धरती माँ शायरी | Dharti Shayari | Dharti Maa Status in Hindi

Dharti Maa Par Shayari

Dharti Maa Shayari Status Quotes in Hindi – इस आर्टिकल में बेहतरीन धरती माँ शायरी स्टेटस कोट्स दिए हुए हैं. इसे जरूर पढ़े और दोस्तों के साथ शेयर करें.

हर जीव को धरती माँ कितना कुछ देती है. खाने के लिए अनाज, फल-फूल, खनिज पदार्थ, शुद्ध हवा, शुद्ध जल आदि. परन्तु आज हम धरती के श्रृंगार पेड़ों को दिनों-दिन काटते जा रहे है. जिससे प्रदूषण बढ़ रहा है.

Dharti Shayari

धरती माँ कितना कुछ देती है,
सब जीवों का दुःख हर लेती है.


बढ़ती प्रदूषण से धरती माँ बेजान हैं,
उनके उपकार का ये कैसा एहसान हैं.


सिर झुकाने की कला भी
क्या कमाल होती है?
धरती पर सिर रखते हैं और
मुकम्मल दुआ आसमान में होती है.


धरती शायरी

कुछ पेड़ हम भी लगा दे,
इस धरती को बचाने के लिए,
क्योंकि इसने पूरी जिन्दगी लगा दी
हमारा बोझ उठाने के लिए.


वो दिल प्रेम में मगन था,
जिसका एक होना जैसे ‘धरती’ और ‘गगन’ था.


कितना खूबसूरत वो दिन होगा,
जिस दिन हमारा तुम्हारा मिलन होगा,
आँखों में आँखे, बाँहों में बाहें
धरती से मिलता गगन होगा.


Shayari on Earth in Hindi

धरती माँ की पीड़ा हरे,
प्रदूषण कम से कम करे.


इक तरफ धरती बंजर,
बूँदों के लिए तरस रहे है,
और बेवफ़ा से बादल सारे
हरियाली देख बरस रहे है.


देखना कभी धरती की गोद में सूरज को ठहरते हुए,
एहसास होगा, कितना थक गये जिन्दगी में चलते हुए.


धरती पर शायरी

हंसी आती है ये देखकर
उन्हें खुद पर कितना गुमान है,
उन्हें बता दो मेरे साथियों
इस धरती पर एक और सुलतान है.


खुली जुल्फें, माथे पे बिंदी, आँखों में गहराई है,
तू इस धरती की है या फिर जन्नत से आई है.


धरती माँ पर शायरी

ये बेमौसम बारिश भी कितना कुछ बताती है,
बादल भी रो देते है जब धरती की याद आती है.


बिक रहा है पानी,
पवन बिक ना जाये,
बिक गई है धरती,
गगन बिक न जाये.


जमीन शायरी

मुट्ठी भर बीज बिखेर दो
दिलों की जमीन पर,
बारिश का मौसम आ रहा है
शायद अपनापन पनप जाए.


जो परों से नही, हौसलों से उड़ा करते हैं,
वो जमीन पर रहकर भी आकाश छुआ करते है.


सामने हो मंजिल तो रास्ते न मोड़ना,
जो भी मन में हो वो सपना न तोड़ना,
कदम-कदम पे मिलेगी मुश्किल आपको
बस सितारे चुनने के लिए जमीन मत छोड़ना.


इसे भी पढ़े –