भारतीय सिनेमा की प्रथम अभिनेत्री ‘देविका रानी’

The first actress of Indian cinema

Devika Rani Biography in Hindi, The first actress of Indian cinema – देविका रानी को भारतीय सिनेमा की प्रथम अभिनेत्री कहा जाता हैं. जिस जमाने में भारतीय महिलायें घर के अंदर घूँघट में मुँह छुपाये रहती थी, तब देविका रानी ने फिल्मों (चलचित्रों) में काम करके अपने साहस को दिखाया और रूढ़िवादी विचारों से ऊपर उठकर सोचा. वर्तमान समय में लाखों महिलायें फिल्मों, नाटकों और चलचित्रों में काम कर रही हैं और विभिन्न तरीके से अपने हुनर को दिखा रही हैं.

देविका रानी की जीवनी | Devika Rani Biography in Hindi

नाम – देविका रानी ( Devika Rani )
जन्म – 30 मार्च, 1908
जन्म स्थान – वाल्टेयर नगर, आंध्रप्रदेश, भारत
पिता – कर्नल एम.एन. चौधरी
माता – लीला चौधरी
पति – हिमांशु राय
प्रसिद्ध – प्रथम भारतीय सिनेमा अभिनेत्री
समान एवं पुरस्कार – दादा साहेब फाल्के पुरस्कार, पद्मश्री
मृत्यु – 8 मार्च, 1994

देविका रानी का जन्म 30 मार्च, 1908 को हुआ. इनका सम्बन्ध विश्व प्रसिद्ध कवी श्री रविन्द्रनाथ टैगोर के वंश था. श्री टैगौर उनके चचेरे परदादा थे. 1920 के दशक में देविका रानी ने अपनी शिक्षा लंदन में ग्रहण की.

देविका रानी से सम्बन्धित अन्य तथ्य | Other Important Facts Related to Devika Rani

  1. दादासाहेब फाल्के अवार्ड ( Dadasaheb Phalke Award ) पाने वाली प्रथम महिला देविका रानी हैं.
  2. भारत की प्रथम फिल्म स्टूडियो “बाम्बे टाकीज स्टूडियो” की स्थापना देविका रानी और उनके पति हिमांशु राय ने मिलकर किया था.
  3. भारत के राष्ट्रपति ने 1958 में देविका रानी को पद्मश्री सम्मान प्रदान किया.
  4. अशोक कुमार, दिलीप कुमार, मधुबाला जैसे महान कलाकारों ने बांबे टाकीज़ में काम कर चुके है.
  5. अछूत कन्या, किस्मत, शहीद, मेला जैसे लोकप्रिय फिल्मों का निर्माण बाम्बे टाकीज में हुआ हैं. ‘अछूत कन्या’ उनकी बहुचर्चित फिल्म रही है क्योंकि इस फिल्म में एक अछूत कन्या और एक ब्राह्मण युवा के प्रेम पर आधारित थी.
  6. देविका रानी 1940 में, विधवा हो गई. पति के मौत और बाम्बे टाकीज छोड़ने के बाद देविका रानी लगभग टूट सी गई थी.
  7. रूसी चित्रकार स्वेतोस्लाव रॉरिक के साथ 1945 में शादी कर लिया और बंगलौर में जाकर बस गईं.