Tanhai Shayari | तन्हाई शायरी

कुछ कर गुजरने की चाह में कहाँ-कहाँ से गुजरे,
अकेले ही नजर आये हम जहाँ जहाँ से गुजरें.


कुदरत के इन हसीन नजारों का हम क्या करें,
तुम साथ नहीं तो इन चाँद सितारों का क्या करें.
Tanhai Shayari in Hindi for Boyfriend


ख्व़ाब बोये थे और अकेलापन काटा हैं.
इस मोहब्बत में यारों बहुत घाटा हैं.
Leave me Tanhai Shayari in Hindi


एक पुराना मौसम लौटा याद भरी पुरवाई भी,
ऐसा तो कम ही होता है वो भी हो तन्हाई भी.


- Advertisement -

क्या लाजवाब था तेरा छोड़ के जाना,
भरी भरी आँखों से मुस्कुरायें थे हम,
अब तो सिर्फ मैं हूँ और तेरी यादें हैं,
गुजर रहे हैं यूँ ही तन्हाई के मौसम.


ना जाने क्यूँ खुद को अकेला सा पाया है,
हर एक रिश्ते में खुद को गँवाया है।
शायद कोई तो कमी है मेरे वजूद में,
तभी हर किसी ने हमें यूँ ही ठुकराया है.


चल कोई बात नहीं,
तू जो मेरे साथ नहीं,
मैं रो दूँ तेरे जाने के बाद
इतनी भी तेरी औकात नहीं.


इसे भी पढ़े –

Latest Articles