जीवन का उद्देश्य क्या हैं? | Aim of Life in Hindi

Aim of Life in Hindi

Aim of Life in Hindi – “जीवन का उद्देश्य क्या है?” यह प्रश्न बड़ा ही अनमोल हैं और अक्सर यह प्रश्न सभी के मन में आता हैं. हर व्यक्ति के जीवन का उद्देश्य अलग-अलग होता हैं और उसे प्राप्त करने के लिए अलग-अलग तरह से प्रयास करते हैं. आपके मन में कुछ इस प्रकार के प्रश्न भी आयेंगे.

यदि आपने रामायण पढ़ा होगा तो आपको ज्ञात होगा कि भगवान राम एक राजा के पुत्र थे और उन्हें ईश्वर का अवतार माना जाता हैं. इसके बावजूद उनके जीवन में सुख और दुःख दोनों था. यदि प्रभु श्री राम के जीवन में दुःख न होता तो वो मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम न कहलाते. एक बात हमेशा याद रखे. इस पृथ्वी पर जो भी व्यक्ति आया है, हर एक का जीवन सुख और दुःख के ताने-बाने से बुना हुआ हैं.

जीवन का उद्देश्य | Aim of Life

जो लोग जीवन के उद्देश्य को जानते है वो लोग दूसरों को बताते नहीं और जो नहीं जानते हैं वहीं दूसरों को बताते हैं. “आपके जीवन का उद्देश्य क्या हैं?” इस प्रश्न का उत्तर केवल आप स्वयं दे सकते हैं और जिस दिन से आपने इस प्रश्न का उत्तर ढूढ़ना शुरू कर दिया. समझ लीजिये कि आपने जीवन शुरू कर दिया.

यदि आप ऊपर दिए पैराग्राफ पर थोड़ा सा चिन्तन करेगे तो समझ सकेंगे कि जीवन का उद्देश्य समय, परिस्थिति और सामर्थ्य का अनुमान लगाकर निर्धारति किया जाता हैं.

उदाहरण के लिए यदि आपको किसी विद्वान् पुरूष ने कहा कि “A” कोर्स में को करने से नौकरी मिल जाएगी. आपके मन में आ जाता है कि इस कोर्स को कर ले परन्तु उसके पहले आप यह देखते हैं कि इस “A” कोर्स को करने के लिए मेरी आयु उपयुक्त हैं. फिर देखते हैं कि आपका परिवार कोर्स को फीस दे सकता है या नहीं. अंत में आप सोचते हैं कि क्या मैं सफलता पूर्वक इस कोर्स को कर सकता हूँ और करने के बाद नौकरी (Job) पा सकता हूँ. फिर आप निर्णय लेते हैं और लक्ष्य निर्धारित करते हैं.

जीवन के उद्देश्य को कैसे प्राप्त करें | How to Get Aim of Life in Hindi

समय बदलने के साथ-साथ जीवन के उद्देश्य और लक्ष्य बदलते रहते हैं इसलिए कुछ चीजें ऐसी हैं जो आपको लक्ष्य प्राप्ति में हर समय और हर वक्त मदत करेंगी.

  1. शिक्षा ( Education ) – अपनी शिक्षा और ज्ञान को बढ़ाने के लिए हर दिन कुछ पढ़े और कुछ सीखे.
  2. स्वस्थ शरीर और स्वस्थ मन ( Healthy Body and Healthy Mind ) – स्वस्थ शरीर के लिए कसरत करें और स्वस्थ मन के लिए योग करे और अच्छे लोगों के बीच में रहें.
  3. अच्छे विचार और अच्छे संस्कार ( Good Thoughts and Good Rites ) – आपका व्यवहार आपके विचार और संस्कार को दर्शता हैं इसलिए आपका व्यवहार ऐसा होना चाहिए जो किसी को कष्ट न दे.
  4. दूसरों की मदत करना ( Help to Others ) – जो दूसरों की मदत करता हैं उसकी मदत ईश्वर करते हैं.
  5. समय का सदुपयोग ( Good use of time ) – जो समय को बर्बाद करता हैं एक दिन समय उसको बर्बाद कर देता हैं इसलिए हमेशा समय का सदुपयोग करें.
  6. अच्छे मित्र ( Good friend ) – अच्छे मित्र व्यक्ति की सफलता में अपना योगदान जरूर देते हैं.
  7. ईश्वर में आस्था ( Faith in God ) – ईश्वर से जुड़े रहने पर मन में बुरे विचार नहीं आते हैं और शरीर में अध्यात्मिक ऊर्जा का संचार बना रहता हैं.

जीवन के उद्देश्य या लक्ष्य की प्रप्ति के लिए हमेशा प्रयासरत रहे और परिश्रम करने से न डरे क्योंकि इस संसार में वहीं व्यक्ति सुखी होता है जो परिश्रम करता हैं. “यदि किसी व्यक्ति को दुनिया की सारी सुख सुविधाएं दी जाय यदि वह परिश्रम नहीं करता है तो वह निश्चित ही दुखी रहेगा.

जीवन उद्देश्य की प्राप्ति में बाधक | Obstacle in Achieving Life Aim

जैसे कुछ चीजे जीवन के उद्देश्य की प्राप्ति में सहायक होती हैं वैसे ही कुछ चीजे बाधक भी होती हैं. आइयें वो कौन सी चीजें हैं जो जीवन के उद्देश्य और लक्ष्य के प्राप्ति में बाधक हैं.

  1. उदासी ( Sadness ) – कारण चाहे जो हो यदि आप अपने जीवन में उदास हैं तो आप कभी भी अपने उद्देश्य या लक्ष्य को नहीं प्राप्त कर सकते हैं.
  2. दूसरों में दोष निकालना ( Blame Others ) – जो व्यक्ति दुसरे की निंदा करने लगता हैं या उसमे दोष निकालने लगता हैं, वह अपने जीवन की कमियों और दोषों पर कभी ध्यान नहीं दे पाता हैं और उसे यहीं दोष उसकी असफलता का कारण बन जाते हैं.
  3. चिंता ( Worry ) – चिंता चिता के समान होती हैं जो जिन्दा इंसान को जलाकर राख कर देती हैं. जीवन के उद्देश्य को पाने के लिए चिंतन करें.
  4. दिखावा करना ( Show off ) – दिखावा वहीं करते है जो अज्ञानी और अहंकारी होते हैं. यदि आपके अंदर अज्ञान और अहंकार हैं तो आप जीवन में कभी भी सफल नही हो सकते हैं.
  5. तनाव-ग्रस्त ( Stressed ) – तनाव में रहने से व्यक्ति अस्वस्थ हो जाता हैं और वह किसी कार्य को अच्छी तरह से नहीं कर पाता हैं.

जीवन का उद्देश्य कैसे तय करें | How to decide the aim of life

जीवन का उद्देश्य कैसे तय करें? यदि आप ने अपने जीवन का उद्देश्य या लक्ष्य तय कर लिया हैं तो आपके लिए यह एक आसान प्रश्न हैं.

यदि आप इस प्रश्न का उत्तर आज भी ढूढ़ रहे है तो मैं आपको एक आसान सा तरीका बताता हूँ जिसकी मदद से आप अपने जीवन के उद्देश्य या लक्ष्य को तय कर सकेंगे. यदि आप इस तरीके पर विश्वास करते हैं तो यह निश्चित रूप से आपके लिए कार्य करेगा.

  • एक Blank Page ले लीजिये या तो कंप्यूटर में Word File को खोल लीजिये.
  • सबसे ऊपर लिखिए – “मेरे जीवन का क्या उद्देश्य हैं?
  • आपके दिमाग में जो भी आ रहा हो उसे लिखे और उत्तर कम से कम शब्दों में देने का प्रयास करें.
  • यदि आप कोई निर्णय या लक्ष्य निर्धारित कर रहे हैं तो जरूरी हैं कि आप के पास ज्यादा से ज्यादा जानकारी हो. जानकारी इन्टरनेट से प्राप्त कर सकते हैं.
  • आप अपने मित्र से, टीचर से, माता-पिता से और किसी विद्वान् या सफल व्यक्ति से अपने जीवन के उद्देश्य के बारें में बात करें और उनके विचारों को सुने.
  • मगर अंत में आप खुद फैसला ले.

जरूरी नहीं है कि पहली बार में आपको जीवन सही उद्देश्य या लक्ष्य का पता चल जाए परन्तु इसे बार-बार करने पर आप निश्चित ही अपने जीवन के उद्देश्य और लक्ष्य को निर्धारित कर सकेंगे.

इसे भी पढ़े –