डांस शायरी स्टेटस | Dance Shayari Status in Hindi

Dance Shayari Status in Hindi

Dance Shayari Status Image in Hindi English for Whatsapp and Facebook – इस आर्टिकल में डांस नृत्य पर शायरी स्टेटस दिए हुए है. इन्हें जरूर पढ़े और शेयर करें.

भारतीय संस्कृति में जितनी विविधता है, उतनी ही विविधता भारतीय नृत्य में है. भारतीय नृत्य को दो भागों में बाँट सकते है – शास्त्रीय नृत्य और लोकनृत्य. कुछ दशको से बॉलीवुड में नृत्य की कई नई शैली लोकप्रिय हुई है जो भारतीय सिनेमा पर आधारित है.

इस पोस्ट में बेहतरीन Dance Shayari in Hindi, Dance Status in Hindi, Dance Shayari, Dance Status, नृत्य शायरी, नृत्य पर शायरी, डांस शायरी, डांस स्टेटस, Shayari for Couple Dance in Hindi, Shayari for Beautiful Dance in Hindi, Dance Par Shayari in Hindi आदि दिए हुए है.

Dance Shayari

Dance Shayari | Dance Status | Dance Shayari in Hindi | Dance Status in Hindi | डांस शायरी | डांस स्टेटस

जब शरीर और आत्मा का मिलन होता है,
तब एक खूबसूरत नृत्य का सृजन होता है.


जिनके बुरे विचार होते है वो करते है बुरे कृत्य,
जिनके विचार खूबसूरत होते है वो करते है नृत्य.


Dance Shayari in Hindi

हर इंसान के पैर पूरे जीवन में सैकड़ो मील चलते है,
नृत्य करने वाले पैर इस दुनिया में बहुत कम मिलते है.


हर उस दिन को खूबसूरत बनाया है,
जब नृत्य करने के लिए पैरों को उठाया है.


Dance Status

Dance Shayari | Dance Status | Dance Shayari in Hindi | Dance Status in Hindi | डांस शायरी | डांस स्टेटस

नाचने का हुनर बचपन में ही सीख लो,
ये जिंदगी वक़्त-बेवक्त बड़ा नचाती है.


जरूरतें हर इंसान को नचाती है,
कोई पर्दे के आगे नाचता है
तो कोई पर्दे के पीछे नाचता है.


Dance Status in Hindi

जिन्दगी में अच्छे लोगो से मिलना है,
तो नृत्य करना सीख लीजिये.


मेरे जीवन का यही आधार है,
क्या तुमको भी नृत्य से प्यार है.


प्रकृति सम्पूर्ण संगीत है,
जीवन महज एक नृत्य है.


नृत्य पर शायरी

खुशियों से भरी जिन्दगी कई तरह से जी जाती है,
खूबसूरत नृत्य बड़ी शिद्दत से की जाती है.


नृत्य के कला को जिसने समझा उसके लिए वरदान है,
जो इसे सिर्फ ‘नाच’ समझा वो इंसान बड़ा ही नादान है.


नृत्य स्टेटस

आज भी तुम करती हो नृत्य
मेरे मन की भीगी सड़को पर
जहाँ से कोई गुजरता नहीं अब.


दिमाग में चल रहा नृत्य विचारों का,
दिल भटक रहा यहाँ बंजारों सा.


तुम्हारा जिक्र हो और दिल उछल पड़े,
कहीं यही तो नही परिभाषा नृत्य की.


Dance Shayari in English

Jab Shareer Aur Aatma Ka Milan Hota Hai,
Tab Ek Khoobsoorat Nritya Ka Srijan Hota Hai.


Jinke Bure Vichar Hote Hai Wo Karte Hai Bure Kritya,
Jinke Vichar Khoobsoorat Hote Hai Wo Karte Hai Nritya


Dance Par Shayari in Hindi

नृत्य करना एक साधना है,
यह ईश्वर की आराधना है.


नृत्य मेरी अभिलाषा है,
नृत्य ही मेरी भाषा है,
नृत्य मेरे लिए सम्मान है,
नृत्य ही मेरी पहचान है.


मयूर सा मन नाचता है,
जो कोई मन मीत मिल जाता है.


Dance Ke Liye Shayari in Hindi

नृत्य है एक ऐसी कला
जिसका ना कोई मेल
नृत्य है एक ऐसी कला
जो बच्चों का ना खेल.


यामिनी नृत्य कर रही जुगनुओं के प्रकाश में,
रातरानी मुस्कुरा रही नवयौवन की आस में.


Shayari for Beautiful Dance in Hindi

जैसे गीत बिना नृत्य अधूरा है,
तुम बिना मेर जीवन कहाँ पूरा है.


जब नाचने न आयें,
तो आंगन ही टेढ़ा हो जायें.


नृत्य तो असंख्य गोपिकाएं करती थी भगवान श्रीकृष्ण के संग,
उन्हें लुभाने के लिए नहीं अपितु स्वयं को उनमे भुलाने के लिए.


डांस शायरी

शादी में जब भी मिले चांस,
तो आप जरूर करें डांस.


क्रोध को समेट लेता है नृत्य,
मन को मोह लेता है नृत्य,
जीवन का एक अंग है नृत्य,
सुकून उसे मिलता है जिसके संग है नृत्य.


डांस स्टेटस

जीवन का मीठा सत्य है,
जीवन भी एक नृत्य है.


दुनिया के मेले में सब है नाचते,
जिन्दगी में सबके आते है मुश्किल भरे रास्तें.


आने से तेरे हर ख्वाब मेरे हसीन होने लगे,
लिपट कर गले लगे जो तेरे नृत्य हर रोम करने लगे.


नृत्य पर शायरी

चाहे न चाहे जिदंगी हमसे उम्र भर नृत्य करवाती है,
नृत्य करते करते इंसान की पूरी उम्र निकल जाती है.


कदम थिरकने लगे जो मेरे होठों पर तैरे मुस्कान,
तेरे आने की आहट से मचलें सब मेरे अरमान,
नृत्य करे जब रोम रोम कर दें सबकुछ नयन बयान,
होगी न प्रतीक्षा प्रियतम कर ले इन अधरों का पान.


ऊर्जा से भरा योग है नृत्य,
हर लेता सारे रोग है नृत्य,
खुशियों का स्त्रोत है नृत्य,
जीवन जीने का शोध है नृत्य.


नृत्य शायरी

नृत्य ख़ुशी का इजहार है,
ये राधा-कृष्ण का प्यार है,
प्रसन्नता का ये इकरार है,
नृत्य कलाओं का निहार है.


मस्तिष्क में नृत्य करते है जब विचार,
हृदय भी भावुक हो जाता है कई बार.


वह थिरकती लौ आत्मा की
जो कण-कण में विराजित है,
नृत्य में नटराज ही
आदि कल से समाहित है.


इसे भी पढ़े –