हुनर शायरी | Hunar Shayari

Hunar Shayari

Hunar Shayari in Hindi ( Ttalent Shayari ) – हर इंसान में कोई न कोई हुनर होता हैं जिसकी वजह से इंसान खुद पर गर्व भी करता हैं. इस पोस्ट में बेहतरीन हुनर शायरी, Hunar Shayari, Hunar 2 Line Shayari, Urdu Shayari on Hunar, Hunar Ki Tareef Shayari और Hunar Status Hindi आदि दिए हुए हैं. इन शायरी को जरूर पढ़े और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करें.

बेस्ट हुनर शायरी | Best Hunar Shayari

जमाने में आये हो तो जीने का हुनर रखना,
दुश्मनों का कोई खतरा नहीं, बस अपनों पर नजर रखना.


एक रास्ता ये भी है मंजिलों को पाने का,
सीख लो तुम भी हुनर हाँ में हाँ मिलाने का.


छोटी से उम्र में बड़े तजुर्बे करवा दिए,
पेट की भूख ने सैकड़ों हुनर सिखा दिए.
Hunar Shayari 2 Line


जिन्दगी में ये हुनर भी आजमाना चाहिए,
अपने से हो जंग तो हार जाना चाहिए.


सोचों तो एक खूबसूरत हुनर है खामोश रहना,
अकेले में सोचना, कितना बड़ा ऐब है सब कुछ कहना.


हुनर तो सबमें होता है फर्क सिर्फ़ इतना आता है,
किसी का छिप जाता है तो किसी का छप जाता हैं.


दिल का दर्द अक्सर आँखों में आँसू लाता हैं,
सिर्फ़ इंसान इन्हें छुपाने का हुनर सीख जाता हैं.


खुद को मनवाने का मुझको भी हुनर आता है,
मैं वह कतरा हूँ समन्दर मेरे घर आता हैं.
वसीम बरेलवी
Urdu Shayari on Hunar


हम भी दरिया हैं हमें अपना हुनर मालूम हैं,
जिस तरफ भी चल पड़ेंगे रास्ता हो जाएगा.
वशीर बद्र


जाने उस शख्स को कैसे ये हुनर आता है,
रात होती है तो आँखों में उतर आता है,
मैं उस के ख्यालों से बच के कहाँ जाऊं,
वो मेरी सोच के हर रस्ते पर नजर आता हैं.


मशहूर होने का हुनर हम भी रखते हैं,
पर कोई काम बेईमानी से नही करते हैं.


मुफ्त में नहीं सीखा उदासी में मुस्कुराने का हुनर,
बदले में जिन्दगी की हर ख़ुशी तबाह की हैं.


औरों के जोर पर अगर उड़कर दिखाओगे,
अपने पैरों से उड़ने का हुनर भूल जाओगे.
Hunar Ki Tareef Shayari