IPO क्या हैं और इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी | What is IPO in Hindi

Initial Public Offering - IPO in Hindi

What is IPO in HindiIPO का फुल फॉर्म “Initial Public Offering” होता हैं और हिंदी में इसका मतलब “प्रथम जन प्रस्ताव” होता हैं. जब एक Company अपने सामान्य स्टॉक ( Common Stock ) या शेयर ( Share ) पहली बार जनता के लिए जारी करती हैं तो उसे “IPO – Initial Public Offering” अथवा “प्रथम जन प्रस्ताव” कहा जाता हैं.

आईपीओ लाने का कारण | Reason for bringing IPO

यह अधिकांशतः छोटी और नई कंपनियों द्वारा जारी किया जाता हैं ताकि वो अपने क़ारोबार ( Business) को आगे बढ़ाने के लिए पूँजी पा सके. ये IPO कंपनी उस वक्त भी जारी कर सकती हैं जब उसके पास धन की कमी हो और वह बाजार से कर्ज लेने के बजाय IPO से पैसा जुटाना ज्यादा बेहतर समझती हो.

आईपीओ में निवेश | Investments in IPO

आईपीओ में निवेश जोख़िम भरा हो सकता हैं क्योकि बिना आकड़ो के किसी निवेशक के लिए यह भविष्यवाणी करना कठिन होता हैं कि शेयर अपने प्रारम्भिक दोनों में या भविष्य में कैसा प्रदर्शन करेंगे. जब कोई कंपनी अपनी IPO लॉन्च करती हैं तो निवेशकों के पास पर्याप्त आकड़े नही होते हैंऔर अधिक्तर आईपीओ उन कम्पनियों के द्वारा लॉन्च किये जाते हैं जिनकी Company का विकास अस्थाई दौर से गुजर रहा होता हैं.

आईपीओ और सेबी | IPO and SEBI

सेबी – भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड ( SEBI – Securities and Exchange Board of India ) आईपीओ लाने वाली कंपनियों के लिए एक सरकारी नियामक ( Regulatory ) हैं. यह IPO लाने वाली Company से नियमो का सख्ती से पालन करवाती हैं जिसकी वजह से कम्पनी हर तरह की जानकारी SEBI को देने के लिए बाध्य होते हैं. सेबी दी गयी जानकारियों और कम्पनी की जाँच करवाती हैं ताकि निवेशको के हितो की रक्षा हो सके. सेबी के नियम सख्त होने की वजह से ही निवेशक आईपीओ में पैसा लगाते है. निवेशको के हितों की रक्षा के लिए समय-समय पर इसके नियम बदलते रहते हैं.

आईपीओ में कैसे निवेश करें | How to invest in an IPO

IPO ख़रीदने से पहले आप किसी बेस्ट ब्रोकर ( Best Broker ) या बेस्ट फाइनेंसियल कंसलटेंट ( Best Financial Consultant) की सलाह जरूर ले. आप ख़ुद जिस भी माध्यम से कंपनी की जितनी जानकारी जुटा सकते हैं उतनी जानकारी जुटाए. जो कंपनी चुन रहे हैं उसकी 3-4 कंपनियों से उसकी तुलना करें. रेटिंग एजेंसी की राय भी आपके लिए फायदेंमंद हो सकती हैं. आईपीओ की कीमत देखे और कंपनी की प्रगति देखे और फिर निवेश करें. जोख़िम और लाभ का साथ चोली और दामन की तरह होता हैं. इसे हमेशा याद रखे.

सही और पूरी जानकारी का होना और सतर्क रहना जरूरी | Have accurate and complete information and be vigilant

IPO की पूरी जानकारी न होने की वजह से कई बार निवेशको ( Investors ) को बड़ी हानि का सामना करना पड़ता हैं. आईपीओ से लाभ कमाने के लिए आपको और इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए सही और पूरी जानकारी का होना अनिवार्य हैं ताकि आप छोटी से छोटी बात पर ध्यान दे सके. आईपीओ में निवेश जोखिम भरा होता हैं इसलिए सतर्क रहें.