स्मरण शक्ति को कैसे बढायें | How to Increase Memory Power in Hindi

How to Increase Memory Power in Hindi

How to increase Memory Power in Hindi – ‘स्मृति‘ एक जटिल शारीरिक और मानसिक प्रक्रिया है, जिसे हम थोड़े से शब्दों में इस प्रकार स्पष्ट कर सकते हैं. जब हम किसी वस्तु को छूते, देखते, सुनते या सूँघते है, तब हमारे ‘ज्ञान वाहक तन्तु’ ( Sensory Nerves ) उस अनुभव को हमारे मस्तिष्क के ‘ज्ञान-केंद्र’ ( Sensory Centre ) में पहुँचा देते हैं. ‘ज्ञान-केंद्र’ में उस अनुभव की ‘प्रतिमा’ बन जाती हैं, जिसे ‘छाप’ ( Engram ) कहते हैं. यह ‘छाप’ वास्तव में उन अनुभव का स्मृति चिन्ह ( Memory Trace ) होती है, जिसके कारण मानसिक रचना के रूप में कुछ परिवर्तन हो जाता हैं. यह अनुभव कुछ समय तक हमारे ‘चेतन-मन’ में रहने के बाद ‘अचेतन-मन’ ( Unconscious Mind ) में चला जाता हैं और हम उसको भूल जाते हैं. उस अनुभव को ‘अचेतन-मन’ में संचित रखने और ‘चेतन-मन’ में लाने की प्रक्रिया को ‘स्मृति’ कहते हैं.

पूर्व अनुभवों को ‘अचेतन-मन’ में संचित रखने और आवश्यकता पड़ने पर ‘चेतन-मन’ में लाने की शक्ति को स्मृति कहते हैं.

Tips and Tricks to Increase Brain Power in Hindi

इस पोस्ट में ‘स्मरण-शक्ति’ को बढ़ाने के लिए आप निम्न उपाय कर सकते हैं. सकारात्मक सोच भी ‘स्मरण-शक्ति’ को बढाने में मदत करता है.

#1- स्मरण-शक्ति बढ़ाने के साधारण तरीके | Normal Tips to Increase Memory

  • लिखकर याद करना | Remember by Writing – कोई तथ्य या सूचना लिखने के बाद पढ़ने पर जल्द याद हो जाता हैं. अक्सर ‘IAS – Indian Administrative Service‘ और ‘PCS – Provincial Civil Service‘ के तैयारी करने वाले विद्यार्थी इसी प्रकार तथ्यों को समझते और याद करते हैं. लिखकर याद करना एक बहुत ही अच्छी आदत होती हैं. यदि आप किसी अच्छे प्रोफेशनल कम्पनी में काम करेंगे तो वहां हर कोई एक नोट पैड रखता है और महत्वपूर्ण सूचनाओं को लिखता रहता हैं. इससे वो तथ्य उन्हें याद भी रहता हैं और यदि भूल जाते है तो उसे फिर से देख सकते हैं.
  • किसी और को सिखाओ | Teach Someone Else – जोर से पढ़ना, स्मरण-शक्ति में सुधार करने के लिए उपयोगी माना गया हैं. बचपन में तो हम जोर से पढ़ सकते है लेकिन जब हम बड़े हो जाते हैं तो धीरे-धीरे मन में ही पढ़ते हैं, लेकिन जब आप किसी को पढ़ाते हैं तो आपको बोलना पड़ता हैं, जिससे वह तथ्य अच्छी तरह और आसानी से आपको याद हो जाता हैं. पढ़ाने या किसी को समझाने का एक फायदा ये भी होता हैं कि जब आप किसी को पढ़ाते हैं तो आपके मन में नयें विचार और उससे सम्बन्धित कुछ नयें तथ्य भी आते हैं.
  • जो पढ़े उसके बारें में बात करें | Talk about what you read – यदि आप कुछ पढ़ रहे है या सीख रहे हैं और अपने दोस्तों के साथ उसी विषय पर बात कर रहे हैं तो इससे वह तथ्य आपको आसानी से याद हो जाएगा.
  • तथ्य को समझे | Understand the Facts – ज्यादातर विद्यार्थी की यही समस्या होती हैं वो समझने के बजाय वो रटते ज्यादा हैं, जिससे उन्हें कोई फायदा नहीं होता हैं. किसी तथ्य को समझने में थोड़ा वक्त लग सकता हैं लेकिन जब आप एक बार अच्छी तरह समझ लेंगे तो वह तथ्य अपने आप याद हो जाएगा.
  • रचनात्मक और नई चीजें सीखें | Learn Creative and New Things – रचनात्मक और नई चीजें सीखने से दिमाग सक्रिय और मन प्रसन्न रहता हैं, जिससे हमारी स्मरण शक्ति बढ़ती हैं. वाद्य यंत्र बजाना सीखना, डांस सीखना, चित्रकारी, सिंगिंग, एक्टिंग, कविता लिखना, आदि नये और रचनात्मक कार्य कर सकते हैं.
  • सोकर उठने के बाद पढ़े | Read after waking up – सुबह उठने के बाद या दिन में सोकर उठने के बाद तुरंत पढ़ाई करनी चाहिए. उस समय सोचने, समझने और स्मरण-शक्ति अच्छी रहती हैं.
  • रुचि उत्पन्न करना | To Generate Interest – अरूचिकर विषय को याद करना थोड़ा मुश्किल होता हैं जबकि रूचिकर विषय को याद करना काफी आसान होता हैं. रूचिकर विषय है तो वह आसनी से याद हो जाएगा, अन्यथा अरूचिकर विषय को रूचिकर बनाने का प्रयास करें.

#2- तनाव दूर करके स्मरण शक्ति को बढायें | Increase Memory Power by Eliminating Stress

ध्यान, योग, नियमित रूप से व्यायाम आदि करने से शरीर स्वस्थ और मानसिक तनाव दूर होता हैं. मानसिक तनाव दूर करने के लिए संगीत सुनना, पर्याप्त नींद ले, हँसने के लिए कॉमेडी विडियो या मूवी देखे. इससे भी मानसिक तनाव दूर होता हैं. अकेलेपन में न रहें, दोस्तों के साथ भी समय व्यतीत करें.

आहार से ‘स्मरण-शक्ति’ को बढायें | Foods to Increase Memory Power in Hindi

संतुलित आहार ले और समय पर भोजन करें. यह आपके ‘स्मरण-शक्ति’ को बढ़ाता हैं. पूरे शरीर में गुलकोज सबसे अधिक हमारा दिमाग इस्तेमाल करता हैं, इसलिए खाने में ऐसे चीजें ले जिसमें गुलकोज की मात्रा अधिक होती हो. उदाहरण के लिए – शहद.

साबुत अनात, ड्राई नट्स ( अखरोट, बादाम, किशमिश आदि ), हरी सब्जियां, फल और दूध आदि को खाने में शामिल करें. ये आपके स्वास्थ के लिए भी लाभदायक हैं और आपके दिमाग को भी चुस्त और दुरूस्त रखता हैं.

इसे भी पढ़े –