आशुतोष राणा शायरी | Ashutosh Rana Shayari Status Quotes Poem in Hindi

Ashutosh Rana Shayari Status Quotes Poem Image in Hindi – इस आर्टिकल में आशुतोष राणा की रचनाओं, टीवी शो में कहे शायरी और अच्छी बातों को इस में दिया गया है. आशुतोष जी जितना अच्छा अभिनय करते है, उतना ही अच्छा लिखते भी है.

आशुतोष राणा एक भारतीय अभिनेता और लेखक है. फिल्म “दुश्मन” में इनके अभिनय के लिए इन्हें फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ खलनायक का पुरस्कार वर्ष 1999 में दिया गया. वर्ष 2000 में भी इन्हे फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ खलनायक पुरस्कार फिल्म “संघर्ष” के लिए दिया गया. इनकी पहली रचना (किताब) मौन मुस्कान की मार ( Maun Muskaan Ki Maar ) है जो कि बेस्ट सेलर रही है. इनकी दूसरी रचना (किताब ) रामराज्य ( Ramrajya ) है.

शुरूआती दिनों में आशुतोष राणा गांव में होने वाले रामलीला में रावण का किरदार निभाते थे. फिर बाद में नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा ( National School of Drama ) दिल्ली से अभिनय की शिक्षा ली. इन्हें फिल्म दुश्मन में नकारात्मक किरदार निभाने के लिए इन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

Ashutosh Rana Shayari in Hindi

देश चलता नहीं, मचलता है,
मुद्दा हल नहीं होता सिर्फ उछलता है,
जंग मैदान पर नहीं, मीडिया पर जारी है
आज तेरी तो कल मेरी बारी है.
आशुतोष राणा


- Advertisement -

नारी कल भी भारी थी
नारी आज भी भारी है,
पुरूष कल भी आभारी था
पुरूष आज भी आभारी है.
आशुतोष राणा


Ashutosh Rana Status in Hindi

क्या कहते हो भारत से चीनी टकराएंगे,
चीनी को हम तो पानी में घोल-घोलकर पी जाएंगे।
आशुतोष राणा


मुझे जो विचार मिले है वो मेरी माँ से मिले है,
और जो साहस मिला है वो मेरे पिता से मिला है.
आशुतोष राणा


देहाती आदमी तो चाँद पर पहुँच जाता है,
इस जमीन के चाँद को पाने में क्या कठिनाई है?
आशुतोष राणा


Ashutosh Rana Quotes in Hindi

जीवन में अगर एक अच्छी पत्नी मिल जाएँ,
जिंदगी के तूफ़ान में वो बंदरगाह की जैसी होती है,
अगर कठिन स्त्री मिल जाएँ
तो बंदरगाह पर तूफ़ान की जैसी होती है.
आशुतोष राणा


जिस कार्य को करने की इच्छा है,
उस कार्य को करने की क्षमता पैदा कर लीजिये,
या जिस कार्य को करने की क्षमता है,
उस कार्य को करने की इच्छा पैदा कर लीजिये।
फिर कार्य आपको प्रसन्नता और सफलता दोनों देगा।
आशुतोष राणा


Ashutosh Rana Poem in Hindi

आशुतोष राणा जी ने एक कविता के माध्यम से अपने प्यार का इजहार किया था. इनकी प्रमिका और पत्नी “रेणुका शहाणे” है. अक्सर जब प्रेम को प्रस्तुत करने के लिए शब्द नहीं मिलते है तो दिल के भाव कविता और शायरी में बदल जाते है.

प्रिय !!! लिखकर
नीचे लिख दूँ नाम तुम्हारा
कुछ जगह बीच मे छोड़
नीचे लिख दूँ सदा तुम्हारा
लिखा बीच मे क्या?
ये तुमको पढ़ना है
कागज़ पर मन की भाषा का अर्थ समझना है
जो भी अर्थ निकलोगी तुम वो मुझको स्वीकार….
मौन अधर… कोरा कागज़… अर्थ सभी का प्यार!!
आशुतोष राणा


आशुतोष राणा के विचार

हम श्री राम के चरण पूजक तो हो गये,
लेकिन उनके आचरण को नहीं पकड़ पाये।


शब्द दिखाई देते है तो आपको आंदोलित करते है,
जब सन्नाटे सुनाई देते है तो आपको आंदोलित करते है.


इसे भी पढ़े –

Latest Articles