विवेक पर सुविचार | Sense Quotes in Hindi

Sense (Vivek) Quotes Thoughts Sayings Suvichar Image Photo in Hindi – इस आर्टिकल में विवेक पर सुविचार अनमोल वचन दिए हुए है. इन्हें जरूर पढ़े.

Sense Quotes in Hindi

जब नाश मनुज पर छाता है,
पहले विवेक मर जाता है.
रामधारी सिंह ‘दिनकर’


तुलसी साथी विपत्ति के, विद्या विनय विवेक।
साहस सुकृति सुसत्यव्रत, राम भरोसे एक॥
तुलसीदास


विवेक द्वारा ही मनुष्य आत्म ज्ञान,
संयम, भक्ति, परमार्थ आदि की साधना
करके जीवन मुक्त हो सकता हैं,
परमात्मा को प्राप्त कर सकता है।


- Advertisement -

मनुष्य के अंदर सच्चे ज्ञान की
जिज्ञासा होनी चाहिए महात्मा बुद्ध ने
कहा था जो शास्त्रों में लिखा हैं उसपर
विश्वास मत करो और जो मैं कहता हूँ
उसपर विश्वास न करो जो तुम्हारी बुद्धि
और विवेक कहता है उसपर विश्वास करो।


अगर मनुष्य कर्म करते वक्त विवेक रखे
और होशियार होकर कार्य करें तो
जिंदगी में कभी भी परेशानियों का
सामना नहीं करना पड़ेगा।


विवेक पर सुविचार

इंसान को जाति और धर्म
जन्म से मिलता है।
‘विवेक’ शिक्षा से अर्जित करता है।
इसलिए विवेक श्रेष्ठ है। वही जीवन
का मार्ग निर्धारित करता है.


दुखी होने का केवल इतना अर्थ है
कि विवेक ढक गया है। विवेक का अर्थ है
यह जानना कि सब परिवर्तनशील है।
विवेक को जागृत करने का माध्यम है
साधना, जो आपके जीवन का स्वरूप
बदल सकती है।


मानव जीवन प्रसन्नता तथा
आनन्द का प्रतीक है। परन्तु
विवेक के अनादर द्वारा हमने
उसे राग-द्वेष, क्षोभ-क्रोध आदि
के विकारों का केन्द्र बना लिया है।
विकार किसी के भाग्य में नहीं लिखे हैं
और न किसी ने हमें प्रदान किए हैं।
वे तो हमने स्वयं ही अपनी भूल से
उत्पन्न कर लिए हैं।


कठिन से कठिन कार्य को भी
साहस और विवेक के साथ आसानी से
पूरा करने की कला सीखें।


क्या जीवन में रास्ता नहीं मिलता है?
तो उसे बनाओ। वस्तुतः बना बनाया कोई रास्ता ही नहीं है।
प्रत्येक को अपने श्रम से अपना मार्ग बनाना पड़ता है
और अपने ही विवेक के प्रकाश में
उस पर यात्रा भी करनी होती है।
जीवन भी दूसरों से नहीं मिलता और
न ही जीवन का मार्ग मिलता है।


Sense Thoughts in Hindi

जो सत्य से असत्य को अलग कर सकती है,
गलत और सही में अंतर कर सकती है।
बुद्धि के इसी धर्म का नाम विवेक है।
आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी


जिस प्रकार सूर्य ही रात्रि के
अन्धकार को दूर कर सकता है,
उसी प्रकार मात्र विवेक ही लोगों के
जीवन के अन्धकार को नष्ट
कर सकता है।


अगर हमको ज़िन्दगी को मजे से जीना है,
तो निश्चित हमारे पास प्रज्ञा की पूंजी होनी चाहिए,
विवेक होना चाहिए कि हमारे लिए क्या शुभ है,
क्या अशुभ है, क्या सार है, क्या आसार है
इसको जान सकें।


चार दिन की जिंदगी में किस किस से
इतराते चलें, खाक हैं हम, खाक पर क्या,
खाक इतराते चलें। हमारी प्रतिक्रिया गीत के
रूप मे भी हो सकती है और गाली के रूप मे भी।
यह हमारे नेचर – विवेक पर निर्भर करता है।


विनय, विनम्रता और विवेक
ये मनुष्य के आंतरिक गुण हैं,
इनके बिना देह और आत्मा
निष्प्राण समान है.


Quotes on Sense in Hindi

शरीर सदा टिकता नहीं है
और आत्मा कभी मरता नहीं है।
यह है मुख्य विवेक। ऐसा विवेक
जिसका जागृत हो गया,
उसी का जन्म और कर्म दिव्य है.


इसे भी पढ़े –

Latest Articles