इस्तीफा पर सुविचार | Resignation Quotes in Hindi

Resignation Quotes Thoughts Sayings Suvichar Image Photo in Hindi – इस आर्टिकल में इस्तीफा पर सुविचार अनमोल वचन दिए हुए है.

इस्तीफा कुछ लोग अपनी स्वेच्छा से करते है और कुछ लोगो से इस्तीफा लिया जाता है. जो लोग काबिल होते है वही इस्तीफा देते है ताकि वे भविष्य में कुछ और बेहतर कर सके. जिन लोगो से इस्तीफ़ा लिया जाता है अक्सर उनमें कुछ कमियां होती है. इस्तीफा देना के बाद हर किसी को जीवन में आगे बढ़ने का प्रयास करना चाहिए।

Resignation Quotes in Hindi

Resignation Quotes in Hindi
Resignation Quotes in Hindi | इस्तीफा पर अनमोल विचार

अगर आपको लगता है
कि आप जीवन में कुछ बड़ा कर सकते है,
तो नौकरी से इस्तीफा देकर शादी से पहले
छोटा या बड़ा रिस्क ले सकते है.


विवाहित पुरुष को इस्तीफा देने से
पहले परिवार के बारे में भी सोचना पड़ता है
जबकि अविवाहित पुरूष बिना सोचे
अपना इस्तीफा दे देता है.


- Advertisement -

प्राइवेट कम्पनी के कर्मचारी को
इतनी काबीलियत रखनी चाहिए
कि कम्पनी का मालिक कभी भी
उससे इस्तीफा ना माँगे।


जो क्रोध में आकर इस्तीफा देते है,
वे अक्सर अपना ही नुकसान कर लेते है,
लेकिन जो रणनीति बनाकर इस्तीफा देते है
वे अपनी जिंदगी में कुछ बड़ा करते है.


इस्तीफा देकर अगर तुम
आलसी और बेरोजगार बन सकते हो,
तो इस्तीफा मत दो. कुछ बेहतर करने
का प्रयास करो.


इस्तीफा पर सुविचार

इस्तीफा पर सुविचार
इस्तीफा पर सुविचार | Thoughts on Resignation in Hindi

इस्तीफा देने से वही डरते है,
जो नौकरी पाने के लिए कम
मेहनत करते है.


इस्तीफा देकर अगर व्यवसाय करने
की सोच रहे है तो खूब परिश्रम करने के लिए
और मुसीबतों से लड़ने के लिए हमेशा तैयार रहे.


हर इंसान जिम्मेदारियों से इस्तीफा
देना चाहता है लेकिन ये जिंदगी
स्वीकार ही नहीं करती है.


तू कयामत तक धरने पर बैठ ऐ जिन्दगी,
मैं कोशिशों से कभी इस्तीफा नहीं दूँगा।


यदि आप अपने पद और शक्ति का
उपयोग सच और न्याय के लिए नहीं
कर सकते है तो इस्तीफा दे देना
बेहतर होता है.


Resignation Thoughts in Hindi

Resignation Thoughts in Hindi
Resignation Thoughts in Hindi | इस्तीफा विचार हिंदी में

जीवन में ख्वाब अधूरे है,
तो इस्तीफा दे दो यारों,
जिंदगी दोबारा नहीं मिलेगी
पर नौकरी मिल जाएगी।


इस्तीफा एक सोचा समझा
फैसला होता है जिसे कभी भी
आसानी से बदला नहीं जा सकता।


जब काम थकाने लगे,
सुबह ऑफिस जाना
तुम्हें डराने लगे तो
इस्तीफा दे देना ही
अच्छा होता है.


अरूचिकर कार्य आलसी बना देता है,
आलस्य इंसान को बीमार बना देता है,
बीमारी चिंता और तनाव को बढाती है,
इसलिए अरूचिकर कार्य करने से ज्यादा
अच्छा है कि आप इस्तीफा दे दें.


कंपनी में वे लोग जोर देकर
आपको इस्तीफा देने के लिए कहते है,
जिनकी नौकरी बच जायेगी
आपके इस्तीफा देने की वजह से.


इसे भी पढ़े –

Latest Articles