चीन की विशाल दीवार की रोचक जानकारियाँ | Great Wall of China in Hindi

Great Wall of China

Great Wall of China History in Hindi – चीन की विशाल दीवार की ऊँचाई, लम्बाई, किसने बनाया और भी महत्वपूर्ण जानकारियाँ, Great Wall of India की जानकारी, के लिए इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े.

Great Wall of China : चीन की विशाल दीवार मिटटी और पत्थर से बनी हुई हैं. 5वीं शताब्दी ईसा पूर्व से लेकर 16वीं शताब्दी तक, उत्तरी हमलावरों से रक्षा के लिए विभिन्न शासकों के द्वारा बनवाया गया.

Interesting Facts about Great Wall of China | चीन की विशाल दीवार के बारें में रोचक तथ्य

  1. चीन की विशाल दीवार विश्व के 7 अजूबों में प्रसिद्ध हैं. Great Wall of China को पर्यटकों के लिए 1970 में खोला गया.
  2. यह दीवार विश्व में चीन का नाम ऊंचा करती है, व युनेस्को द्वारा 1987 से विश्व धरोहर घोषित है.
  3. China Ki Diwar Ki Lambai Kitni Hai – ‘चीन की विशाल दीवार’ 6,400 किमी. (10,000 ली, चीनी लम्बाई मापन इकाई) के क्षेत्र में फैली हैं. यह दीवार पूर्व में शानहाइगुआन से पश्चिम में लोप नुर तक है और कुल लंबाई लगभग 6,700 किमी. (4160 मील) है. पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के ताजा सर्वेक्षण के अनुसार यह दीवार, अपने सारे शाखाओ सहित 8,851 किमी. तक फैला हैं. यह एक पूरी दीवार नही हैं बल्कि छोटे-छोटे हिस्सों से मिलकर बनी हैं.
  4. Great Wall of China इकलौता मानव निर्मित आकृति हैं जिसको अन्तरिक्ष से देखा जा सकता हैं.
  5. इस महान दीवार को बनाने में लगभग 20 – 30 लाख लोगो ने काम किया था और दीवार बनाने के दौरान लगभग ‘चार लाख’ लोगी की मौत हुई थी.
  6. इस महान दीवार की अधिक्तम ऊँचाई 35फुट हैं जबकि कुछ जगहों पर 8-9 फुट ही ऊँची हैं.
  7. ‘चीन की विशाल दीवार’ के चीनी चीनी भाषा में ‘वान ली छांग छंग‘ कहते हैं.
  8. इस दीवार की चौड़ाई का अनुमान इससे लगाया जा सकता हैं कि इस पर 5 घुड़सवार या 10 पैदल सिपाही एक साथ चल सकते हैं.
  9. China Ki Diwar Kisne Banaya – चीन की विशाल दीवार का पूरा निमार्ण किसी एक राजा या सम्राट के द्वारा नही किया गया. इसे बनाने में कई राजाओ और सम्राटों का योगदान हैं.
  10. इस महान दीवार को देखने के लिए प्रतिवर्ष करोंड़ों पर्यटक विभिन्न देशो से आते हैं.
  11. चीन की विशाल दीवार पर दूर आती शत्रुओ पर निगरानी रखने के लिए मीनारे बनी हैं.
  12. प्रसिद्धतम दीवारों में से एक 220-206 ईसा पूर्व में चीन के प्रथम सम्राट “किन शी हुआंग” ने बनवाई थी. उस दीवार के अंश के कुछ ही अवशेष बचे हैं.
  13. कुछ हमलावर ऐसे भी हुए जिन्होंने चीन की विशाल दीवार की सुरक्षा को तोड़कर चीन आये. जैसेकि 1211 में “चंगेज खान” इस दीवार को तोड़कर चीन आया था.
  14. इस दीवार के बारे में ऐसा कहा जाता हैं कि यह “विश्व का सबसे लम्बा कब्रिस्तान” हैं, माना जाता हैं कि जो मजदूर कठिन परिश्रम नही करते थे उन्हें दीवार में दफ़न कर दिया जाता था.

Great Wall of India in Hindi | भारत की विशाल दीवार हिंदी में

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि दुनिया की दूसरीं सबसे ऊँची दीवार भी मौजूद हैं. यह दीवार भारत के राजस्थान राज्य के कुम्भलगढ़ गाँव में स्थित हैं. यह एक एतिहासिक महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल हैं.

Great Wall of India

Interesting Facts about Great Wall of India | भारत की विशाल दीवार के बारें में रोचक तथ्य

  1. शत्रुओ से रक्षा के लिए इस किले के चारों ओर दीवार का निर्माण किया गया था. ऐसा मन जाता हैं कि ‘चीन की महान दीवार’ के बाद यह एक सबसे लमही दीवार हैं.
  2. इस दुर्ग के अंदर 300 प्राचीन जैन मंदिर और बाकी हिन्दू मंदिर हैं.
  3. इस दीवार का निमार्ण 1443 में शुरू होकर 1458 में खत्म हुआ.
  4. कुम्भलगढ़ किले की सुरक्षा दीवार की लम्बाई 36 किमी. हैं. यह चीन की विशाल दीवार से 588 गुना छोटी हैं इसके बावजूद यह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी दीवार हैं.
  5. इस दीवार की चौड़ाई ‘चीन के विशाल दीवार’ की चौड़ाई से लगभग दुगनी हैं.
  6. राणा कुम्भा ने इसका निर्माण शुरू करवाया पर निर्माण कार्य आगे नहीं बढ़ पाया, निर्माण कार्य में बहुत अड़चने आने लगी. तब एक संत को बुलाकर उसका कारण पूछा तब संत ने बलि चढ़ाने की बात कही. बलि ऐसे व्यक्ति की होनी चाहिए जो अपनी स्वेच्छा से बलि देने को तैयार हो. राजा चिंतित हो गये और सोचने लगे अपनी स्वेच्छा से कौन बलि देगा. तभी संत ने कहा, वह स्वयं बलिदान के लिए तैयार हैं.
  7. संत की जहाँ पर बलि चढ़ाई गई और सिर को धड़ अलग कर दिया गया. जहाँ पर संत का सिर गिरा उसे मुख्य द्वारा बनाया गया और जहाँ पर धड़ गिरा उसे दूसरा मुख्य द्वार बनाया गया.