Olympics History in Hindi | ओलंपिक्स का इतिहास हिंदी में

Olympics History, Ideal and Interesting Facts – ओलम्पिक खेल वर्तमान समय की प्रतियोगिताओ में अग्रणी खेल प्रतियोगिता हैं जिसमे हजारों एथलीट कई प्रकार के खेलों में भाग लेते हैं. ओलम्पिक की प्रतियोगिताओं में 200 से ज्यादा देश प्रतिभागी के रूप में शामिल होते हैं.

प्राचीन ओलम्पिक खेल यूनान के ओलम्पिया शहर में 776 ईसा पूर्व में प्रारम्भ हुआ. पहली बार यह खेल ग्रीक देवता ज्यूस के सम्मान में खेला गया. ये खेल तब से चार वर्षो में एक बार 394 ई. तक खेले गये, फिर रोम के राजा थियोडोसियस के आदेश के कारण इन खेलो का आयोजन बंद कर दिया गया.

आधुनिक ओलम्पिक खेल प्रतियोगिता का प्रारंभ 1896 ई. को फ्रांस के “बैरोन पियरे डि कोबार्टिन” के प्रयासों से यूनान के एथेंस शहर में हुआ. इसका आयोजन भी प्रत्येक चार वर्ष के अंतराल पर किया जाता हैं. अन्तराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति की स्थापना 1894 ई. में सखोन नामक स्थान पर हुई थी. इसका मुख्यालय लोसाने (स्विट्ज़रलैंड) में हैं. अन्तराष्ट्रीय ओलम्पिक समिति ओलम्पिक खेलों को संचालित करने वाली संस्था हैं. इस समीति की एक कार्यकारिणी होती है, जिसमें एक अध्यक्ष, तीन उपाध्यक्ष तथा सात अन्य सदस्य होते हैं. यह संस्था ओलम्पिक खेलों का स्थान, नियम, संचालन आदि निर्धारण करती हैं.

Olympics ideal | ओलम्पिक के आदर्श

प्राचीन काल में योद्धा-खिलाडियों के बीच, शांतिपूर्ण समय अंतराल के दौरान योद्धाओ के बीच प्रतिस्पर्धा के साथ खेलों का विकास हुआ जो बाद में चलकर ओलम्पिक खेल का रूप ले लिया.

Olympic Flag | ओलम्पिक ध्वज

बैरोन पियरे डि कोबार्टिन के सुझाव पर 1913 ई. में ओलम्पिक ध्वज का सृजन हुआ. जून 1914 में इसका बढ़िया उद्घाटन पेरिस में हुआ और इस ध्वज को सर्वप्रथम 1920 ई. के एंटवर्प ओलम्पिक में फहराया गया. ध्वज का बैकग्राउंड सफ़ेद हैं. सिल्क के बने ध्वज के मध्य में ओलम्पिक प्रतीक के रूप में पांच रंगीन चक्र एक-दुसरे से मिले हुए दर्शाएँ गये हैं, जो विश्व के पाँच महाद्वीपों के प्रतिनिधित्व करने के साथ ही निष्पक्ष एवं मुक्त स्पर्धा का प्रतीक हैं.

  1. नीला चक्र – यूरोप
  2. पीला चक्र – एशिया
  3. काला चक्र – अफ्रीका
  4. हरा चक्र – आस्ट्रेलिया
  5. लाल चक्र – उ. एवं द. अमेरिका

Olympic Moto | ओलम्पिक का उद्देश्य

सन् 1897 में फ़ादर डिडोन द्वारा रचित सिटियस, अल्टियस, फोर्टीयस (Citius, Altius, Fortius) लैटिन में ओलम्पिक के उद्देश्य हैं जिनका अर्थ हैं तेज, ऊँचा और बलवान. इसको ओलम्पिक के उद्देश्य के रूप में पहली बार 1920 में एंटवर्प (बेल्जियम) ओलम्पिक खेलों में प्रस्तुत किया गया.

Olympic Flame | ओलम्पिक फ्लेम

ओलम्पिक मशाल जलाने की प्रथा की शुरूआत 1928 ई. के एम्सटर्डम ओलम्पिक से हुई. सन् 1936 में बर्लिन ओलम्पिक खेलों में मशाल के वर्तमान स्वरूप को अपनाया गया. इस समय से ओलम्पिक मशाल को आयोजन स्थल तक लाने का प्रचलन प्रारम्भ हुआ. इस मशाल को खेल शुरू होने के कुछ दिन पूर्व यूनान को ओलम्पिया में “हेरा मंदिर” के सामने सूर्य की किरणों से प्रज्वलित किया जाता हैं और वहाँ से आयोजन-स्थल तक विभिन्न खिलाडियों द्वारा लाई जाती हैं. इसी मशाल से खेल समारोह विशेष की मशाल प्रज्वलित की जाती हैं.

Olympic Medals | ओलम्पिक पदक

ओलम्पिक खेलों में विजेताओ को तीन प्रकार के पदक दिए जाते हैं – स्वर्ण, रजत एवं कास्य. स्वर्ण पदक 60 मिमी वृत्त में एवं 3 मिमी मोटा होता हैं. यह 92.25% रजत परतयुक्त 6 ग्राम सोने का होता हैं. रजत पदक 60 मिमी वृत्त में एवं 3 मिमी मोटाई वाला होता हैं. यह 92.5% रजत का बना होता हैं. कांस्य पूरी तरह कांस्य से बना होता हैं. स्वर्ण, रजत और कास्य पदक क्रमशः प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पर आने वाले खिलाडियों को मिलता हैं.

Olympic Games Interesting Facts | ओलंपिक खेलों के दिलचस्प तथ्य

  1. ओलम्पिक खेल समारोह में शुभंकर की परम्परा वर्ष 1968 के मैक्सिको सिटी ओलम्पिक से प्रारंभ हुई.
  2. ओलम्पिक खेलों का टीवी पर विस्तृत प्रसारण 1960 ई. के रोम ओलम्पिक खेलों में प्रारम्भ हुआ.
  3. ओलम्पिक के उद्घाटन समारोह में मार्च-पास्ट में यूनान की टीम सबसे आगे एवं मेजवान देश की टीम सबसे पीछे रहती हैं. बाकी देशों की टीमों का स्थान अंग्रेजी वर्णमाला के अक्षरों के क्रम में निश्चित होती हैं.
  4. 1972 में म्यूनिख अलोम्पिक में फिलीस्तीनी आतंकवादी हमले में ग्यारह इजरायली एथलीट मारे गये थे.
  5. एक ही ओलम्पिक में सार्वधिक स्वर्ण पदक जीतने वाले पुरूष खिलाड़ी यू. एस. ए. के तैराक माइकल फेल्प्स हैं.
  6. गोल्डन शार्क‘ के नाम से प्रसिद्ध फेल्प्स ने 2008 के बीजिंग ओलम्पिक में तैराकी की विभिन्न स्पर्धाओं में आठ स्वर्ण पदक जीते. स्लेप्स ने 2004 के एथेंस ओलम्पिक में भी 6 स्वर्ण एवं दो कस्य पदक जीते थे.
  7. फेल्प्स से पहले एक ही ओलम्पिक में सार्वधिक साथ स्वर्ण पदक जीतने का रिकॉर्ड यू. एस. ए. के मार्क स्पिट्ज का था जिसने 1972 के म्यूनिख ओलम्पिक में तैराकी की विभिन्न प्रतियोगिताओ में साथ स्वर्ण पदक जीते थे.
  8. महिलाओं की ओलम्पिक खेलों में भागीदारी 1900 ई. द्वितीय ओलम्पिक खेलों से हुई.
  9. ओलम्पिक खेलों में भाग लेने वाली प्रथम भारतीय महिला खिलाड़ी “मेरी लीला रो” हैं.
  10. एक ही ओलम्पिक में सार्वधिक स्वर्ण पदक जीतने वाली महिला खिलाडी “क्रिस्टीना ओटी” हैं. 1996 के सियोल ओलम्पिक में क्रिस्टीना ओटी ने तैराकी में 6 स्वर्ण पदक जीती थी.