Desire Quotes in Hindi | इच्छा पर अनमोल विचार

Desire Quotes in Hindi

Desire Quotes in Hindi ( Wish Quotes in Hindi ) – इच्छाएं दो प्रकार की होती हैं, एक अच्छी इच्छाएं, जब व्यक्ति के हृदय में इनका जन्म होता हैं तो व्यक्ति उन्नति करता हैं. दूसरी बुरी इच्छाएं, जब व्यक्ति के हृदय में इनका जन्म होता हैं तो व्यक्ति के पतन का कारण बनती हैं. इस पोस्ट में इच्छा पर अनमोल विचार ( Ichchha Par Anamol Vichaar ) दिए गये हैं. इन अनमोल विचारों को जरूर पढ़े.

Best Desire Quotes | इच्छा पर बेहतरीन विचार

इच्छाओं की पूर्ति ज्ञान और संकल्प के अनुपात में पूर्ण होती है. – अथर्ववेद

इच्छा बंदर के समान है, नटखट. यदि इच्छा के साथ ईर्ष्या जुड़ जाए तो इसका मतलब होगा वह बंदर जिसे बिच्छू ने डसा हो. – मारवाड़ी कहावत

इच्छाशक्ति सबसे बलवति है. इच्छा शक्ति के सामने सभी को झुकना पड़ेगा, क्योंकि वह स्वयं प्रकृति से आती है. शुद्ध और दृढ़ इच्छाशक्ति सर्वशक्तिमान होती हैं. – स्वामी विवेकानन्द

यौन आनन्द उठाने की इच्छा सबसे बुरी इच्छा है. तब आप संतान उत्पन्न करने की विद्या का दुरूपयोग करते हैं. – आदि शंकराचार्य

अभिलाषाओं से ऊपर उठ जाओ, वे पूरी हो जाएंगी. मांगोगे तो उनकी पूर्ति तुमसे दूर चली जाएंगी. – स्वामी रामतीर्थ

अपनी आवश्यकताए कम करके आप वास्तविक शांति प्राप्त कर सकते हैं. – महात्मा गांधी

इच्छा मात्र से ही घोड़ा पा लिया जाए, तो इस संसार में प्रत्येक व्यक्ति घुड़सवार हो. – शेक्सपीयर

इच्छा पर विचार का शासन रहे. – वाल्मीकि

इच्छाओं का संघर्ष यह प्रकट करता है कि अब जीवन व्यवस्थित होना चाहता है. – खलील जिब्रान

इच्छा करना और कर्म करना दोनों में आकाश पाताल का अंतर है. इच्छा को हम जल का नाम दें और कर्म को खौलता हुआ जल कहें तो खौलता जल ही जीवन की गाड़ी को उसके लक्ष्य तक पहुंचाएगा. यदि पहली इच्छा का दमन कर दोगे तो अन्य इच्छाओं के प्रसव से बच जाओगे. – फ्रैंकलिन

सारी आफ़त इच्छा और कामवासना में है, नहीं तो इस दुनिया में शरबत ही शरबत हैं. – मौलाना रूम

इच्छा मानव ज्ञान की सहज स्फुरणा है, बस ध्यान रहें कि वह वासना के रूप में परिवर्तित न हो जाए, क्योकि तब वह दुःख ही देगी. – स्वामी रामतीर्थ

दुनिया में प्रसन्न व स्वस्थ रहने का एक ही उपाय है कि अपनी जरूरतों को कम से कम कर देना चाहिए. – महात्मा गांधी

देवताओं की समीपता पाने के लिए इच्छाओं की कमी करते चले जाइए. – सुकरात

अभिलाषा सब दुःखो का मूल है. – बुद्ध

बुद्धिमान व्यक्ति सदैव आत्मसंतुष्टि रुपी लौ अपनी इच्छाओं की आहुति से प्रकाशमान बनाए रखते हैं. – रामकृष्ण परमहंस

इच्छाशक्ति की अग्नि जहां प्रज्ज्वलित होती है वहीं अहिंसा, सादगी और विजय की पताका दृष्टिगोचर होती है. – लाल बहादुर शास्त्री

वास्तव में विद्वान वह है जो अपनी इच्छा को त्यागकर परमात्मा की इच्छा से कार्य करता हैं. – सुवाणी

यदि हमारी इच्छाओं का पवित्र ध्येय सदा परमात्मा होता, तो हम उतने दुःखी न होते. परन्तु प्रायः कोई न कोई आसक्ति भीतर बनी ही रहती है या बाहर से कुछ ऐसी घटना हो जाती है जो हमें अपनी ओर आकर्षित करती हैं. – गुरूवाणी

यदि तुम स्वयं को अपनी इच्छा के अनुकूल नहीं बना सकते, तो तुम दूसरों से कैसे आशा कर सकते हो कि वे तुम्हारी इच्छा के अनुकूल हो. – वेदान्त तीर्थ

प्रारम्भ में ही अपनी इच्छा को रोक लो और बुरी आदतों को छोड़ दो, अन्यथा धीरे-धीरे ये तुम्हें बहुत बड़ी कठिनाई में डाल देगी. – अज्ञात

इच्छाओं को त्यागने वाले यात्रियों की गुण गाना उतना ही असम्भव है जितना संसार में अब तक मरे जीवों की गिनती करना. – संत तिरूवल्लुवर