25 वास्तु टिप्स घर के लिए | 25 Vastu Tip for Home

25 Vastu Tip for Home (25 वास्तु टिप्स घर के लिए) –  वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन में बड़ा ही महत्व हैं. वास्तु शास्त्र कही-न-कही विज्ञान से भी जुड़ा हैं जो हमारे जीवन को प्रभावित करता हैं इसलिए घर में सही दिशा और सही जगह सामान को रखने से सकारात्मक उर्जा का संचार होता हैं और घर में सुख-समृद्धि आती हैं. इसमें से बहुत सारे वास्तु टिप्स बड़े ही आसान होते हैं जिसे आप आसानी से कर सकते हैं.

वास्तु टिप्स घर के लिए (Vastu Tip for Home)

  1. घर के ठीक सामने पेड़, पानी की टंकी, कुआं और नल आदि नही होना चाहिए. इससे घर में सकारात्मक उर्जा के आगमन में बाधा होती हैं. इन चीज़ो का घर के सामने होना अशुभ होता हैं क्योकि ऐसा माना जाता हैं कि बच्चो को ऐसे जगहों से ख़तरा भी हो सकता हैं. बच्चे इन चीज़ो के पास खेलना ज्यादा पसंद करते हैं.
  2. सोने वाले कमरे में इस प्रकार व्यवस्था होनी चाहिए कि सोते वक्त “पैर उत्तर” में और “सिर दक्षिण” दिशा की ओर हो.
  3. घर की छत पर कूड़ा, बेकार, टूटे-फूटे सामान को न रखे. घर की छत को हमेशा साफ़ रखे.
  4. यदि मकान के सामने कोई फलदार वृक्ष (उदाहरण के लिए – केला, पपीता या अनार) हैं तो उसे सूखने न दे. ऐसे फलदार वृक्ष जो घर के सामने सूख रहे हो या फल नही देते हैं तो इससे घर के महिला सदस्यों को बांझपन की समस्या हो सकती हैं. माकन के सामने फूल का पेड़ लगाना शुभ होता हैं.
  5. सोते वक्त शीशा देखना अशुभ माना जाता हैं इसलिए शयनकक्ष में शीशा को इस तरह नही रखना चाहिए जिसमे आप दिखते हो.
  6. घर में चप्पल और जूते को सीधा रखना चाहिए. उलटे चप्पल और जूतों को अशुभ माना जाता हैं. चप्पल और जूतों को मंदिर और रसोईघर के आस-पास नही रखना चाहिए. इससे स्वास्थ सम्बन्धी समस्या हो सकती हैं और इसे अशुभ भी माना जाता हैं.
  7. झाडू को मंदिर और रसोईघर के आस-पास नही रखना चाहिए.
  8. सोने वाले कमरे में तिजोरी को दक्षिण-पश्चिम दिशा के भाग में रखना शुभ माना जाता हैं. इससे सौभाग्य की प्राप्ति होती हैं.
  9. मकान के बीच का स्थान ब्रम्हास्थान माना जाता हैं इसलिए सदा ऐसे जगह को खाली और साफ़ रखे. अधिकत्तर मकानो में आँगन को बीच का स्थान माना जाता हैं.
  10. घर में महाभारत, श्मशान, कब्रिस्तान, मृत जानवरों के चर्म, ताजमहल से सम्बन्धित सामन या चित्र नही लगाना चाहिए. यह अशुभ होता हैं और इनसे नकारात्मक उर्जा का संचार होता हैं. आप घर में गणेश, लक्ष्मी, सरस्वती और कृष्ण के चित्र जरूर लगाये.
  11. मकान में बच्चो का कमरा उत्तर-पूर्व दिशा में रखना शुभ होता हैं यदि बच्चो के पढने का कमरा अलग हैं तो वह दक्षिण दिशा में में रखना शुभ होता हैं. पढने वाले कमरे में गणेश या सरस्वती जी की चित्र या मूर्ति होनी चाहिए. कमरे के दीवारों का रंग हल्का रखना चाहिए और कमरे में अनावश्यक सामान को न रखे. पढाई से सम्बंधित सामग्री रखे.
  12. वास्तु शास्त्र के अनुसार पूर्व और उत्तर दिशा में मुह करके खाना शुभ माना जाता हैं. खाते वक्त कम या बिल्कुल भी नही बोलना चाहिए.
  13. खाने में उतना ही भोजन लेना चाहिए जितना आप खा सके. खाने को छोड़ना या फ़ेकना अन्नपूर्णा का अपमान होता हैं. इससे धन और स्वास्थ की हानि होती हैं. कभी-भी भोजन का अपमान न करे.
  14. वास्तु शास्त्र के अनुसार सोते वक्त पैर दरवाजे की तरफ नही होना चाहिए.
  15. किचन या रसोईघर में रात को गंदे बर्तन नही छोड़ना चाहिए. इसे अशुभ माना जाता हैं. रसोईघर के बर्तन को रात में हमेशा साफ़ करके रखना चाहिए. इससे घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होता है.
  16. टॉयलेट और स्नानघर दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर बनाए. इससे लाभ-ही-लाभ मिलेगा.
  17. अपने दस्तावेज या जरूरी कागज को हमेशा पूर्व-उत्तर दिशा की ओर रखे. इससे आपको कार्य में जल्दी सफलता मिलेगी.
  18. वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में पूजा स्थान पूर्व और उत्तर दिशा में होना शुभ माना जाता हैं. यदि मकान में पूजा घर हैं तो प्रतिदिन पूजा अवश्य करे. इससे घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होता हैं.घर में देवस्थान की दीवार से शौचालय की दीवार का सम्पर्क नही होना चाहिए.
  19. मकान की पूर्व-उत्तर दिशा को खाली रखे. यहाँ पर भारी वस्तु न रखे. मकान के दक्षिण-पश्चिम दिशा में भारी समान रखे.
  20. मकान के ईशान कोण (उत्तर-पूर्व दिशा का कोना या बीच का भाग) में टॉयलेट न बनवाएँ. इस स्थान को हमेशा साफ़ और पवित्र रखे क्योकि ईसान कोण भगवान शिव और वास्तुदेव का मस्तिष्क माना जाता हैं.Vastu Tips Disha and Kon
  21. रसोईघर दक्षिण-पूर्व में होना चाहिए. जब आप खाना बनाएं तो आपका मुंह पूर्व दिशा की ओर रहे. क्योकि आपका मुख अग्नि कोण की तरफ होंगा. इससे आपके भाग्य में वृद्धि होती हैं. आपके पूरे परिवार को शुख समृद्धि प्रदान करता हैं.
  22. घर में आप वास्तु-दोष निवारण यंत्र का प्रयोग कर सकते हैं, इससे घर में सकारत्म उर्जा का संचार होता हैं और घर-परिवार में समृद्धि आती हैं.
  23. मकान में हवा और प्राकृतिक रौशनी आनी चाहिए. यदि घर पर सूर्य की पहली किरण पड़े तो इसे शुभ माना जाता हैं और इससे घर में खुशिया आती हैं. इससे हृदय में सकारात्मक उर्जा का संचार होता हैं.
  24. घर के आस-पास किसी छायादार जगह पर थोडा-सा अनाज और पानी रख देना चाहिए जिसे चिड़िया और छोटे कीड़े-मकोड़े खाकर अपनी भूख मिटा सके. इससे पुण्य मिलता हैं और घर-परिवार सुख-समृद्धि आती हैं.
  25. घर में मकड़ी के जाले का होना अशुभ माना जाता हैं. घर को हमेशा साफ़ रखे.
  26. घर में सभी कमरों का ईशान कोण हल्का खाली और साफ़ रखने से धन, स्वास्थ और समृद्धि बढती हैं.