Allahabad Shayari Status Quotes in Hindi | इलाहाबाद शायरी स्टेटस

Allahabad Shayari Status Quotes Hindi

Allahabad Shayari Status Quotes in Hindi – प्रयागराज का पुराना नाम इलाहाबाद है. इस आर्टिकल में इलाहाबाद पर शायरी स्टेटस दिए हुए हैं. इन्हें जरूर पढ़े और शेयर करें.

इलाहाबाद को धर्म की नगरी कहाँ जाता है. हिन्दू धर्मग्रन्थों में इसका नाम ‘प्रयाग’ वर्णित है कि प्रयाग स्थल पवित्र नदी गंगा और यमुना के संगम पर स्थित है. यही सरस्वती नदी गुप्त रूप से संगम में मिलती है. अतः ये त्रिवेणी संगम कहलाता है. यहाँ हर 12 वर्ष में कुम्भ मेला लगता है और 6 वर्ष में अर्धकुम्भ मेला लगता है.विश्व के विभिन्न कोनो से करोंड़ों श्रद्धालु गंगा, यमुना और सरस्वती के पवित्र संगम में आस्था की डुबकी लगाने आते है.

Allahabad Shayari

धर्म की नगरी इलाहाबाद है,
यहाँ खुदा भी सुनता फ़रियाद है.


इलाहबाद जब भी मैं आता हूँ,
खुद में एक विद्यार्थी को पाता हूँ.


इलाहबाद की गलियों में मैंने अपने जीवन को संवारा है,
बड़े दिन से जमे हो तुम वहाँ, क्या हाल तुम्हारा है.


Allahabad Status in Hindi

चलो जाज्मी था मेरा तेरे शहर इलाहाबाद आना,
कुछ सीखा हो या ना सीखा हो पर संभलना जरूर सीख लिया.


सुगन्धित इत्र और इलाहाबादी मित्र
बड़े किस्मत वालों को ही मिलते है.


चलते फिरते हुए महताब दिखाएँगे तुम्हें,
हमसे मिलना कभी ‘इलाहबाद’ दिखायेंगे तुम्हें.


Allahabad Shayari in Hindi

जहाँ पर गीत-गजलें साथ में सब को सुनाई दे,
इलाहाबाद मजहब से परे मुझको दिखाई दे.


शरद में ठिठुरा हुआ मौसम लगा होने गुलाबी,
हो गया अपना इलाहबाद पेरिस, अबू धाबी.
जय कृष्ण राय तुषार


मजहब की लड़ाई से जो आबाद है,
वो भाईचारे का शहर इलाहबाद है.


Allahabad Status

वो प्रयागराज सी बदल तो गई मगर,
उसके दिल में मैं इलाहबाद सा रह गया हूँ.


मैं प्राचीन इलाहबाद सा,
तुम प्रयागराज सी नवीन प्रिये,
मुश्किल है अपना संगम प्रिये.


हम इलाहबाद के वासी है,
बदला नहीं लेते, बदल जाते है.


इलाहाबाद शायरी

मैं तेरे प्यार में इस तरह बर्बाद हो जाऊं,
तुम प्रयाग राज हो जाना मैं इलाहाबाद हो जाऊं.


तुम प्रयागराज सी नवीन प्रिये,
मैं इलाहाबाद सा पुराना,
प्रेम अगर थोड़ा भी हो
तो वक़्त निकालकर कमरे पर आना.


इलाहाबाद स्टेटस

लक्ष्य को पाने के जलती आग रखता हूँ,
मन में इलाहाबद और दिल में प्रयाग रखता हूँ.


संगम का किनारा, बजरंग बली का आशीर्वाद
हां कुछ ऐसा ही है हमारा शहर इलाहाबाद.


आसान नहीं है किसी के इश्क़ में यूं खो जाना,
खुद को मिटाकर, इलाहाबाद से प्रयागराज हो जाना.


इसे भी पढ़े –