मानसिक थकान और तनाव से बचने के लिए अपनायें ये उपाय

Tips to reduce mental stress and Tiredness

Tips to Reduce Mental Stress and Tiredness in Hindi – मानसिक थकान का सबसे बड़ा कारण हमारी सोच और जीवन शैली हैं. छोटी-छोटी गलतियों या गलत सोच के कारण हम मानसिक रूप थका हुआ महसूस करते हैं. अगर आपको जीवन में सफल होना हैं तो मानसिक थकान से बचे. मानसिक थकान के कारण और निवारण इस पोस्ट में दिए हुए इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े.

मानसिक थकान के कारण | Causes of Mental Tiredness

  1. नकारात्मक सोच
  2. उचित आहार की कमी और स्वास्थ के प्रति लापरवाही
  3. किसी विषय या भविष्य के बारे में जरूरत से ज्यादा सोचना ( चिंता करना )
  4. मोबाइल, लैपटॉप और टेलीविजन का अधिक या अनावश्यक प्रयोग
  5. रिश्तों में कड़वाहट
  6. दबाव में कोई कार्य करना
  7. गलत आदतें
  8. दिनचर्या

मानसिक थकान से कैसे बचाव करें | How to Prevent Mental Tiredness

  • सकारात्मक सोचे | Think Positive – नकारात्मक सोच से हमारे शरीर के स्वास्थ और कार्य क्षमता पर असर पड़ता हैं जिसके कारण हम अपने कार्य को सफलता पूर्वक नहीं कर पाते हैं, इसलिए अपनी सोच को सकारात्मक रखे. अच्छी किताबे, अच्छे ब्लॉग पढ़े, अच्छे लोगो से बाते करे और सात्विक जीवन जीने का प्रयास करें. इससे आप मानसिक थकान से बचेंगे और आपका दिमाग भी सही दिशा में सुचारू रूप से कम करेगा जिससे आप अपने जीवन के लक्ष्य को आसानी से पा सकेंगे.
  • उचित आहार ले और व्यायाम, योग करें | Have a Good Diet and do Exercise or Yoga – मानसिक थकान से बचने के लिए जरूरी हैं कि आप उचित आहार ले और व्यायाम या योग जरूर करें. स्वस्थ होंगे तो ख़ुश होंगे, खुश होंगे. ख़ुश होने से मन और दिमाग को ऊर्जा मिलती हैं जो मानसिक थकान को कम करता हैं.
  • चिंतन करें, चिंता न करें | Contemplate, do not worry – चिंता चिता के समान होता हैं. ज्यादा चिंता करने से या किसी विषय पर जरूरत से ज्यादा सोचने पर हम मानसिक रूप से थकान महसूस करते हैं. अगर कोई समस्या हैं तो उसपर चिंता न करके उसका हल ढूंढें.
  • मोबाइल, लैपटॉप और टेलीविज़न से दूरी बनाएं | Try to reduce use of Mobile, Laptop and Television – मोबाइल, लैपटॉप, टेलीविज़न आदि इलेक्ट्रोनिक चीजें हमारे जीवन का अहम हिस्सा बन चुकी हैं. इन इलेक्ट्रोनिक उपकरणों पर लोग अपना बहुत सारा समय बर्बाद कर देते हैं जिसकी वजह से अपने काम पर फोकस नही कर पाते और मानसिक तनाव और थकान के शिकार होते हैं. इनका ज्यादा उपयोग करने से कभी-कभी आँखों और सिर में दर्द भी होने लगता हैं, जिसके कारण भी हम मानसिक थकान महसूस करते हैं. जरूरत से ज्यादा इनका प्रयोग न करें.
  • रिश्तों को सम्भालें | Respect the Relationship – रिश्तों की अहमियत को समझे और ख़राब रिश्तें बनाने से बचें क्योकि इसका सीधा असर हमारे इमोशन पर पड़ता हैं, इसके कारण भी मानसिक तनाव और थकान होता हैं. आपनी बातों को माँ-बाप, दोस्त, बहन, भाई आदि से शेयर करें और जरूरत पड़ने पर सलाह भी ले.
  • दबाव में कोई कार्य न करें | Do not work under pressure – वहीं कार्य करे जो आपको ख़ुश रखे. यदि आप नाख़ुश होकर काम करेंगे तो आपका मानसिक थकान और तनाव ही बढ़ेगा.
  • गलत आदतें | Bad Habits – जो आदतें आपके समय को बर्बाद करें या आपके स्वास्थ को हानि पहुंचायें ऐसी आदतों को तुरंत छोड़ दे क्योकि इससे मानसिक थकान और तनाव ही बढ़ेगा. गलत आदतें हर किसी व्यक्ति में होती हैं इसे तुरंत छोड़ा भी नही जा सकता हैं लेकिन प्रयास करके इसमें सुधार लाया जा सकता हैं.
  • दिनचर्या | Daily Routine – सही दिनचर्या न होने से भी मानसिक थकान और तनाव बढ़ता हैं. सोने और खाने का समय सही होना चाहिए. आपनी दिनचर्या में व्यायाम या योग को जरूर शामिल करें. प्रतिदिन कुछ नया पढ़ने या सीखने का प्रयास करें.

ऊपर दिए गये उपायों का अनुसरण करते हैं तो आप निश्चित ही मानसिक तनाव और थकान से बच सकेंगे और अपने जीवन के लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे.