गणेश चतुर्थी शायरी 2021 | Ganesh Chaturthi Shayari Status

Ganesh Chaturthi Shayari Status in Hindi ( गणेश चतुर्थी शायरी स्टेटस ) – गणेश जी का जन्मदिन यानि “गणेश चतुर्थी” हम बड़े धूम-धाम से मनाते हैं और अपने ख़ुशी जाहिर करने के लिए  और दूसरो को शुभ कामनाएँ भेजने के लिए भगवान् गणेश कोट्स (Bhagwan Ganesh Quotes), भगवान् गणेश शायरी (Bhagwan Ganesh Shayari) और गणपति शायरी (Ganpati Shayari) का प्रयोग करते हैं. इस पोस्ट में आपको बहुत सारे और अच्छे-अच्छे भगवान् गणेश पर शायरी (Bhagwan Ganesh Pr Shayari) मिलेंगे.

गणेश चतुर्थी शायरी | Ganesh Chaturthi Shayari 2021

भक्तो के जीवन से करते हैं दुःख-दर्दो का नाश,
भगवान् गणेश की कृपा से पूर्ण होते हैं सबके काज.
Happy Ganesh Chaturthi…


हर शुभ काम में सबसे पहले पूजा आपकी,
हे भगवान् गणेश, करो ऐसी कृपा नित
पूजा करू मैं आपकी.
Ganesh Chaturthi Shayari


गणेश जी का रूप निराला हैं,
चेहरा कितना भोला भाला हैं,
जिसे भी आती हैं कोई मुसीबत
उसे इन्ही ने तो संभाला हैं .
गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभ कामनाएँ…


रिद्धि-सिद्धि के तुम दाता,
दीन दुखियों के भाग्य विधाता.
Happy Ganesh Chaturthi


Ganesh Ji Ke liye Shayari

भगवान् गणेश की ज्योति से नूर मिलता हैं,
सबके दिलो को सुरूर मिलता हैं,
जो भी जाता हैं गणेश के द्वार
कुछ ना कुछ जरूर मिलता हैं.
जय श्री गणेश…Ganesh Chaturthi Shayari


एक, दो, तीन, चार गणपति की जय जयकार,
पाँच, छः, सात, आठ गणपति जी हैं सबके साथ.
हैप्पी गणेश चतुर्थी


भगवान् गणेश की कृपा आप पर बनी रहे हरदम.
हर कार्य में सफलता मिले और जीवन में न आएँ कोई गम.
हैप्पी गणेश चतुर्थी


पग में फूल खिले और
ख़ुशियों का ख़जाना आपको मिले,
जीवन में ना हो दुखों का सामना
गणेश चतुर्थी पर मेरी शुभकामना.


आते हैं बड़े धूम से गणपति जी,
जाते हैं बड़े घूम से गणपति जी,
आख़िर सबसे पहले आकर ,
हमारे दिलो में बस जाते हैं गणपति जी.
Ganesh Chaturthi Shayari


Ganesh Chaturthi Wishes in Hindi

ज़मीन पर आकाश झूम के बरसे,
आपके ऊपर अपनों का प्यार बरसे,
भगवान् गणेश जी से बस यही प्रार्थन हैं,
आप ख़ुशी के लिए नही, ख़ुशी आप के लिए तरसे.


भगवान् गणेश जी आपको खुशियाँ सम्पूर्ण दे,
जो भी भक्ति इनकी करे उसे सुख-सम्पति भरपूर दे.
Happy Ganesh Chaturthi 2021


सुख-सम्पति मिले, मिले ख़ुशी-शांति अपार,
आपका जीना सफ़ल हो, जब आप आएँ गणेश जी के द्वार.
हैप्पी गणेश चतुर्थी


जय गणपति सद्गुण सदन,
करि वर बदन कृपाल |
विघ्न हरण मंगल करण,
जय जय गिरिजालाल


Ganpati Shayari

हे गणपति गजराज आपका वंदन है
पधारो मेरे द्वार अमित अभिनंदन है ।।
वेदप्रकाश वेदांत


रिद्धि सिद्धि को लेकर आओ
हे मंगलकर्ता मेरे द्वार
भेज रहा हूँ प्रथम निमंत्रण
सहर्ष करो स्वीकार ।।
वेदप्रकाश वेदांत


Bhagwan Ganesh Shayari

धरती के हर कण-कण में
गणपति आपका वास है
गणेश चतुर्थी का ये दिवस
हम भक्तों के लिए खास है ।।
वेदप्रकाश वेदांत


सुख समृद्धि सफलता का
हे गौरीनंदन हमें वरदान दो
संस्कार में सदा जिये हम
दुनियाँ में मान सम्मान दो ।।
वेदप्रकाश वेदांत


Ganesh Chaturthi Status in Hindi

हे एकदन्त दयावन्त पूर्ण करो सब काज
मंगल बेला आयी है पूजन का करो आगाज़ ।।
गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं
वेदप्रकाश वेदांत


हे दुखहर्ता मंगलकर्ता हे सिद्धिविनायक लम्बोदर
कष्ट निवारो हे परम् पूज्य खुशियों से भर दो घर ।।
गणेश जन्मोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं
वेदप्रकाश वेदांत


Ganesh Chaturthi Shayari in Hindi

मोदक लड्डू का भोग लगाओ
भक्तों मनवांछित फल पाओ
प्रथम पूज्य तुम्हारे घर हैं पधारे
जीवन अपना सफल बनाओ ।।
हैप्पी गणेश चतुर्थी
वेद प्रकाश वेदांत


गज का आनन है आपका
मूषक है सवारी
मोदक है सर्वप्रिय आपको
जाने दुनियाँ सारी।।
वेदप्रकाश वेदांत


गणेश चतुर्थी स्टेटस

हे गणेश गिरिजा सुवन महादेव के लाल
शुभाशीष देकर हम भक्तों को करो निहाल ।।
वेद प्रकाश वेदांत


कार्तिकेय अय्यप्पा दो आपके सुंदर भाई हैं
महादेव स्तम्भ हैं तो माँ पार्वती परछाई हैं ।।
वेदप्रकाश वेदांत


भगवान गणेश शायरी

आपके प्रथम आचमन से ही
हर पूजन होता सम्पन्न
प्रभु आपके आशीर्वचनों से
मन रहता है सदा प्रसन्न ।।
वेदप्रकाश वेदांत


हे शुभकर्ता हे दुखहर्ता
हे विघ्नविनाशक गणाधिपति
हर लो प्रभु सारे कष्ट हमारे
मन्द पड़ी है जीवन की गति ।।
वेदप्रकाश वेदांत


गणेश चतुर्थी स्टेटस इन हिंदी

रिद्धि सिद्धि हैं भार्या, संतोषी-शुभ-लाभ हैं सुत
तीनों लोकों में आपकी, प्रभु लीला है अद्भुत ।।
वेदप्रकाश वेदांत


मेरी बाधाओं को दूर करो, हे विघ्नविनाशक गौरीनंदन
शरणों में आपके आ करके, दुखी हृदय कर रहा है क्रंदन ।।
वेदप्रकाश


गणेश चतुर्थी शायरी 2021 | Lord Ganesh Shayari

एकदंत, कपिल, गजकर्णक,
लंबोदर, विकट, विघ्न-नाशक
विनायक, धूम्रकेतु, गणाध्यक्ष
सुमुख, भालचंद्र, गजानन
नारद पुराण में बारह वर्णित
भगवन आपके सुंदर नाम हैं
आपकी दिव्यदृष्टि में गणपति
माता पिता ही चारो धाम हैं।।
 वेदप्रकाश वेदांत


सबका जीवन मंगलमय हो
सबके घर में खुशहाली हो
हरी-भरी ये धरती रहे हमेशा
झोली न किसी की खाली हो
संस्कार हर हृदय में हो
हर मन चंदन की डाली हो
किसी का किसी से बैर न हो
हर हाथों में प्रेम की प्याली हो ।।
वेद प्रकाश वेदान्त


इसे भी पढ़े –

Latest Articles