ठहराव पर शायरी | Thahrav Shayari Status Quotes in Hindi

Thahrav Shayari

ठहराव पर शायरी | Thahrav Shayari Status Quotes Image in Hindi – इस आर्टिकल में ठहराव पर शायरी स्टेटस कोट्स आदि दिए हुए हैं. इसे जरूर पढ़े और शेयर करें.

जिंदगी में बहुत से ऐसे पल आ जाते है जब हमारे जीवन में ठहराव आ जाता है. इश्क़ में जो दिल टूट जाते है अक्सर उनके जीवन में ठहराव आ जाता है. जब इंसान के सपने टूट जाते है तो उसकी जिन्दगी में ठहराव आ जाता है. जब मृत्यु नजदीक आती है तो जिन्दगी में ठहराव आ जाता है.

ठहराव भी जिन्दगी का एक हिस्सा है. इंसान अपनी पूरी जिन्दगी भागता रहता है. भौतिक सुख को प्राप्त करने के लिए दिन-रात मेहनत करता है. झूठ बोलता है, अपराध करता है. न जाने क्या-क्या करता है. वह यह भूल जाता है कि उसके कर्मों का फल उसे यहीं भोगना है.

ठहराव पर शायरी

चलते-चलते जिन्दगी में ठहराव आ ही जाता है,
कितना भी रिश्तों को बचाओ अलगाव आ ही जाता है.


जिन्दगी बहाव से ठहराव तक,
जिन्दगी जुड़ाव से अलगाव तक.


मेरे जज्बातों का समन्दर
इस समन्दर से भी गहरा है,
नहीं मिलता इसे कोई किनारा
ये अब भी बीच मझधार में ठहरा है.


जो गाँव में रहते है उन्हें इक बार जरूर शहर जाना चाहिए,
कभी-कभी भागदौड़ भरी जिन्दगी में ठहर जाना चाहिए.


Thahrav Shayari

जो किसी दर पे न ठहरे वो हवा लगती हो
ज़ुल्फ़ लहराए तो आँचल में छुपा लेती हो
साहिर लुधियानवी


गुज़रते वक़्त की कोई निशानी साथ रखता हूँ
कि मैं ठहराव में भी इक रवानी साथ रखता हूँ
आफ़ताब हुसैन


मिरे ठहराव को कुछ और भी वुसअत दी जाए
अब मुझे ख़ुद से निकलने की इजाज़त दी जाए
सालिम सलीम


मैं भी रुकता हूँ मगर रेग-ए-रवाँ की सूरत
मेरा ठहराव रवानी की तरह होता है
फ़ैसल अजमी


Thahraao Shayari in Hindi

सोच में बदलाव और रिश्तों में ठहराव,
उतना ही महत्वपूर्ण है,
जितना जिन्दगी में दोस्त और परिवार.


ये रास्ते ही तो होते है,
जो खुद वहीं ठहरे रहते है,
आपको आपकी मंजिल तक
जरूर पहुँचाते है.


आँखों में सपनें के हिस्से
टूटे ख़्वाबों का बिखराव,
किससे कह दूँ टीस हृदय की
दे दे खुद में तू ठहराव.


ठहराव शायरी

अब के ख़िज़ाँ ऐसी ठहरी वो सारे ज़माने भूल गए
जब मौसम-ए-गुल हर फेरे में आ आ के दोबारा गुज़रे था
फ़ैज़ अहमद फ़ैज़


फिसलन ये किनारों पे ये ठहराव नदी का
सब साफ़ इशारे हैं कि गहराई बहुत है
अखिलेश तिवारी


सफ़र अपने ही भीतर कर रहा हूँ
मिरा ठहराव मुद्दत से रवाँ है
बकुल देव


ठहराव स्टेटस

कुछ पल के लिए ही सही जिन्दगी में
ठहराव बहुत ही जरूरी होता है.


इश्क ने जिन्दगी में ठहराव लाया,
दर्द को तब जाना जब दिल पर घाव आया.


उसके साथ एक ठहराव सा था सफर में,
उसके जाने के बाद जिन्दगी ही ठहर गई.


Thahrav Shayari in Urdu

ठहराव पानियों में है कितना अजीब सा
दरिया के ख़ुश-ख़िराम सफ़ीनों की ख़ैर हो
शबनम शकील


अजब ठहराव था जिस में मसाफ़त हो रही थी
रवाना भी नहीं था और हिजरत हो रही थी
फ़ज़्ल गीलानी


हर-नफ़स को अपनी मंज़िल का पता मिलता नहीं
जो जहाँ ठहराव हैं इक कारवाँ बनता गया
कलीम अहमदाबादी


ठहराव शायरी

चाहते जो अनगिनत है उन्हें थोड़ा ठहरने दे,
बेमतलब की ख्वाहिशों में खुद को न बहने दे.


रूक जा ऐ जिन्दगी थोड़ा ठहराव दे दे,
थक गये दौड़ते-दौड़ते अब थोड़ा छाँव दे दे.


हर सांस के दरमियान ठहराव है,
हर किसी के दिल में कोई न कोई घाव है.


इसे भी पढ़े –