Maldives in Hindi | मालदीव के बारें में रोचक जानकारियाँ

Maldives in Hindi

History of Maldives in Hindi ( मालदीव का इतिहास ) – मालदीव अनेक द्वीपों से मिलकर बना हैं, हिंद महासागर में स्थित एक द्वीप देश है और यह भारतीय उप-महाद्वीप के निकट स्थित हैं. आज हम मालदीव देश की रोचक जानकारियों के बारें में बात करेंगे.

मालदीव की संक्षिप्त जानकारी | Information of Maldives Capital, Currency and more

मालदीव की जनसँख्या ( Maldives Population ) – 396,334 (2009 की जनगणना के अनुसार)
मालदीव की राजधानी ( Maldives Capital ) – माले
भाषा ( Maldives Language ) – दिवेही
प्रमुख धर्म – इस्लाम
प्रमुख निर्यात – मछली, वस्त्र
मुद्रा ( Maldives Currency ) – मालदिवियन रूफिया ( 1रूफिया = 100 लारी)
दूरभाष कोड – +960
यूनाइटेड किंगडम से स्वतंत्र – 26 जुलाई 1965
क्षेत्रफल – 298 वर्ग किलोमीटर

मालदीव के बारें में रोचक जानकारियाँ | Interesting Facts about Maldives in Hindi

  1. जनसंख्या और क्षेत्रफल की दृष्टि में मालदीव एशिया का सबसे छोटा देश हैं.
  2. मालदीव की राजधानी “माले” हैं. यह मालदीव का सबसे बड़ा शहर हैं और लगभग 103,693 लोग (2006 की जनगणना के अनुसार ) रहते हैं.
  3. मालदीव दुनिया का सबसे लघुतम उच्चतम बिंदु वाला देश है.
  4. मालदीव की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से पर्यटन औ मछली पकड़ने पर आधारित हैं. पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए 70+ द्वीपों को विकसित किया गया हैं.
  5. मालदीव में 100 शादियों में से 70 के तलाक हो जाते हैं. संयुक्त राष्ट्र के अनुसार यह दर विश्व में सार्वधिक हैं.
  6. राष्ट्रपति ने 1998 में माले में आधिकारिक रूप से एक इंटरनेट कैफे का उदघाटन किया.
  7. मालदीव को आजादी 26 जुलाई 1965 को मिली और 3 साल राजशाही शासन के बाद, 11 नवम्बर 1968 को राजशाही समाप्त कर दी गयी.
  8. मालदीव गणतंत्र के पहले राष्ट्रपति इब्राहीम नासिर बने.
  9. 2004 हिंद महासागर में आए भूकंप के बाद, 26 दिसम्बर 2004 को, मालदीव सुनामी आया जिसमे मारे गए लोगों की कुल संख्या 108 थी जिनमें छह विदेशी भी शामिल थे.
  10. छोटे-से देश मालदीव के क़रीब 1100 द्वीप जो पर्यटकों को अपनी तरफ़ आकर्षित करते हैं.
  11. मालदीव को 2006 में ‘व‌र्ल्ड ट्रैवल अवा‌र्ड्स ( World Travel Awards )’ में दुनिया की ‘बेस्ट डाइव डेस्टिनेशन ( Best Dive Destination )’ के ख़िताब से नवाजा गया था।
  12. मालदीव में लगभग 6 लाख लोग प्रतिवर्ष घूमने आते हैं और यह संख्या साल-दर-साल बढ़ती ही जा रही हैं.