भविष्य की टेक्नोलॉजी | Future Technology

Future Technology

Future Technology in Hindi – टेक्नोलॉजी का विकास बड़ी तेजी से हो रहा हैं. अगर हम देखे तो आज के दौर में चारों तरफ टेक्नोलॉजी से घिरे हुए हैं, जो चीजें हम कभी फिल्मों में देखते थे वह आज हमें हकीकत में दिखाई देता हैं. टेक्नोलॉजी ने हमें आलसी बनाने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहा हैं.

आज हम बार करेंगें कुछ भविष्य प्राद्योगिकी ( Future Technology ) के बारें में जो इंसान के सोच और जीने के तरीके को ही बदल देगा. शायद आपने इन टेक्नोलॉजी को किसी-न-किसी हॉलीवुड फिल्म में जरूर देखा होगा. आइये हम फ्यूचर टेक्नोलॉजी के बारे में बात करते हैं.

1 – Avatars, Surrogates, Robotics | अवतार, सरोगेट्स, रोबोटिक्स

ऐसा हो सकता हैं कि आप Future Technology की भविष्यवाणी पर असहजता महसूस करें, लेकिन यह सत्य हैं. आपको याद दिला दूँ 2009 में एक हॉलीवुड की फिल्म आई थी जिसका नाम था “Surrogates“. अगर आपने यह फिल्म देखा है तो इस फ्यूचर टेक्नोलॉजी के बारें में आपको सारी जानकारी होगी.

यह एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जिसमें आप अपने जैसा ही बना एक अवतार (Avatars), सरोगेट्स (Surrogates), रोबोटिक्स (Robotics) के द्वारा अपना सारा काम कर सकेंगे. इस मशीन से आपका केवल ब्रेन जोड़ा जायेगा और आप इस मशीन को पूरी तरह से कण्ट्रोल कर सकेंगे और अपने मन चाहे कार्य को भी कर सकेंगे. फ़िलहाल अभी यह टेक्नोलॉजी पूरी तरह विकसित नहीं हैं. इसे अमेरिका के आर्मी के लिए तैयार किया जा रहा है. इस टेक्नोलॉजी पर फिछले कई दशको से रिसर्च चल रहा हैं.

अवतार (Avatars), सरोगेट्स (Surrogates), रोबोटिक्स (Robotics) को समझने के लिए एक बार वर्चुअल गेम ( Virtual Games ) को खेल कर भी समझ सकते हैं. इस टेक्नोलॉजी का यह एक बहुत ही छोटा उदाहरण होगा.

2- Universal Translators | सार्वभौमिक अनुवादक

यह बहुत ही बेहतरीन टेक्नोलॉजी है. इसे हम एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं. मान लीजिये आपको हिंदी आती है और मुझे अंग्रेजी परन्तु हम दोनों को एक दुसरे की भाषा नहीं आती है. ऐसे में हम दोनों इस टेक्नोलॉजी की मदत से आपस में आसानी से बात कर सकेंगे और इक दुसरे की भाषा को भी समझ सकेंगे. यह एक अनुवादक का काम करेगा. आपने इस टेक्नोलॉजी को कई फिल्मों में भी देखा होगा.

3- Neurohacking ( दिमाग पढ़ना )

हॉलीवुड की फ़िल्में जब भी हम देखते है तो हमें कुछ न कुछ नई टेक्नोलॉजी ( New Technology ) देखने को मिलती हैं. हमें लगता है इन्होंने बस यूँ ही प्रयोग किया है, मगर ऐसा नहीं है. वहाँ पर उस तरह की अधिक्तर टेक्नोलॉजी पर काम चल रहा होता हैं. आप ने इसे भी कई हॉलीवुड के फिल्मों में या भारतीय धार्मिक सीरियल में देखा होगा कि एक व्यक्ति किसी और के दिमाग को पढ़ रहा हैं.

इस तरह की टेक्नोलॉजी पर काम चल रहा हैं जिसके द्वारा आप यह जान सकेंगे कि कोई क्या सोच रहा हैं. ऐसा विश्वास नहीं होता कि कभी इस तरह की भी टेक्नोलॉजी बन सकती हैं, क्योंकि ऐसी टेक्नोलॉजी के होने पर इसके लाभ भी बहुत है और इसके दुष्परिणाम भी बहुत हैं.