इंतज़ार शायरी | Intezaar Shayari | Tera Intezaar Shayari

Intezaar Shayari in Hindi – इस पोस्ट में बेहतरीन इंतज़ार शायरी, Intezaar Shayari, , Intezaar Shayari 2 Lines, Intezaar Shayari Urdu, Waiting Shayari आदि दी गयी हैं. इस पोस्ट को जरूर पढ़े.

Intezaar Shayari

इश्क़ में इंतज़ार या इश्क़ के जुदाई का इंतज़ार बड़ा ही जुल्मी होता हैं. इंतजार के भी किस्से बड़े अजीब हैं जिसे आप इन शायरी के शब्दों में समझ पायेंगे.

बेस्ट इंतज़ार शायरी | Best Intezaar Shayari

बस यूँ ही उम्मीद दिलाते हैं ज़माने वाले,
कब लौट के आते हैं छोड़ कर जाने वाले।


उलफत के मारों से न पूछो आलम इन्तजार का,
पतझड़ सी हैं ज़िन्दगी ख्याल हैं बहार का.


ये इंतज़ार न ठहरा कोई बला ठहरी,
किसी की जान गई आपकी अदा ठहरी।


कैसे करे इन्तजार तेरे लौट आने का,
अभी दिल को यकीन नही हुआ तेरे चले जाने का.


पलकों पर रूका है समन्दर खुमार का,
कितना अजब नशा है तेरे इंतजार का।


मौत पर भी है यकीन उन पर भी ऐतबार हैं,
देखते हैं पहले कौन आता हैं दोना का इन्तजार हैं.


आदतन तुमने कर दिये वादे,
आदतन हमने भी ऐतबार किया,
तेरी राहों में हर बार रुककर,
हमने अपना ही इंतजार किया।


उनकी मर्जी हो तो बात करते है और एक हम हैं,
जो हर वक़्त उनकी मर्जी का ही इंतज़ार करते हैं।


उम्र-ए-दराज माँग कर लाये थे चार दिन,
दो आरज़ू में कट गए दो इंतज़ार में।


वो कह कर गया था कि लौटकर आऊँगा,
मैं इंतज़ार ना करता तो क्या करता,
वो झूठ भी बोल रहा था बड़े सलीके से
मैं एतबार ना करता तो क्या करता.