किसान पर शायरी, कोट्स और स्टेटस | Farmers Shayari Quotes and Status

Kisan Shayari Status

Kisan Shayari Quotes Status Images in Hindi – भारतीय किसान सबसे ज्यादा मेहनत करते हैं और उनकी आर्थिक स्थिति आज भी उतनी अच्छी नही हैं जितनी होनी चाहिए. जब हम किसी किसान के दर्द या उसके भावनाओ को व्यक्त करना चाहते हैं तो हम शायरी या किसी कविता का सहारा लेते हैं.

इस पोस्ट में आपको किसान पर शायरी ( Shayari on Farmers ), किसान पर स्टेटस ( Status on Farmers ), किसान पर कविता ( Poem on Farmers ), Kisan Shayari, Farmer Shayari, Farmers Shayari आदि मिलेगा.

किसान पर शायरी हिंदी में | Shayari on Farmers in Hindi

जब कोई किसान या जवान मरता है,
तो समझना पूरा हिन्दुस्तान मरता है.


देर शाम खेत से किसान घर नहीं आता है,
तो बच्चों का मासूम दिल सहम जाता है.


कहाँ ले जाओगे किसान के हक का दाना,
इस दुनिया को एक दिन तुमको भी है छोड़ जाना।


ये सिलसिला क्या यूँ ही चलता रहेगा,
सियासत अपनी चालों से कब तक किसान को छलता रहेगा.


एक बार आकर देख कैसा, ह्रदय विदारक मंजर हैं,
पसलियों से लग गयी हैं आंते, खेत अभी भी बंजर हैं.


अन्नदाता शायरी

मुफ़्त की कोई चीज बाजार में नहीं मिलती,
किसान के मरने की सुर्खियां अखबार में नहीं मिलती।


एक ईमानदार किसान को डरे सहमे हुए देखा है,
मेहनत करने के बावजूद भूख से लड़ते हुए देखा है,


लोग कहते हैं बेटी को मार डालोगे,तो बहू कहाँ से पाओगे?
जरा सोचो किसान को मार डालोगे, तो रोटी कहाँ से लाओगे?


किसान की आह जो दिल से निकाली जाएगी
क्या समझते हो कि ख़ाली जाएगी


किसान खुल के हँस तो रहा हैं फ़क़ीर होते हुए,
नेता मुस्कुरा भी न पाया अमीर होते हुए.


Kisan Shayari

गरीब किसान को हैरान देखा,
जरूरतों से परेशान देखा,
देश कैसा अनोखा है
अन्नदाता ही भूखा है.


मर रहा सीमा पर जवान और खेतों में किसान,
कैसे कह दूँ इस दुखी मन से कि मेरा भारत महान.


किसानो से अब कहाँ वो मुलाकात करते हैं,
बस ऱोज नये ख्वाबो की बात करते हैं.


ज़िन्दगी के नगमे कुछ यूँ गाता,
मेहनत मजदूरी करके खाता,
सद्बुद्धि सबको दो दाता,
हम है, अगर हैं अन्नदाता.


शुक्र हैं कि बच्चे अब शर्म से नही मरेंगे,
चुल्लू भर पानी खुदा दे, दुआँ करेंगे.


ऐ ख़ुदा बस एक ख़्वाब सच्चा दे दे,
अबकी बरस मानसून अच्छा दे दे,


किसान शायरी

चीर के जमीन को, मैं उम्मीद बोता हूँ…
मैं किसान हूँ, चैन से कहाँ सोता हूँ…


फूल खिला दे शाखों पर, पेड़ों को फल दे मालिक,
धरती जितनी प्यासी हैं उतना तो जल दे मालिक.


दौर-ए-तरक्की में कोई दुःख भरी बात मत कहना,
क्या फ़र्क नहीं डालता किसी पर अन्न दाता का भूखे सो जाना?


किसान की समस्या खत्म नही होती,
नेताओ के पास पैकेज अस्सी हैं,
अंत में समस्या खत्म करने के लिए,
किसान चुनता रस्सी हैं.


क्यों ना सजा दी पेड़ काटने वाले शैतान को
खुदा तूने सजा दे दी सीधे-सादे किसान को.


Khet Ki Shayari in Hindi

भगवान का सौदा करता हैं,
इंसान की क़ीमत क्या जाने?
जो “धान” की क़ीमत दे न सक,
वो “जान ” की क़ीमत क्या जाने?


ये मौसम भी कितना बेईमान हैं,
बारिश न होने की वजह से मरा इक किसान हैं.


कोई परेशान हैं सास-बहू के रिश्तो में,
किसान परेशान हैं कर्ज की किश्तों में


मैं किसान हूँ मुझे भरोसा हैं अपने जूनून पर
निगाहे लगी हुई है आसमान के मानसून पर.


कहाँ छुपा के रख दूँ मैं अपने हिस्से की शराफ़त,
जिधर भी देखता हूँ उधर बेईमान खड़े हैं,
क्या खूब तरक्की कर रहा हैं अब देश देखिये,
खेतो में बिल्डर और सड़को पर किसान खड़े हैं.


Kisan Ka Beta Status in Hindi

खाट पर लेटा हूँ,
किसान का बेटा हूँ,
किस बात की सजा दी है,
इतनी मेहनत के बाद भी
इतनी परेशानी दी है.
माना बुरा हाल है
पर रखता तू ही ख्याल है.


किसान के लड़के ने अपने नाम के आगे “डाक्टर” जोड़ लिया,
गाँव में हल ने कोने में पड़े-पड़े दम तोड़ दिया.


उन घरो में जहाँ मिट्टी के घड़े रहते हैं,
कद में छोटे हो, मगर लोग बड़े रहते हैं.


ग़रीब के बच्चे भी खाना खा सके त्योहारों में,
तभी तो भगवान खुद बिक जाते हैं बाजारों में.


क्या दिखा नही वो खून तुम्हें,
जहाँ धरती पुत्र का अंत हुआ,
सच को ये सच नही मान रहा,
लो आँखों से अँधा भक्त हुआ.


Farmer Sad Shayari

खेतों को जब पानी की जरूरत होती है,
तो आसमान बरसता है या तो आँखें।


कितने अजब रंग समेटे हैं, ये बेमौसम बारिश खुद में,
अमीर पकौड़े खाने की सोच रहा हैं तो किसान जहर…


मत मारो गोलियो से मुझे मैं पहले से एक दुखी इंसान हूँ,
मेरी मौत कि वजह यही हैं कि मैं पेशे से एक किसान हूँ.


जिसकी आँखो के आगे,किसान पेड़ पे झूल गया,
देख आईना तू भी बन्दे,कल जो किया वो भूल गया.


Farmer Shayari

किस लोभ से “किसान” आज भी, लेते नही विश्राम हैं,
घनघोर वर्षा में भी करते निरंतर काम हैं.


दीवार क्या गिरी किसान के कच्चे मकान की,
नेताओ ने उसके आँगन में रस्ता बन दिया.


नही हुआ हैं अभी सवेरा, पूरब की लाली पहचान,
चिडियों के उठने से पहले, खाट छोड़ उठ गया किसान.


परिश्रम की मिशाल हैं, जिस पर कर्जो के निशान हैं,
घर चलाने में खुद को मिटा दिया, और कोई नही वह किसान हैं.


बढ़ रही हैं कीमते अनाज की,
पर हो न सकी विदा बेटी किसान की.


छत टपकती हैं उसके कच्चे मकान की,
फिर भी “बारिश” हो जाये, तमन्ना हैं किसान की.


हमने भी कितने पेड़ तोड़ दिए,
संसद की कुर्सियों में जोड़ दिए,
कुआँ बुझा दिए, नदियाँ सुखा दिए,
विकास की ताकत से कुदरत को झुका दिए.


किसान खुश है, बारिश खूब हुई है अबकी बरस,
खेत सींच दी है पर मकान का छत तोड़ दी है,


मैं एक गाँव से हूँ जहाँ में देखता हूँ. कैसे एक पढ़ा लिखा अधिकारी भी एक किसान को परेशान करता है. माना वो अशिक्षित है, उसे बात करने एक ढंग नहीं है. उसके कपडे पुराने और फटे है. पर वो इंसान है. किसान और गरीब सबसे ज्यादा प्रताड़ित पुलिस और नेताओ के द्वारा किया जाता है. ये गरीब किसान ही हमारे अन्नदाता है. आप इनका जरूर सम्मान करे और इनकी मदत करें।

इस आर्टिकल में बेहतरीन किसान शायरी, स्टेटस, कोट्स , Farmer Kisan Shayari Status Quotes Hindi दिए हुए है. आशा करता हूँ कि आपको ये जरूर पसंद आये होंगे। आप अपने विचार हमसे जरूर साझा करे. पेज को लिखे और शेयर भी करे.

इसे भी पढ़े –