World Student Day: डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का जन्मदिन

World Student Day – 15 अक्टूबर, डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का जन्मदिन, संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा विश्व छात्र दिवस के रूप में घोषित किया गया हैं. कलाम जी एक वैज्ञानिक और एक इंजिनियर के रूप में प्रसिद्ध हैं. कलाम जी ने हमेशा अपनी ज्ञान और शिक्षा के माध्यम से छात्रो से जुड़े रहे और उनके भाषण, वो खुद छात्रो के लिए एक प्रेरणा थे. मैं भी जब कलाम जी की जीवनी, उपलब्धियाँ और सामाजिक कार्य को जब भी देखता या पढता हूँ तो मैं बहुत ही उत्साहित हो जाता हूँ.

किसी भी भारतीय के लिए गर्व और ख़ुशी का क्षण था जब यूएनओ (U.N.O.) ने 15 अक्टूबर, डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के जन्मदिन को विश्व छात्र दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की. यह विश्व इतिहास में एक उल्लेखनीय दिन के रूप में दर्ज हो गया.

Dr. A P J Abdul Kalam Biography | डॉ. ए पी जे अब्दुल कलाम जीवनी

डॉ. अबुल पकिर जैनुलाअबदीन अब्दुल कलाम या डॉ. ए॰ पी॰ जे॰ अब्दुल कलाम (A. P. J. Abdul Kalam जिन्हें मिसाइल मैन और जनता के राष्ट्रपति के नाम से जाना जाता है, इनका जन्म 15 अक्टूबर 1931 में हुआ था. भारतीय गणतंत्र के ग्यारहवें निर्वाचित राष्ट्रपति थे. वैज्ञानिक और इंजिनियर के रूप में विख्यात थे. उनकी मृत्यु 27 जुलाई 2015 को हुई लेकिन करोंड़ों दिलो में आज भी वो जिन्दा हैं.

Essential to become an ideal student | एक आदर्श छात्र बनने के लिए आवश्यक

डॉ. कलाम एक वैज्ञानिक थे पर वो शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए, छात्रो को प्रोत्साहन देने के लिए, आधुनिक विचारधारा और छात्र की योग्यता को बढ़ाने जैसे कई महान कार्य किये हैं इसलिए आज उनका जन्मदिन, विश्व छात्र दिवस के रूप में मनाया जाता हैं.

  1. वह छात्र एक आदर्श छात्र होता है जो औसत से ख़ुद को असाधारण तक विकसित करे. केवल किताबी ज्ञान होने से आप एक आदर्श छात्र नही बन सकते है आपको उसकी उपयोगिता को व्यवहारिक जीवन में भी सिद्ध करना होगा. आप जो भी पढ़े या करे एक बड़ी सोच के साथ करे जिससे उसका लाभ आपको, समाज को, देश को और पूरे विश्व को प्राप्त हो.
  2. एक आदर्श छात्र का चरित्र और आदतें को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी चाहिए जिससे वो अपने अधिक से अधिक समय का उपयोग कर सके.
  3. उसे सख्ती से अनुशासित जीवन जीना चाहिए और बुरे विचारों में कभी भी शामिल नहीं होना चाहिए.
  4. एक आदर्श छात्र बने के लिए, ज्ञान (शिक्षा) के अधिग्रहण में सबसे अधिक समय व्यतीत करना चाहिए क्योकि हर छात्र को यह पता होना चाहिए कि ज्ञान सफलता का प्रवेश द्वार हैं.

Role of students in development of Family, Society and Country. | परिवार, समाज और देश के विकास में छात्रों की भूमिका

हर छात्र का यह कर्तव्य होता हैं कि शिक्षा ग्रहण करने के बाद परिवार, समाज और देश की उन्नति में अपना योगदान दे. प्रत्येक छात्र यह योगदान कर सकते हैं. इसके लिए जरूरी है कि आप जो भी काम जीवन में करे वो पूरी ईमानदारी और देश के कानून के अनुसार करे. अपनी क्षमता के अनुसार हर छात्र समाज की उन्नति में अपना योगदान कर सकता हैं.

  1. अच्छे नागरिक बने
  2. सामजिक कार्य करे या जरूरत मंद की मदत करे
  3. अच्छे नेता बने
  4. भविष्य के प्रतीक बने
  5. अपने कार्य को ईमानदारी से करे
  6. स्त्री, बच्चे और बुजुर्गो के प्रति स्नेह हो
  7. सामजिक सोहार्द को बनाये रखे

World Student Day | विश्व छात्र दिवस

विश्व छात्र दिवस दुनिया भर के छात्रों के बीच बहुसंस्कृतिवाद, विविधता और सहयोग का उत्सव है. डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के अनुसार, छात्रों के जीवन में उद्देश्य होना चाहिए, ज्ञान के सभी संभव स्रोतों के माध्यम से प्राप्त करना चाहिए, कड़ी मेहनत करना और समस्या से कभी भी हार नहीं मानना चाहिए, हमेशा समस्या को हराना और जीवन में सफल होना चाहिए.

World Student Day Quotes | विश्व छात्र दिवस कोट्स

  1. ‘Black Color (काला रंग)’ भावनात्मक रूप से बुरा होता है लेकिन हर “ब्लैक बोर्ड” विद्यार्थियों की जिन्दगी को “ब्राइट” बनाता हैं.
  2. ज्ञान ही सबसे बड़ी अच्छाई है और अज्ञानता ही सबसे बड़ी बुराई हैं.
  3. शिक्षित छात्र ही देश की दिशा का निर्धारण करते है.
  4. परिवार, समाज और देश के विकास में क्लास के फर्स्ट बेंच पर बैठे छात्रो की जितनी आवश्यकता हैं उतनी ही आवश्यकता लास्ट बेंच पर बैठे छात्रों की भी हैं.
  5. जीवन में सबसे ज्यादा ख़ुशी तब होती है जब हम कुछ नया सीखते हैं या नया पढ़ते हैं, यह एक छात्र के जिन्दगी में ही सबसे ज्यादा होता हैं.
  6. एक छात्र की सबसे बड़ी उपलब्धि यह है कि वह अपने किताबी ज्ञान का लाभ अपने व्यवहारिक जीवन में ले और दूसरों को भी उससे लाभवान्वित करें.