महफ़िल और मेरी आँखे दोनों भरे-भरे है,
क्या करे दोस्त, दिल पर लगे जख्म अभी हरे-हरे हैं.


गुनाह-ए-इश्क़ से पहले इतने तन्हा कभी हम न थे,
दोस्तों का संग था और हम किसी महफ़िल से कम न थे.


महफ़िल शायरी हिंदी

महफ़िल में हँसना मेरा मिजाज बन गया,
तन्हाई में रोना राज बन गया,
दिल के दर्द को जाहिर ना होने दिया,
यही मेरे जीने का अंदाज बन गया.


दोस्त बना कर जिसने मेरा क़त्ल था किया,
उसके चेहरे पर शिकन न परेशानी है,
जहाँ अक्ल वालों की महफ़िल है वहां
जिधर देखिये दिल वालों की नाकामी है.


भरी महफ़िल में अपने जुल्फों को यूँ संवारा उसने,
बगैर जाम के महफ़िल को मयखाना बना दिया.


महफ़िल स्टेटस

महफ़िल वही मकान वही आदमी वही
या हम नये है या तेरी आदत बदल गई.


सौ चाँद भी आ जाएँ तो महफ़िल में वो बात न रहेगी,
सिर्फ़ आपके आने से ही महफ़िल की रौनक बढ़ेगी.


दोस्तों की महफ़िल में कम आना जाना हो गया है,
ऐसा लगता है कि जिए हुए एक जमाना हो गया है.


महफ़िल पर शायरी

कुछ लोग जमाने में ऐसे भी होते है,
महफ़िल में हंसते है, तन्हाई में रोते है.


धन-दौलत-हैसियत की ही बात क्यों चलती है?
महफ़िल, इश्क़ करने वालों पर क्यों हँसती है?


Mehfil Par Shayari

हम उठ के चले तेरी महफ़िल से
पीछे से तूने पुकारा भी नहीं,
फिर खुद ही रूक गये कदम मेरे
क्योंकि तेरी दोस्ती के बिना मेरे गुजारा ही नहीं.


तू जरा हाथ मेरा थाम इ देख तो सही,
लोग जल जायेंगे महफ़िल में चिरागों की तरह.


इसे भी पढ़े –