सर्वोच्च न्यायालय की पूरी जानकारी | Supreme Court in Hindi

Supreme Court in Hindi

Supreme Court in Hindi – भारतीय न्याय व्यवस्था के शीर्ष पर उच्चतम न्यायालय हैं. इसे सर्वोच्च न्यायालय भी कहते हैं. यह न्यायालय देश की राजधानी दिल्ली में स्थित हैं. सर्वोच्च न्यायालय भारतीय संविधान और नागरिकों के मौलिक अधिकारों का स्वतंत्र एवं निष्पक्ष प्रहरी होने के साथ ही देश का सर्वोच्च एवं अंतिम न्यायालय हैं. इसके अधीन भारतीय संघ के विभिन्न राज्यों में उच्च न्यायालय स्थापित हैं. इन उच्च न्यायालयों के अधीनस्थ अन्य न्यायालय हैं. उच्चतम न्यायालय या सुप्रीम कोर्ट 26 जनवरी , 1950 को अस्तित्व में आया और भारत के गणतंत्र बनने के दो दिन बाद यानी 28 जनवरी, 1950 को इसमें काम करना आरम्भ हुआ.

वर्तमान समय में उच्चतम न्यायलय या सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई ( Ranjan Gogoi ) हैं, इनकी नियुक्ति 03 अक्टूबर, 2018 को हुई.

सर्वोच्च न्यायालय में न्यायधीशों की संख्या | Number of Judges in the Supreme Court

संविधान के अनुच्छेद 124 (1) की व्यवस्था के अनुसार, सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की संख्या में संसद क़ानून पारित करके परिवर्तन कर सकती हैं. यद्यपि संविधान के द्वारा न्यायाधीशों की संख्या निश्चित नहीं की गई हैं. संसद अब तक विभिन्न अधिनियमों द्वारा न्यायाधीशों की संख्या में वृद्धि कर चुकी हैं. वर्तमान समय में उच्चतम न्यायालय में एक मुख्य न्यायाधीश और 30 अन्य न्यायाधीश (कुल 31) न्यायधीश हैं.

न्यायाधीशों की नियुक्ति | Appointment of Judges

सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य और अन्य न्यायाधीशों की नियुक्ति राष्ट्रपति के द्वारा की जाती हैं. अन्य न्यायाधीशों की नियुक्ति में राष्ट्रपति मुख्य न्यायाधीश से परामर्श अवश्य लेता हैं. विशिष्ट स्थितियों में सर्वोच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश भारत के राष्ट्रपति से अनुमति प्राप्त कर “तदर्थ न्यायाधीशों ( Adhoc Judges )” की नियुक्ति भी कर सकता हैं.

न्यायाधीशों की योग्यताएं | Eligibility of Judges

  • वह भारत का नागरिक हो.
  • वह किसी उच्च न्यायालय अथवा दो या दो से अधिक न्यायालयों में लगातार कम से कम 5 वर्ष तक न्यायधीश के रूप में कार्य कर चूका हो. अथवा किसी उच्च न्यायालय अथवा दो या दो से अधिक न्यायालयों में लगातार 10 वर्ष तक अधिवक्ता रह चुका हो.
  • राष्ट्रपति की दृष्टि में क़ानून का उच्च कोटि का ज्ञाता हो.

न्यायाधीशों का कार्यकाल तथा महाभियोग | Judge’s Tenure and Impeachment

सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश 65 वर्ष की आयु तक अपने पद पर रह कर कार्य कर सकते हैं, परन्तु इससे पूर्व भी यदि कोई न्यायधीश चाहे तो अपने पद से त्याग-पत्र दे सकता हैं. इसके अतिरिक्त यदि संसद के दोनों सदन अलग-अलग संसद के एक ही सत्र में अपने उपस्थित तथा मतदान करने वाले सदस्यों के दो तिहाई बहुमत से पारित प्रस्ताव द्वारा किसी न्यायाधीश को दुराचारी या अयोग्य घोषित करके, राष्ट्रपति से प्रार्थना करे कि उसे उसके पद से हटा दिया जाए, तो राष्ट्रपति उस न्यायाधीश को अपने पद से त्याग-पत्र देने का आदेश दे सकता हैं और उस न्यायाधीश को त्याग-पत्र देना पड़ता हैं.

न्यायाधीशों पर प्रतिबन्ध | Ban on Judges

सेवा निवृत होने के बाद उच्चतम न्यायालय का कोई भी न्यायाधीश भारत राज्य क्षेत्र के किसी भी न्यायालय अथवा अन्य पदाधिकारी के समक्ष वकालत नहीं कर सकता और न वह किसी अन्य रूप में किसी न्यायालय में कोई ऐसा कार्य ही कर सकता हैं, जिससे न्याय व्यवस्था प्रभावित होती हो.

भारत के मुख्य न्यायाधीशों की सूचीं | List of Chief Justices of India in Hindi

क्र. सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश कार्यकाल की शुरूआत कार्यकाल की समाप्ति
1 न्यायमूर्ति श्री एच. जे. कनिया 26 जनवरी, 1950 6 नवम्बर, 1951
2 न्यायमूर्ति श्री एम॰ पी॰ शास्त्री 7 नवम्बर, 1951 3 जनवरी, 1954
3 न्यायमूर्ति श्री मेहरचंद महाजन 4 जनवरी, 1954 22 दिसम्बर, 1954
4 न्यायमूर्ति श्री बिजन कुमार मुखरजी 23 दिसम्बर, 1954 31 जनवरी, 1956
5 न्यायमूर्ति श्री सुधी रंजन दास 1 फ़रवरी, 1956 30 सितम्बर, 1959
6 न्यायमूर्ति श्री भुवनेश्वर प्रसाद सिन्हा 1 अक्टूबर, 1959 31 जनवरी, 1964
7 न्यायमूर्ति श्री पी. बी. गजेंद्रगाधर 1 फ़रवरी, 1964 15 मार्च, 1966
8 न्यायमूर्ति श्री अमल कुमार सरकार 16 मार्च, 1966 29 जून,1966
9 न्यायमूर्ति श्री कोका सुब्बा राव 30 जून, 1966 11 अप्रैल, 1967
10 न्यायमूर्ति श्री कैलाश नाथ वान्चू 12 अप्रैल, 1967 24 फ़रवरी, 1968
11 न्यायमूर्ति श्री मोहम्मद हिदायतुल्ला 25 फ़रवरी, 1968 16 दिसम्बर, 1970
12 न्यायमूर्ति श्री जयंतीलाल छोटालाल शाह 17 दिसम्बर, 1970 21 जनवरी, 1971
13 न्यायमूर्ति श्री सर्व मित्रा सिकरी 22 जनवरी, 1971 25 अप्रैल, 1973
14 न्यायमूर्ति श्री एन॰ एन॰ रे 26 अप्रैल, 1973 27 जनवरी, 1977
15 न्यायमूर्ति श्री मिर्जा हमीदुल्ला बेग 28 जनवरी, 1977 21 फरवरी, 1978
16 न्यायमूर्ति श्री वाई॰ वी॰ चंद्रचूड़ 22 फरवरी, 1978 11 जुलाई, 1985
17 न्यायमूर्ति श्री पी॰ एन॰ भगवती 12 जुलाई, 1985 20 दिसम्बर, 1986
18 न्यायमूर्ति श्री रघुनंदन स्वरुप पाठक 21 दिसम्बर, 1986 18 जून, 1989
19 न्यायमूर्ति श्री ई॰ एस॰ वेंकटरमैय्या 19 जून, 1989 17 दिसम्बर, 1989
20 न्यायमूर्ति श्री सब्यसाची मुखर्जी 18 दिसम्बर, 1989 25 सितम्बर,1990
21 न्यायमूर्ति श्री रंगनाथ मिश्र 26 सितम्बर, 1990 24 नवम्बर, 1991
22 न्यायमूर्ति श्री कमल नरायण सिंह 25 नवम्बर, 1991 12 दिसम्बर, 1991
23 न्यायमूर्ति श्री मधुकर हीरालाल कनिया 13 दिसम्बर, 1991 17 नवम्बर, 1992
24 न्यायमूर्ति श्री ललित मोहन शर्मा 18 नवम्बर, 1992 11 फरवरी, 1993
25 न्यायमूर्ति श्री एम॰ एन॰ वेंकटचेलैय्या 12 फरवरी, 1993 24 अक्टूबर, 1994
26 न्यायमूर्ति श्री अज़ीज़ मुशब्बेर अहमदी 25 अक्टूबर, 1994 24 मार्च, 1997
27 न्यायमूर्ति श्रीजगदीश शरण वर्मा 25 मार्च, 1997 17 जनवरी, 1998
28 न्यायमूर्ति श्री मदन मोहन पुंछी 18 जनवरी, 1998 9 अक्टूबर, 1998
29 न्यायमूर्ति श्री आदर्श सेन आनंद 10 अक्टूबर, 1998 31 अक्टूबर, 2001
30 न्यायमूर्ति श्री एस॰ पी॰ भरुचा 1 नवम्बर, 2001 5 मई, 2002
31 न्यायमूर्ति श्री भूपिंदर नाथ कृपाल 6 मई, 2002 7 नवम्बर, 2002
32 न्यायमूर्ति श्री गोपाल बल्लव पटनायक 8 नवम्बर, 2002 18 दिसम्बर, 2002
33 न्यायमूर्ति श्री वी॰ एन॰ खरे 19 दिसम्बर, 2002 1 मई, 2004
34 न्यायमूर्ति श्री एस. राजेन्द्र बाबू 2 मई, 2004 31 मई, 2004
35 न्यायमूर्ति श्री रमेश चन्द्र लहोटी 1 जून, 2004 31 अक्टूबर, 2005
36 न्यायमूर्ति श्री योगेश कुमार सभरवाल 1 नवम्बर, 2005 13 जनवरी, 2007
37 न्यायमूर्ति श्री के॰ जी॰ बालकृष्णन 14 जनवरी, 2007 12 मई, 2010
38 न्यायमूर्ति श्री एस॰ एच॰ कपाड़िया 12 मई, 2010 28 सितम्बर, 2012
39 न्यायमूर्ति श्री अल्तमस कबीर 29 सितम्बर, 2012 18 जुलाई, 2013
40 न्यायमूर्ति श्री पी. सथासिवम 19 जुलाई, 2013 26 अप्रैल, 2014
41 न्यायमूर्ति श्री राजेंद्र मल लोढ़ा 27 अप्रैल, 2014 27 सितम्बर, 2014
42 न्यायमूर्ति श्री एच॰ एल॰ दत्तू 28 सितम्बर, 2014 2 दिसम्बर, 2015
43 न्यायमूर्ति श्री टी॰ एस॰ ठाकुर 3 दिसम्बर, 2015 3 जनवरी, 2017
44 न्यायमूर्ति श्री जगदीश सिंह खेहर 4 जनवरी, 2017 27 अगस्त, 2017
45 न्यायमूर्ति श्री दीपक मिश्रा 28 अगस्त, 2017 2 अक्टूबर, 2018
46 न्यायमूर्ति श्री रंजन गोगोई 3 अक्टूबर, 2018 अब तक