कविता तिवारी शायरी स्टेटस | Kavita Tiwari Shayari Status Quotes in Hindi

Kavita Tiwari Shayari Status Quotes Poem Poetry Image in Hindi – इस आर्टिकल में कविता तिवारी की शायरी स्टेटस कोट्स इमेज आदि दिए हुए है. इन्हें जरूर पढ़े.

यूट्यूब पर आपने कविता तिवारी की कविता, शायरी, मुक्तक और अन्य रचनाओं को सुना होगा। इनकी बुलंद आवाज और शब्दों की ताकत किसी मुर्दे में भी देशभक्ति और उत्साह भर दे. मैं बहुत पहले इनकी कुछ देशभक्ति रचनाएं Youtube पर सुनी थी. एक नारी को इतने बुलंद आवाज में देशभक्ति गीत गाते सुनकर मुझे बड़ा गर्व हुआ. बड़ी उत्साह और प्रेरणा मिली। कविता तिवारी के प्रशंसकों में से मैं एक हूँ. कुछ वर्षों से मैं लेखन कार्य कर रही हूँ. आज मैं कविता तिवारी के बारे में लिखकर बड़ी ही ख़ुश हो रही हूँ.

इस पोस्ट में दिए शायरी, स्टेटस, कोट्स कविता तिवारी जी के रचनाओं से ली हूँ. इनकी रचनाएं लहू में बह रहे देश प्रेम और देशभक्ति को जागृति कर देती है. आशा करती हूँ कि आपको यह लेख जरूर पसंद आएगा।

Kavita Tiwari Shayari in Hindi

Kavita Tiwari Shayari in Hindi
Kavita Tiwari Shayari in Hindi | कविता तिवारी शायरी इन हिंदी

पसीने की कमाई का खिलौना टूटकर रोया,
साथ खलिहान का धानी चुनर से छूटकर रोया।
लहू देकर शहीदों ने सँजोया देश की ख़ातिर,
देख गणतंत्र की हत्या, तिरंगा फूटकर रोया।।
कविता तिवारी


- Advertisement -

बदलकर आँसुओं की धार को मैं मुस्कुराती हूँ,
जगाती ओज की धारा बहुत सुख चैन पाती हूँ,
ना मेरे शब्द है उनके लिए जो देशद्रोही है
वतन से प्यार है जिनको उन्हें कविता सुनाती हूँ.
कविता तिवारी


कथानक व्याकरण समझें तो सुरभित छंद हो जाए
हमारे देश में फिर से सुखद मकरंद हो जाए
मेरे ईश्वर मेरे दाता ये कविता माँगती तुझसे
युवा पीढ़ी सँभल कर के विवेकानंद हो जाए
कविता तिवारी


Kavita Tiwari Status in Hindi

Kavita Tiwari Status in Hindi
Kavita Tiwari Status in Hindi | कविता तिवारी स्टेटस इन हिंदी

विभीषण राम जी के भक्त है ये जानते सब है ,
मगर जो देशद्रोही हो उसे पूजा नहीं जाता।
कविता तिवारी


चेतक की टाप पड़ते ही युद्धभूमि पर
पावन पुनीत हल्दीघाटी धन्य हो गयी..
कविता तिवारी


दुश्मन से बाजी जीत गए ,
पर हम अपनों से हारे हैं !
कविता तिवारी


Kavita Tiwari Quotes in Hindi

Kavita Tiwari Quotes in Hindi
Kavita Tiwari Quotes in Hindi | कविता तिवारी कोट्स इन हिंदी

काया में देशभक्ति का प्रवाह बहेगा,
साहस से साजिशों का हर इक दुर्ग ढहेगा,
जब तक है सरहदों पे खड़ा एक भी जवान
ऐ हिन्द तू आजाद है, आजाद रहेगा।
कविता तिवारी


मैं भारतवर्ष का हरदम अमिट सम्मान रखती हूँ,
यहाँ की चंदनी मिट्टी का ही गुणगान रखती हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की
तिरंगा हो कफ़न मेरा यही अरमान रखती हूँ.
कविता तिवारी


कविता तिवारी शायरी

जब स्वदेश का बच्चा-बच्चा बंदे मातरम् गायेगा,
कोई भी आतंकी कैसे उग्रवाद अपनाएगा,
अपना पूज्य तिरंगा नभ में फहर-फहर फहरायेगा
जो इसकी तौहीन करेगा मिट्टी में मिल जायेगा।
कविता तिवारी


घास वाली रोटियों को खा के स्वाभिमान रखा,
जैसे तैसे उम्र भले काटी धन्य हो गयी,
परतंत्रता की बेड़ियों को शौर्य से नकार
रण बांकुरों की परिपाटी धन्य हो गयी,
उस शूरवीर ने रचा जो इतिहास श्रेष्ठ
राम, कृष्ण, नानक की माटी धन्य हो गयी,
चेतक की टाप पड़ते ही युद्ध भूमि पर
पावन पुनीत हल्दीघाटी धन्य हो गयी.
कविता तिवारी


Kavita Tiwari Poem in Hindi

हे ईश्वर मालिक हे दाता हे जगत नियंता दीनबंधु
हे परमेश्वर प्रभु हे भगवन, हे प्रतिपालक हे दयासिंधु
सच्चिदानंद घट घट वासी, हे सुखराशि करुणावतार
हे विघ्न हरण मंगल मूर्त, हे शक्ति रूप हे गुणागार
सभ्यता यशस्वी हो जाये, मानवता का फैले प्रकाश
सब दिव्य दृष्टि के पोषक हो, कर दो कुदृष्टि का सर्वनाश
इतिहास गढ़े जाएँ प्रतिपल, पृष्ठों में अकलंकता रहे
सज्जनता का अनुशीलन हो, मानव को पथ का पता रहे!!
हर एक बालिका विदुषी हो, हर बालक नीति निधान रहे!
फ़ैराये तिरंगा अम्बर तक, माँ का धानी परिधान रहे!!
कविता चाहेगी धरती पर, संस्कृतियों का सम्मान रहे!
जब तक सूरज चंदा चमके, तब तक ये हिंदुस्तान रहे!!
कविता तिवारी


Kavita Tiwari 2 Line Shayari

रण बीच अकेली डटी रही, साहस के तब पौबारे थे,
दुश्मन से बाजी जीत गए पर हम अपनों से हारे थे।
कविता तिवारी


कविता तिवारी की शायरी

वर्तमान जैसे तैसे कटता सभी का
किन्तु व्यापक भविष्य की कहानी होनी चाहिए,
मर कर एक रोज जाना सबको पड़ेगा
मरने के बाद भी निशानी होनी चाहिए,
अश्रुओं के धार के समक्ष घुटने ना टेके
हिन्द वाली बेटी स्वभिमानी होनी चाहिए,
वक़्त आ पड़े तो बैरियों का वक्ष चीर डाले
लक्ष्मीबाई जैसी मर्दानी होनी चाहिए।
कविता तिवारी


Kavita Tiwari Shayari

जिम्मेदारियों का बोझ परिवार पे पड़ा तो ,
ऑटो , रिक्शा , ट्रेन को चलाने लगी बेटियाँ !!
साहस के साथ , अंतरिक्ष तक भेद डाला ,
सुना है वायुयान भी उड़ाने लगी बेटियाँ !!
और कितने उदाहरण ढूँढ कर लाऊं ,
हर क्षेत्र शक्ति आजमाने लगी बेटियाँ !!
वीर की सहादत पर , अर्थी को कन्धा देके ,
अब शम्शान तक भी जाने लगी बेटियाँ !!
कविता तिवारी


Kavita Tiwari Video

वीडियो साभार – Sahitya Tak

इसे भी पढ़े –

Latest Articles