हवा पर कविता | Wind Poem in Hindi | Air Poem in Hindi

Wind Poem in Hindi – इस आर्टिकल में हवा पर कविता दी गई है. हवा जिसे किसी ना किसी रूप में हम और आप हर वक़्त महसूस करते है. हवा में पाएं जाने वाले ऑक्सीजन के बिना कोई भी 2 मिनट भी जीवित नहीं रह सकता है.

बच्चे जो कागज की नाव पानी में चलाते है वह भी हवा की शक्ति से ही चलती है. छतों पर घंटों जो पतंग उड़ाने का मजा लेते है. वह भी हवा का ही कमाल होता है. गर्म हवाओ का भी जीवन में महत्व है. यही गर्म हवाएं कई तरह के फसलों और फलों को पकाती है. हवा हर इंसान और हर जीव के आस-पास हमेशा मौजूद रहती है.

हवा पर कविता | Wind Poem in Hindi

तेज धूप से जब धरती जलती है,
परिश्रम पसीना बनकर निकलती है,
जीवन का कितना सुखद आनंद होता है
जब मंद-मंद शीतल हवा चलती है.

तेज धूप जब सिर पर चढ़ जाता है,
तब हवा बड़ा ही गर्म हो जाता है,
जीवन का कर्म हमेशा चलता रहता है
यह तो मौसम है जो हरदम बदलता रहता है.

- Advertisement -

विद्युत से चलने वाले उपकरण भी हवा देते है,
लेकिन ये बीमारी को सिर्फ बढ़ावा देते है,
इनसे पर्यावरण को प्रदूषित बनाते है,
और खुद को बड़ा बुद्धिमान बताते है.

ऑक्सीजन को प्राणवायु कहा जाता है,
यह भी सबको हवा से ही मिल पाता है,
अगर हवा इतनी तेजी से प्रदूषित होगा,
बताओ यहाँ पर जीवन कैसे सम्भव होगा।

हवा जब गुब्बारें में समाती है,
तो बच्चों के चेहरे पर खुशियां लाती है,
हवा हमारे जीवन में बहुत उपयोगी है,
यह कविता हमें यही बतलाती है.


इसे भी पढ़े –

Latest Articles