Diwali Jokes in Hindi | दिवाली जोक्स हिंदी में

Diwali Jokes

Diwali Jokes in Hindi – दिवाली दीयों का त्यौहार होता हैं, इस त्यौहार में खुश होकर खुशियाँ बांटी जाती हैं. दिवाली के शुभ अवसर पर इन दिवाली जोक्स को दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

बेस्ट दिवाली जोक्स | Best Diwali Jokes

लड़का – मम्मी, हम सारे पटाखे इसी दूकान से लेंगे…
मम्मी – बेटा ये दूकान नही…”गर्ल्स हॉस्टल” हैं
लकड़ा – पर पापा तो कहते है कि यहाँ एक से बढ़कर एक पटाखा मिलती हैं. 😀 ? 😀 ?


इस दिवाली आप से हाथ जोड़कर विनती हैं कि –

पटा-के (पटाखे) न छोड़े. 😀 ? 😀 ?


बचपन में दिवाली पर रॉकेट छोड़ते हुए अनोखा ज्ञान प्राप्त हुआ…!!!
.
.
.
.
आसमान छूने के लिए बोतल बहुत जरूरी होता हैं…!!! 😀 ? 😀 ?


खास दिल्ली निवासियों के लिए –
इस दिवाली पटाखे फोड़ते वक्त विडियो जरूर बनाएं.
क्योकि…
.
.
.
माननीय मुख्यमंत्री केजरीवाल जी का क्या भरोसा
कब सबूत मांग लें…!!! 😀 ? 😀 ?


खास उन लड़को के लिए जिनकी गर्लफ्रेंड चाँद-तारों की माँग करती हैं –
.
.
.
आप बाजार जाएँ, एक रॉकेट ख़रीदें, उसपर अपनी गर्लफ्रेंड को बिठाएँ…
और रॉकेट को आग लगा दे… 😀 ? 😀 ?


कोई कितना भी ज्ञान दे पर –
भारत में सबसे बड़ा सफ़ाई अभियान तो दिवाली के पावन
अवसर पर ही चलाया जाता हैं… 😀 ? 😀 ?


दिवाली में आपको कुछ ऐसे ज्ञानी लोग मिलेंगे जो पटाखा फोड़ने से
होने वाले नुकसान पर लम्बा भाषण देंगे.

ऐसे ज्ञानी लोगो को पहले कोपचे में ले जाएँ और इन्हें फोड़े फिर
दिवाली का पटाखा फोड़े…माँ कसम मजा डबल हो जाएगा… 😀 ? 😀 ?


अब तो बस लोग बेसब्री से पतंजलि हर्बल पटाखों का इंतज़ार कर रहे हैं ताकि
प्रदूषण कम हो…

जिन्हें जलाने से अश्वगंधाम, कपूर और भृंगराज का शुद्ध हर्बल धुआँ निकलेगा
जो पर्यावरण को स्वच्छ बनाने में मदत करेगा.

आप अपने नजदीकी पतंजलि स्टोर पर पता करते रहे, आपको पटाखे मिले या न मिले
पर आपका प्रयास सराहनीय माना जाएगा. 😀 ? 😀 ?


इस दिवाली लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने का नया तरीका –
भक्त का त्याग – मोबाइल बंद, फेसबुक बंद, इन्टरनेट बंद, व्हाट्सऐप बंद और टीवी भी बंद…
माँ लक्ष्मी – बस करो भक्त रुलाओगे क्या, मैं तुम्हारे त्याग से अति प्रसन्न हूँ. आजके समय में
तुम पहले ऐसे भक्त हो जिसने इतना बड़ा त्याग किया हैं. बोलो वत्स क्या चाहिए… 😀 ? 😀 ?


प्रिय दोस्तों यदि पटाखा और फुलझड़ी का नाम सुनते ही
आपके दिमाग में लड़कियों का ख्याल आता हैं…
तो आप बीमार हैं इसलिए इस दिवाली इतने पटाखे और
फुलझड़ी जलाएं ताकि आपकी बुनियादी विचारधारा में
बदलाव आयें. 😀 ? 😀 ?