डिप्रेशन का आसान इलाज | Depression Treatment in Hindi

Depression Treatment in Hindi

Depression Treatment in Hindi ( Depression Ka Ilaj in Hindi ) – अधिक्तर डिप्रेशन या अवसाद नकारात्मक सोच और मानसिक कमजोरी का परिणाम होता है. हर व्यक्ति के जीवन में कुछ अच्छा और कुछ बुरा होता है. कुछ लोग बुरा होने के बावजूद भी सफ़लता के उस मुकाम पर पहुँचते है जिसे कोई सोच भी नहीं सकता है. कुछ लोग बुरा होने पर अवसाद ग्रस्त होकर गुमनामी की जिन्दगी जीते हैं.

अब यह आप को तय करना है कि आप सफ़लता के उस मुकाम पर पहुंचना चाहते है जहाँ से दुनिया आपकी क़दमों में नजर आये या डिप्रेशन या अवसाद का शिकार होकर गुमनामी की जिन्दगी जीनी हैं.

डिप्रेशन का इलाज | Depression Treatment in Hindi

सबसे पहले इस बात को समझे इस दुनिया में हर प्रकार के डिप्रेशन या अवसाद का इलाज है, अगर कोई समस्या है तो उसका इलाज भी सम्भव है. ऐसा हो सकता है थोड़ा वक्त लगे.

डिप्रेशन या अवसाद से होने वाली हानियाँ

  1. समय की बर्बादी या काम में मन न लगना.
  2. स्वास्थ का खराब होना.
  3. लम्बे समय से डिप्रेस रहने से गम्भीर मानसिक बीमारी की सम्भावना.
  4. सरदर्द और कमरदर्द की सम्भावना.
  5. आत्महत्या के बारें में सोचना या करना. आदि मुख्य हानियाँ है इसलिए इससे खुद को जरूर बचाए.

#1 – अवसाद से बचने के लिए सकारात्मक सोचें | Think Positive to avoid Depression

सकारात्मक सोच में बड़ी ताकत होती है यहीं इसान को जीवन में सफल बनाती है. सकारात्मक सोच डिप्रेशन और अवसाद से भी बचने में बहुत मदत करती हैं. उदाहरण के लिए जब हम इंटरव्यू देने जाते है और हमारा सिलेक्शन नहीं होता है तो दोस्त अक्सर बोलते है – “भाई हो सकता है तेरे नसीब कोई और बढ़िया नौकरी हो.” उस समय हम खुश हो जाते है और सोचने लगते है कि हाँ ऐसा भी हो सकता है कि किसी और अच्छी कम्पनी में जॉब मिला जाएँ और यहीं सोचकर हम फिर से मेहनत करते है और निश्चित सफलता मिलती हैं.

  • यदि आप गाँव में रहते है तो आपने जरूर सुना है जब वहाँ किसी के साथ कुछ बुरा हो जाए तो वो अक्सर बोलते है कि जितना बुरा होना था हो गया अब अच्छा ही होगा. रात के बाद दिन का आना प्रकृति का नियम हैं.
  • मेरे एक टीचर बोला करते थे कि हमारी जिभ्वा पर सरस्वती वास करती है इसलिए हमें अपने और दूसरों के बारे में हमेशा अच्छा सोचना और बोलना चाहिए. ना जाने कब हमारी सोची या कही बात सच हो जाए.

आप बहुत से ऐसे लोगो की जीवनी पढ़ी होगी जो पूरा जीवन ग़रीबी, मुसीबतों और असफ़लता के बीच रहें पर अपने अंतिम समय में उन्होंनें इतिहास रच दिया, ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि उनकी सोच सकारात्मक थी. उन्हें खुद पर विश्वास था. वे इस बात को मानते थे कि सफलता के मार्ग में बाँधा, दुःख, अवसाद ऐसे बहुत सी रूकावटें आएँगी.

प्रेम में धोखा खाने या प्रेमी/प्रेमिका की शादी होने या किसी अन्य प्रेम-प्रसंग की वजह से डिप्रेस है तो इसमें सकारात्मक सोच रखने से आप इस समस्या से आसानी से बाहर आ सकते हैं.

#2 अवसाद से बचने के लिए स्वस्थ आहार लें | Take Healthy Diet to avoid Depression

डिप्रेशन या अवसाद से बचने के लिए संतुलित आहार ले और आपकी दिनचर्या भी ठीक होनी चाहिए. आहार में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों को सामिल करें जो आपके मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में मदत करें. ऐसे आहार इस प्रकार हैं –

  • बादाम | Almond
  • सेव | Apple
  • हींग | Asafoetida
  • जीरा | Cumin
  • काली मिर्च | Black Pepper
  • शहद | Honey
  • केला | Banana

ऊपर दिये खाद्य पदार्थो के बारें में आपने सुना होगा कि इन्हें खाने से मस्तिष्क स्वस्थ और मजबूत होता हैं. आप इन खाद्य पदार्थों को अपने आहार में जरूर शामिल करें. हींग, जीरा और काली मिर्च का उपयोग हम अक्सर सब्जियों में करते हैं.

अखरोट

अखरोट एक महत्वपूर्ण मेवा है जो मानसिक कमजोरी के कारण आई स्मृति मंदता और डिप्रेशन को ठीक करने मदत करता है. यह स्मृति बढ़ाने में भी मदत करता हैं. यदि इसे अंजीर और अंगूर के साथ लिया जाय तो इसका प्रभाव और बढ़ जाता हैं. यदि इसे अकेले ही खाया जाना हो तो रोज कम से कम 20 ग्राम अखरोट खाना चाहिए.

फास्फोरस की अधिकता वाले भोज्य पदार्थ

वे सभी फल जिनमें फास्फोरस अधिक मात्रा में होता है, स्मृति को तीव्र करने और डिप्रेशन के लिए लाभदायक होते हैं. ये फल मस्तिष्क की कोशिकाओं और उतकों को उर्जान्वित करते हैं. अंजीर, अंगूर, डेट या खजूर, बादाम , संतरा, अखरोट और सेव में फास्फोरस काफी मात्रा में पायें जाते हैं.

#3 अवसाद से बचने के लिए योग या व्यायाम करें | Do Yoga or Exercise to Avoid Depression

योग या व्यायाम करने से व्यक्ति मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ होता हैं. डिप्रेशन या अवसाद से बचने के लिए हर व्यक्ति को नियमित रूप से योग या व्यायाम जरूर करना चाहिए, क्योंकि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता हैं.

#4 – अवसाद से बचने के लिए अन्य उपाय | Other ways to avoid depression

  • अवसाद से बचने के लिए महापुरूषों की जीवनी और अच्छी किताबें पढ़े.
  • धर्म और अध्यात्म से खुद को जोड़े.
  • दोस्तों और परिवार से जुड़े रहे, क्योंकि इससे हमें मानसिक शक्ति मिलती हैं. हमें लगता है कि हम कुछ गलत करे दे या किसी चीज की जरूरत होगी तो मेरा दोस्त या परिवार इसमें जरूर मदत करेगा.
  • अकेलेपन से बचे. कभी-कभी बहुत से लोग अकेलेपन के कारण अवसाद ग्रस्त हो जाते हैं.

डिप्रेशन या अवसाद से बचने के लिए “सादा जीवन और उच्च विचार ( Simple Life High Thinking )” के सिद्धांत का प्रयोग करें. खुद को कभी छोटा न समझे क्योंकि सब एक समान है. छोटा-बड़ा या अमीर-गरीब की सोच रखने वाले अज्ञानी होते हैं. ईश्वर ने सबको अनमोल चीजें देकर इस पृथ्वी पर भेजा हैं बस जरूरत है उन्हें पहचानने की. जरूरत है आप आपने आपको पहचानें और अपने जीवन के लक्ष्य को निर्धारित करें और एक नया इतिहास लिख दें.

नोट – यदि आपको कोई मानसिक बीमारी की सम्भावना हो या काफी दिनों से आप डिप्रेस या अवसाद से ग्रस्त है तो आप डॉक्टर की सलाह जरूर ले.