औकात शायरी | Aukat Shayari

Aukat Shayari Status Quotes Images in Hindi for BF and GF – आज के दौर में औकात को दौलत की तराजू में रखकर तोला जाता है. इंसान अपनी इंसानियत भूल रहा है. धन, दौलत, ऐशों आराम के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार है. किसी व्यक्ति की औकात उसकी नम्रता, शिक्षा, उसके विचार आदि से पता चलता है.

वक़्त बदलता रहता है. अच्छा और बुरा दौर आता जाता रहता है. इसलिए नम्रता में रहने वाले की औकात बहुत बड़ी होती है. इस पोस्ट में बेहतरीन औकात शायरी , अपनी औकात शायरी , मेरी औकात शायरी , मेरी औकात नहीं शायरी , औकात सैड शायरी आदि इस पोस्ट में दिए हुए हैं. इन्हे जरूर पढ़े.

Aukat Shayari in Hindi

जूते फटे पहन आकाश पे चढ़े थे,
सपने हमारे हरदम औकात से बड़े थे,
सर काटने से पहले दुश्मन ने सर झुकाया
जब देखा हम निहत्थे मैदान में खड़े थे,
तलवार पहले टूटी फिर कट गए ये बाजू
बावजूद इसके हम देर तक लड़े थे.
Manoj Muntashir


इश्क़ में अमीरी-ग़रीबी देखी नहीं जाती है,
क्योंकि औकात से मोहब्बत की नहीं जाती है.


औकात देखकर जरूरते भी सिमट जाती है,
जेब में पैसा न हो तो भूख भी मिट जाती है.
Ved Prakash ‘Vedant’


दिलों से नफ़रत मिटाये जा रहा हूँ,
इश्क़ की औकात दिखाए जा रहा हूँ.


नज़रों से घमण्ड का पर्दा भी हटाएगा,
वक़्त ही तुझे तेरी औक़ात दिखाएगा.


Aukat Shayari | Aukat Shayari in Hindi | Aukat Sad Shayari

दौलत से औकात नापी जाए जहाँ,
क्या इंसान की कद्र होगी वहाँ।


ये इंसान भी कितने अजीब काम करता है
मिट्टी की औक़ात लेकर दौलत पर गुमान करता है.


कुछ लोग अपनी औक़ात दिखा देते हैं
गिराने की फ़िराक़ में बस इल्जाम लगा देते हैं.


तुम मुझे अपनी औकात क्यों दिखाते हो,
जिनके पास होती है वो कुछ करके दिखाते है.


चाहत है खुद का नाम करूँ
औकात से बाहर के काम करूँ


Apni Aukat Shayari in Hindi

बनाने वाले ने एक समान जिस्म बनाया,
फिर ये ‘औकात’ इंसान का कहाँ से आया.


पत्थर-सा दिल, उसमें जज़्बात नहीं
सुन बेवफा! तेरे ‘इश्क़’ की औक़ात नहीं


कुछ लोगों की वफ़ा की ज़ात नहीं होती,
रिश्ते तो बना लेते हैं, बस निभाने की औक़ात नहीं होती।


औकात की बात वही करते है,
जिनकी कोई औकात नहीं होती है.


Aukat Shayari | Aukat Shayari in Hindi | Aukat Shayari for gf | Aukat Shayari for bf

बुरे वक्त से मैंने मुलाक़ात की है,
अपनों की मैंने औकात देख ली है.


मेरी औकात दिखा रहे हो,
जल्दी अमीर हुए हो क्या,
गुरूर तुम सा ही था मेरा
पर देखो मेरा हाल है क्या?


अब मैं तुझे अपने शब्दों में जगह दूँ
ऐसी तुझमे कोई बात नहीं
अब मैं तेरे बारे में लिखू
इतनी तेरी औकात नहीं


कितने कमजर्फ है ये गुब्बारे
चन्द सांसो में फूल जाते है
नीच को जब उरूज (तरक्की) मिलता है
अपनी औकात भूल जाते है


अपनी औकात भूल जाए
इतने अमीर भी नहीं है हम
और तुम हमें हमारी औकात बताओ
इतने फ़क़ीर भी नहीं है हम


झूठ इसलिए बिक जाता है क्योंकि
सच को खरीदने की सबकी औकात नहीं होती


औकात शायरी

बुरे वक्त की भी क्या बात होती है,
वो भी सलाह देता है जिसक कोई औकात नहीं होती है.


छोटे लोग है ख्वाहिशें बड़ी है,
औकात कौड़ी की है, और सिफारिशे बड़ी है.


खुद कुछ करके दिखाने की औकात नहीं,
औरो में कमियां निकालने का कोई फायदा नहीं।


Aukat Sad Shayari | Aukat Shayari | Aukat Shayari for gf | Aukat Shayari Images

बिगड़े वक्त में सच्चा दोस्त ही हालात पूछता है,
वरना हर कोई सबसे पहले औकात पूछता है.


मेरी दौलत को जो मेरी औकात समझता है,
शायद वो दोस्त मुझको नहीं समझता है.


जब दुश्मनों की दुश्मनी अच्छी लगने लगती है,
तो दुश्मनों को अपनी औकात पता लगने लगती है.


इज्ज़त दोगे तो इज्ज़त पाओगे,
औकात दिखाओगे तो बड़ा पछताओगे।


औकात तो उसकी बड़ी होती है साहब,
जो गरीबों से भी इज्जत से बात करें।


इंसानी जिस्म महज मिट्टी और धूल है,
औकात, दौलत, अकड़ महज इंसानी भूल है.


मेहनत से जो पायी जाए
वही औकात बताता है,
ज्यादा परिश्रम करने वाला
सबसे बड़ा धन विनम्रता पाता है.


Aukat Shayari for GF and Bf

औकात नहीं थी जमाने की,
जो मेरी कीमत लगा सके,
कम्बख्त इश्क़ में क्या गिरे
मुफ़्त में नीलाम हो गए.


गरीबों की औकात ना पूछो तो अच्छा है,
इनकी कोई जात न पूछो तो अच्छा हैं.


दौलत हो तो औकात नजर आती है,
नम्रता हो तो बड़प्पन बढ़ जाती है.


ना कर जिद, अपनी औकात में रह ऐ दिल,
वो बड़े लोग है अपने शौक से याद करते है.


सूखा हुआ पत्ता साखों से टूट जाता है,
औकात की बात मत कर सब कुछ यही छूट जाता है.


अपनों ने हमारी औकात बताई थी,
हमने तो शराफ़त से हुनर दिखाई थी.


काम निकल जाए तो औकात दिखते है लोग,
वरना पाँव पकड़कर गिड़गिड़ाते है लोग.


वो मेरी नहीं हुई तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं,
क्योंकि शेर से दिल लगाये बकरी की इतनी औकात नहीं।


जो दिखाया जाए वो औकात नहीं,
बिना बोले पता चल जाए वही औकात है.


औकात का पता होना जरूरी है,
अगर शीशा है तो टूटना जरूरी है.


Meri Aukat Sad Shayari in Hindi

आँच क्या लगी दूध उबाल खाने लगा,
एक बूँद पानी ने उसकी औकात दिखा दी.


दोस्ती को दौलत की तराजू पर मत तोलो,
वफ़ा करने की औकात गरीबी में ही है.


जिनकी औकात नहीं आँख से आँख मिलाने की,
अब वो भी बात करने लगे है घर से उठाने की.


इश्क़ सच्चा हो तो जज्बात नहीं बदलते,
बेईमानी से कमाई दौलत औकात नहीं बदलते।


मुसीबतों का यहाँ हर कोई मारा है,
पर सबसे बड़ा औकात हमारा है.


मेरी शराफत से लोगों को इतनी जलन है,
कि वो अपनी औकात दिखाने लगते है.
बात जब हुनर की होती है
तो वो अपनी दौलत दिखाने लगते हैं.


अगर आपको अपनी औकात देखनी है,
तो पिता के पैसों का इस्तेमाल करना छोड़ दें…


औकात दिखाने के चक्कर में हर कोई दुखी है,
जो शराफ़त से जी रहा है वहीं सुखी है.


कागज की कश्ती लेकर दरिया पार करते हो,
समझाता हूँ तो तुम औकात की बात करते हो.


मेरी औकात से बाहर
मुझे कुछ न देना मेरे मालिक क्योंकि,
ज़रूरत से ज़्यादा रोशनी भी
इंसान को अंधा बना देती है!!


Apni aukat shayari , Meri aukat shayari in hindi , Aukat shayari for gf, Aukat sad shayari , Meri aukat nahi shayari , Aukat shayari for bf

इस आर्टिकल में बेहतरीन औकात शायरी ( Aukat Shayari ) दिए हुए है. आशा करता हूँ कि आपको ये शायरी पसंद आई होगी। आप अपने विचारों को हमसे जरूर साझा करें।

इसे भी पढ़े –

Latest Articles

Good Morning Images for Life Advice in Hindi | जिन्दगी की सलाह देते सुप्रभात इमेज

Good Morning Images for Life Advice in Hindi - इस आर्टिकल में जिन्दगी की सलाह देते कुछ बेहतरीन सुप्रभात इमेज दिये हुए है. इन्हें...

संविधान दिवस पर शायरी स्टेटस | Constitution Day Shayari Status in Hindi

Samvidhan Diwas Constitution Day Shayari Status Image in Hindi - इस आर्टिकल में संविधान दिवस पर शायरी स्टेटस इमेज आदि दिए हुए है. इन्हें...