जिंदगी की दौड़ में रुकना मना है – Motivational Tips For Student

हेलो दोस्तों! इस प्रतिस्पर्धा भरी जिंदगी में सिर्फ भागना ही नहीं है  रफ़्तार भी चाहिए. इस भागती दौड़ती जिंदगी में आप एक घंटे भी बर्बाद नही करना चाहेंगे क्योकि आप को एक निर्धारित समय में निर्धारित लक्ष्य को पाना है. इसके लिए जरूरी है कि आप स्वास्थ रहे.

मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने की टिप्स

कुदरत का  अनमोल तोहफा आपकी “सेहत भरी जिन्दगी है”. इस मशीन युग और प्रदुषण भरी दुनिया में अगर आप अपने स्वास्थ पर ध्यान नहीं देते है तो वह भी आपका साथ छोड़ सकती है, अभी नहीं तो शायद कुछ साल बाद. अगर आप वाकई खुद को सफल देखना चाहते है तो आप को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना जरूरी है. मैं भी एक विद्यार्थी हूँ और मैं अपने दोस्तों और आस-पास बहुत ऐसे लोगो को देखा है जो की ख़राब स्वास्थ की वजह से अपने लक्ष्य तक नही पहुच पाए है. खुद को कैसे स्वस्थ रखे इसके लिए आप नीचे दिए महत्वपूर्ण बिंदु को जरूर पढ़े.

  1. ईश्वर का ध्यान भी सेहत से जुड़ा है क्योंकि यह आपको पॉजिटिव सोंचने में मदद करता है. इसलिए कोशिश करे कि प्रतिदिन आप ईश्वर का ध्यान करे. इससे आप मानसिक रूप से चुस्त होंगे.
  2. हमरी जिभ्वा पर सरस्वती वास करती है इसलिए अपने और दुसरो के बारे में हमेशा अच्छा सोचे. ऐसा भी हो सकता है कि आप की सोची हुई बात सच हो जाये. अच्छा सोचने से हमारे शारीर और मस्तिस्क में सकारात्मक उर्जा का संचार होता है. जोकि हमारे स्वास्थ के लिए जरूरी है.
  3. आप पूरे दिन में 10 या 15 मिनट के लिए ध्यान (योग) जरूर करे. इससे आपकी मानसिक तनाव दूर हो जाएगी. अगर आप इसे प्रतिदिन नही कर सकते तो सप्ताह में कम से कम एक बार जरूर करे.
  4. आप प्रतिदिन व्यायाम जरूर करे. इन्टरनेट से व्यायाम की जानकारी लेकर अपने घर पर कर सकते है. आप मोर्निंग वाक (सुबह में टहलना) भी कर सकते है. इससे आप शारीरिक रूप से स्वस्थ होंगे.
  5. आप शारीरिक स्वास्थ के लिए घरेलू काम भी कर सकते है. लिफ्ट की जगह आप सीढियों का इस्तेमाल करे. आप के पैर के लिए यह एक अच्छा कसरत होता है.
  6. काफी देर तक कुर्सी पर बैठ कर पढाई करने से अकसर कमर और गर्दन में दर्द होने लगता है. अगर आप कुर्सी पर बैठ कर लम्बे समय तक पढाई करते है तो आप बीच बीच में 5 या 10 मिनट के लिए आस पास टहल ले फिर पढाई शुरू करे.
  7. आप खुद को अच्छी बातो के लिए उत्साहित करे इससे आप को आंतरिक ख़ुशी मिलेगी और अगर कोई आप बहार हतोत्साहित करता है तो आप अपने आप को उत्साहित रख सकते है.
  8. जीवन का खरा सोना स्वास्थ है इसे आप बेहतर बनाए रखे और जीवन में खुश रहे और आप अपने लक्ष्य की प्राप्ति करे

भगवान् का ये अद्भुत मशीन जोकि मानव शरीर है इसे हमें क्रियावान बनाये रखने के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए अन्यथा इसपर जंग लग जाती है जो कई तरह की बिमारियों में तब्दील हो आती है. इसिलए आज से ही अपने जिंदगी में ये बदलाव लेकर आये और जीवन को सफल बनाये.