पपीता खाने के लाभ | Benefits of Papaya ( Papita )

Benefits of Papaya in Hindi

Benefits of Papaya in Weight Loss, Papaya Leaf benefits and Raw Papaya Benefits in Hindi – पपीता एक फल के रूप में खाया जाता हैं. कच्चा पपीता हरे रंग का होता हैं और पकने के पर पीले रंग का हो जाता हैं. कच्चे पपीते की सब्जी या टिक्की बनाकर खाते हैं. पका पपीता नमक के साथ आसानी से खा सकते हैं, इसका स्वाद मीठा होता हैं. पपीते का जूस, जेली और जैम बनाकर भी इसे प्रयोग में लाया जाता हैं. पपीता खाने से स्वास्थ संबंधी कई फायदें हैं इसलिए लोग अक्सर अपने घरों के बाहर पपीते का पेड़ लगाते हैं.

पपाया (Papaya) में एंजाइम, फाइबर, मैग्नीशियम, आयरन और विटामिन ए, सी आदि प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. पपीता एंटी-ऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्त्रोत हैं.

वजन घटाने में पपीते का लाभ | Papaya Benefits Weight Loss in Hindi | Raw Papaya Benefits in Hindi

कच्चे पपीते को खाने से वजन कम होता हैं. आप कच्चे पपीते की सब्जी या हलवा बनाकर इसे खाने में प्रयोग कर सकते हैं. हफ्ते में क़रीब 3 से 4 बार अलग-अलग दिन खाएँ. आप ख़ुद देखेंगे कि आपका फैट धीरे-धीरे कम हो जाएगा. सब्जी बनाने के लिए कच्चे पपीते में पानी डालकर ( पपीते के अनुसार पानी डाले ) हल्की आँच पर 20-25 मिनट तक इसे पकने दे. जब पपीता अच्छी तरह गल जाए तो बड़ी चम्मच से मैश कर ले और स्वादानुसार नमक या चीनी मिलाकर खा सकते हैं.

मोटापा या चर्बी ( FAT ) ना तो एक दिन में बनती हैं और ना ही इसे एक दिन में हटाया जा सकता हैं इसलिए अपनी जीवन शैली में सुधार कर संतुलित आहार के साथ नियमित व्यायाम करें. अगर आप पेट की चर्बी से निजात पाना चाहते हैं तो तेल, मसाले और जंक फ़ूड, बिस्किट जैसे चीजों को न खाएं.

पपीते के पत्तो से लाभ | Papaya Leaf Benefits in Hindi

डेंगू ( Dengue ) और चिकनगुनिया ( Chikunguniya ) की चपेट में अक्सर लोग आ जाते हैं और ऐसी बीमारियों में दवाएँ भी जल्दी काम नही करती हैं. ऐसे में पपीता के पत्तो का जूस एक भरोसेमंद और दुष्प्रभावरहित उपाय हैं. डेंगू या चिकनगुनिया होने पर प्लेटलेट तेजी से कम होते हैं. ऐसे में पपीते के पत्ते का जूस प्लेटलेट कम होने से रोकता हैं और प्लेटलेट को बढ़ाता भी हैं.

पपीते के पत्तो का रस कैसे बनाएँ

  1. सबसे पहले आप मध्यम आकर के पपीते के पत्ते ले और इसे अच्छे से धो ले. फिर इनको छोटे-छोटे टुकड़ो में काट ले ताकि जिस बतर्न में में आप पानी के साथ डालेंगें उसमें आसानी से आ सके.
  2. एक पैन में 2 लीटर पानी उबलने के लिए गैस पर रखे और उसमे पपीते के पत्तो के टुकड़े डाल दे.
  3. पानी को तब तक उबाले जब तक पानी एक लीटर न हो जाएँ.
  4. अब पत्तो को अच्छे से मसल कर उस पानी को छान ले और एक साफ़-सुथरे बर्तन में रख ले.
  5. इस पानी का उपयोग आप एक से दो दिन कर सकते हैं पर कोशिश करे ताजा रहें तो ज्यादा अच्छा हैं.

नोट – डेंगू या चिकनगुनिया होने पर या इसकी सम्भावना होने पर तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें.

पपीतें के अन्य फायदें | Other Benefits of Papaya

  1. पपीते में विटामिन A भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं, यह आँखों की ज्योति बढ़ाने में काफ़ी लाभदायक होता हैं.
  2. पपीता एक तरह से एंटी एजिंग का काम करता हैं. यह मुहासें, झुरिया और दाग धब्बे आदि को दूर करता हैं. पके पपीते के गुदे अपने चेहरे पर लगाये और कुछ समय के लिए रहने दे. फिर पानी से चेहरे को धो ले. आपकी चेहरे में निखर आएगा और अन्य लाभ भी मिलेगा.
  3. पपीता भूख व शक्ति बढाता है, पपीता कब्ज व आंव-दस्त जैसे रोगों को भी ठीक करता हैं.
  4. पपीते का रस अरूचि, नींद न आना और सिर दर्द को ठीक करने में मदत करता हैं.
  5. पपीता पेट रोग, हृदय रोग, आंतों की कमजोरी आदि को दूर करता हैं.
  6. जो महिलायें स्तन के दूध की कमी से परेशान हैं. कच्चा पपीता स्तन के दूध को बढ़ाने में मददगार होता हैं.
  7. पीलिया में पपीता बहुत फायदेंमंद होता हैं.
  8. पपीता का इस्तेमाल आपके बालों के लिए फायदेंमंद होता हैं. इसमें विटामिन ए होनी की वजह से यह बालों के ग्रोथ के लिए काफी फायदेमंद हैं.