APJ Abdul Kalam Biography in Hindi | एपीजे अब्दुल कलाम बायोग्राफी हिंदी में

Dr. APJ Abdul Kalam Biography, Books and Achievement – डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम (पूरा नाम – अबुल पकिर जैनुलाब्दीन अब्दुल कलाम हैं). इन्होने एक वैज्ञानिक और विज्ञान के व्यवस्थापक के रूप में चार दशकों तक तक Defense Research and Development Organization – DRDO (रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन – डीआरडीओ) और Indian Space Research Organization – ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन – इसरो) संभाला व भारत के नागरिक अंतरिक्ष कार्यक्रम और सैन्य मिसाइल के विकास के प्रयासों में भी शामिल रहे. इन्हें “मिसाइल मैन” के नाम से भी जाना जाता हैं.

डॉ. अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को धनुषकोडी गाँव (रामेश्वरम, तमिलनाडु) में एक मुस्लिम परिवार में हुआ. इनके पिता जैनुलाब्दीन कम पढ़े-लिखे और अमीर भी नही थे. इनके पिता मछुआरों को नाव किराये पर दिया करते थे. डॉ. अब्दुल कलाम को लेकर परिवार में कुल पाँच भाई-बहन थे. इनके पिता कम पढ़ें-लिखे थे लेकिन उनके लगन और उनके दिए संस्कार अब्दुल कालम के बहुत काम आयें.

Dr. APJ Abdul Kalam Short Biography | डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम संक्षिप्त बायोग्राफी

नाम – डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम (Dr. APJ Abdul Kalam)
जन्म – 15 अक्टूबर 1931
जन्म स्थान – धनुषकोडी गाँव (रामेश्वरम, तमिलनाडु)
मृत्यु – 27 जुलाई 2015 (उम्र 83)
माता का नाम – आसिमा जैनुलाब्दीन
पिता का नाम – जैनुलाब्दीन
कॉलेज (जहाँ पढाई की) – सेंट जोसेफ कॉलेज, तिरुचिरापल्ली मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
धर्म – इस्लाम
पुरस्कार व सम्मान – भारत रत्न, पद्म विभूषण और बहुत सारे

Personal life of Dr. Abdul Kalam | डॉ. अब्दुल कलाम का व्यक्तिगत जीवन

डॉ. अब्दुल कलाम अपने व्यक्तिगत जीवन में पूरी तरह अनुशासन का पालन करते थे. यह भी कहा जाता है कि वे भगवद्गीता और कुरआन दोनों को पढ़ते थे. भारत को एक ‘महाशक्ति’ बनते देखना उनकी दिली तमन्ना थी. उन्होंने कई प्रेरणादायक पुस्तकों की रचना की. टेक्नोलॉजी को वो जनसाधरण तक पहुँचाना चाहते थे. बच्चों और युवाओं के बीच डॉ. अब्दुल कलाम बहुत ही लोकप्रिय हैं. उनका सरल स्वभाव और ऊँची सोच, हर दिल को उत्साह और प्रेरणा से भर देता हैं.

Books of Dr. Abdul Kalam| डॉ. अब्दुल कलाम की किताबें

कलाम जी ने अपने विचारों और जीवन के अनुभव को इन किताबों में बड़े ख़ूबसूरत तरीके से लिखा है. इनकी पुस्तकें कई भारतीय और विदेशी भाषाओं में अनुवाद किया गया हैं. डॉ. अब्दुल कलाम इ प्रमुख पुस्तकें निम्न हैं –

  • इण्डिया 2020 ए विज़न फ़ॉर द न्यू मिलेनियम
  • माई जर्नी

चिंतनपरक

  • इग्नाटिड माइंड्स- अनलीशिंग द पॉवर विदिन इंडिया
  • इंडिया- माय-ड्रीम
  • एनविजनिंग अन एमपावर्ड नेशन: टेक्नालजी फार सोसायटल ट्रांसफारमेशन

आत्मकथाएं

  • विंग्स ऑफ फायर: एन आटोबायोग्राफी ऑफ एपीजे अब्दुल कलाम
  • साइंटिस्ट टू प्रेसिडेंट

Awards and Honors | पुरस्कार एवं सम्मान

डॉ. अब्दुल कलाम के 79 वें जन्मदिन को संयुक्त राष्ट्र द्वारा “विश्व विद्यार्थी दिवस” के रूप में मनाया गया था, इसके अलावा उन्हें लगभग 40 विश्वविद्यालयों द्वारा मानद डॉक्टरेट की उपाधियाँ प्रदान की गयी थी. वर्ष 2005 में, स्विट्ज़रलैंड की सरकार ने डॉ. अब्दुल कलाम के स्विट्ज़रलैंड आगमन के उपलक्ष्य में 26 मई को विज्ञान दिवस घोषित किया.

वर्ष – सम्मान / पुरस्कार

1981- पद्म भूषण
1990 – पद्म भूषण
1994 – विशिष्ट शोधार्थी
1997 – भारत रत्न
1997 – इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय एकता पुरस्कार
1998 – वीर सावरकर पुरस्कार
2000 – रामानुजन पुरस्कार
2007 – डॉक्टर ऑफ साइन्स की मानद उपाधि
2007 – किंग चार्ल्स II मेडल
2007 – डॉक्टर ऑफ साइन्स एण्ड टेक्नोलॉजी की मानद उपाधि
2008 – डॉक्टर ऑफ साइन्स (मानद उपाधि)
2008 – डॉक्टर ऑफ इन्जीनियरिंग (मानद उपाधि)
2009 – वॉन कार्मन विंग्स अन्तर्राष्ट्रीय अवार्ड
2009 – हूवर मेडल
2009 – मानद डॉक्टरेट
2010 – डॉक्टर ऑफ इन्जीनियरिंग
2011 – आई. ई. ई. ई. मानद सदस्यता
2012 – डॉक्टर ऑफ़ लॉज़ (मानद उपाधि)
2014 – डॉक्टर ऑफ़ साइन्स